शहर में भी कटने लगी महिलाओं की चोटी - दैनिक जागरण

जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: चोटी कटने की शिकायतें गांवों से होती हुई अब शहर की कॉलोनियों में भी सामने आने लगी हैं। रविवार को देवीलाल कॉलोनी, शीतला कॉलोनी एवं सूरत नगर इलाके में कई महिलाओं की चोटी रात में कट गई। इससे इलाके में दहशत फैल गई है। शीतला कॉलोनी निवासी रानी एवं सोनिया की चोटी कटने की बात सामने आई है। दोनों की चोटी रात में सोते वक्त कटी। सुबह जब नींद खुली तो तकिया के नीचे बाल पड़े थे। इसे देखकर दोनों के होश हड़ गए। इससे इलाके में खासकर महिलाओं में हड़कंप मचा हुआ है। कुछ महिलाओं ने तो बाल कटवा लिए हैं। हालांकि, इलाके के अधिकतर लोग इसे अंधविश्वास ...

महिला की चोटी कटने का एक और मामला आया सामने - अमर उजाला

महिलाओं की चोटी कटने का मामला ग्रामीण आंचल के बाद अब शहरी क्षेत्रों में भी सामने आने लगा है। जिले के गांव सिलानी, हसनपुर, खोरडा, दूबलधन माजरा के बाद सोमवार को शहर की छावनी मोहल्ले से भी मामला सामने आया है। जिसके चलते शहर की महिलाओं में भी दहशत का माहौल है और शहरवासी टोटकों का सहारा ले रहे है। शहर के विभिन्न क्षेत्रों में महिलाएं मेंहदी के थापे अपने घरों के बाहर लगा रही हैं तो कोई नीम के पते और कोई नींबू भी अपने दरवाजों पर लटका रही हैं। पीड़ित महिला ने बताया कि सुबह अचानक उसकी चोटी कट गई और पीछे मुड़ कर देखा तो पीछे बिल्ली दिखाई दी है। वहीं एक अन्य मोहल्ला ...

महिलाओं में चोटी काटने की अफवाह, कांगनहेड़ी में पुलिस खाली हाथ - देशबन्धु

राजधानी की महिलाओं में चोटी और बाल कटने की अफवाहें बहुत तेजी से फैल रही हैं और हरियाणा के इलाकों से अब यह दिल्ली के बाहरी इलाकों में भी सुनाई दे रही हैं... देशबन्धु ब्यूरो. July 31,2017 11:40. Share: AddThis Sharing Buttons. Share to Facebook Share to WhatsApp Share to Twitter Share to Google+ Share to LinkedIn. महिलाओं में चोटी काटने की अफवाह, कांगनहेड़ी में पुलिस खाली हाथ. Rumor. हाइलाइट्स. तीन मामलों में महिलाओं ने दर्ज करवाया है मुकदमा. आज भी लोगों ने पुलिस में दी सूचनाएं. नई दिल्ली। राजधानी की महिलाओं में चोटी और बाल कटने की अफवाहें बहुत तेजी से फैल रही हैं और हरियाणा के इलाकों से अब ...

दिल्ली: महिलाओं की कट रही चोटियां, गांव में दहशत और सन्नाटा - Hindustan हिंदी

छावला के गांव कांगनहेड़ा में सोमवार दहशत लेकर आया। रविवार की पूरी रात जागने के बाद यहां के युवा, बुजुर्ग और बच्चे सब डरे हुए हैं। सबसे ज्यादा दहशत महिलाओं में है। एक दिन पहले गांव में रहस्यमयी ढंग से तीन महिलाओं की चोटियां कट गईं। सोमवार को गांव में छोटी-छोटी बच्चियों से लेकर बुजुर्ग महिलाएं किसी ने बालों में चोटी नहीं गूथी। इक्का-दुक्का को छोड़कर महिलाएं जूड़ा पहनकर और बालों में कपड़ा बांधकर घरों में कैद हैं। गांववालों में तांत्रिक शक्तियों से लेकर अलग-अलग तरह की आपराधिक गतिविधियों को लेकर कयास लगाए जा रहे हैं। हिन्दुस्तान की टीम ने सोमवार को पूरी शाम ...

- जिले में अभी तक कट चुके हैं 15 महिलाओं के बाल - दैनिक जागरण

महिलाओं की चोटी (बाल) कटने की घटनाओं के मामले में अफवाहें व अंधविश्वास दोनों चरम पर हैं। जिन महिलाओं के साथ इस प्रकार की घटनाएं घटित हो रही हैं, वे अलग-अलग दावे करती हैं। कोई किसी महिला को देखने की बात कहती है, तो कोई बिल्ली को देखने की। अधिकांश मामलों में दावा किया जाता है कि महिलाएं बेहोश हो जाती हैं, लेकिन किसी भी मामले में घटना की शिकार किसी भी महिला को अस्पताल तक नहीं ले जाया गया। चोटी कटने की घटनाओं को सोशल मीडिया पर भी मसाला लगाकर पेश किया जा रहा है। चोटी कटने की घटनाएं राजस्थान के नागौर जिले से शुरू हुई थीं। एक पखवाड़े से यह घटनाएं हरियाणा के ...

रसोई में खाना बना रही महिला की कटी चोटी - दैनिक जागरण

संवाद सहयोगी, खरखौदा: क्षेत्रवासियों के लिए महिलाओं की चोटी कटने की बातें अब सिर्फ उनके लिए कही- सुनी बातें नहीं रह गई हैं। खरखौदा के खांडा गांव में एक महिला बंटी के साथ यह घटना रविवार की शाम को घटित भी हो गई। घर में अकेली महिला जब रसोई में मौजूद थी तो उसके बाल कट गए। महिला को जैसे ही इस बात का पता चला तो उसकी चीख निकली और अगले ही पल वह बेहोश हो गई। पति ने घर आकर बेसुध पत्नी को संभाला और इसके बाद से ही उनके घर में क्षेत्रवासियों का तांता लगा हुआ है। पिछले कई दिनों से महिलाओं की चोटी कटने की बात आस पास के जिलों से सुनने को मिल रही है। इधर-उधर से आ रही सूचना में ...

फिर काटी दो महिलाओं की चोटी - राष्ट्रीय खबर

नई दिल्ली : छावला के कांगनहेड़ी गांव में महिलाओं की चोटी काटने का आतंक थमने का नाम नही ले रहा है। रविवार रात तक गांव की दो अन्य महिलाओं की भी चोटी काट ली गयी। इन घटनाओं से गांव की महिलाओं में दहशत है और महिलाएं डरी सहमी हुई हैं। तीनों ही मामलों में महिलाओं के सिर में तेज दर्द होने के बाद वह बेशुध हो जाती है और बाद में उनकी चोटी कटी हुई पड़ी मिलती है। पुलिस ने तीनों चोटी को कब्जे में कर उसे जांच के लिए भेज दिया है। हालांकि अधिकारियों का कहना है कि जिस तरह से चोटियां काटी गयी है इससे साफ तौर पर लगता है कि महिलाओं की चोटी कैंची से काटी गयी है। छावला थाना ...

महिलाओं की कटी चोटी के आतंक से हलाकान हुई पुलिस, तीनों चोटियों की जांच शुरू - अमर उजाला

छावला के कांगनहेड़ी में चोटी काटे जाने की घटनाओं से महिलाएं सहमी हुई हैं। रविवार रात तक गांव की दो अन्य महिलाओं की भी चोटी काट ली गई। कुल तीनों ही मामलों में महिलाएं सिर में तेज दर्द होने के बाद बेसुध हो गईं। बाद में उनकी चोटी कटी हुई पड़ी मिली। पुलिस ने तीनों चोटी को कब्जे में कर उसे जांच के लिए भेज दिया है। शुरूआती जांच में लग रहा है कि तीनों महिलाओं की चोटी कैंची से काटी गई है। फिलहाल छावला थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। जानकारी के मुताबिक, कांगनहेड़ी गांव की रहने वाली मुनेश की रविवार सुबह साढ़े दस बजे कमरे में चोटी कटी हुई मिली। मुनेश ...

चोटी कटी तो महिला ने कहा था-बोने ने किया ये हाल, अब ऐसे बदली कहानी - दैनिक भास्कर

पड़ताल के मुताबिक महिला के बाल किसी और के नहीं, बल्कि उसके खुद के काटे लग रहे हैं। Replay. Prev; |; View Again. चोटी कटी तो महिला ने कहा था-बोने ने किया ये हाल, अब ऐसे. +6और स्लाइड देखें. महिला की चोटी कटने के बाद गांव के लोग इकट्ठे हो गए। फतेहाबाद(हरियाणा)। पिछले काफी दिनों से हरियाणा में महिलाओं की चोटी कटने की घटनाओं का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा, वहीं रोज नए खुलासे हो रहे हैं। फतेहाबाद जिले के गांव बीघड़ में एक महिला की चोटी कटने के मामले में सोमवार को एक अजीब सी कहानी सामने आई है, जिसके चलते कथित तौर पर पीड़ित महिला खुद ही शक के दायरे में आ गई है। पुलिस ने ...

चोटी काटने के मामले में पुलिस की बढ़ी उलझन - दैनिक जागरण

जागरण संवाददाता, फिरोजपुर झिरका : राजस्थान से शुरू हुआ महिलाओं की चोटी काटने का मामला हरियाणा की नूंह जिला पुलिस के लिए सिरदर्द बन गया है। दरअसल जिले के सभी थाना क्षेत्रों में पुलिस को इस क्रम में लगातार शिकायतें मिल रही है। पुलिस ऐसे में मामला दर्ज कर जांच शुरू करना चाहती है, लेकिन संशय एक है कि पुलिस की समझ में ये नहीं आ रहा है कि वो किसे पकड़े और इन मामलों की जांच की शुरुआत कहां से और कैसे करें। सबसे ज्यादा दिक्कत फिरोजपुर झिरका पुलिस को उठानी पड़ रही है। चूंकि अधिकांश चोटी काटने के मामले फिरोजपुर झिरका में घटित हुए हैं। यहां बढ़ते मामलों से न केवल ...

हरियाणा, राजस्थान में महिलाओं की चोटी कटना जारी - Samay Live

हरियाणा के हिसार जिले तथा राजस्थान में रात को सोते वक्त महिलाओं की चोटी कटने की वारदात लगातार बढ़ती जा रही हैं और नई घटना के तहत अब हिसार के आदमपुर कस्बें में एक और महिला की चोटी कटने का मामला सामने आया है. आदमपुर गांव की एक महिला ने चोटी कटने की शिकायत थाने में कराई है जिसमें कहा गया है कि शनिवार रात वह परिवार के साथ घर के आंगन में सोई थी. सुबह जब चार बजे नींद से उठी तो उसने अचानक अपने सिर पर हाथ लगाया तो उसके बाल कटे हुए थे. मंडी आदमपुर थाना प्रभारी पवन कुमार ने बताया कि महिला की चोटी कटने की शिकायत मिली है तथा जांच की जा रही है.

महिलाओं के खुद ही कट रहे बाल, दहशत में गांव वाले - पंजाब केसरी

नई दिल्ली: हरियाणा के मेवात, गुड़गांव और झज्जर जिले के बाद अब दिल्ली के एक गांव में इन दिनों लोग दहशत में दिन गुजार रहे हैं। दरअसल यहां छावला स्थित कांगनहेड़ी गांव में एक ही दिन में तीन महिलाओं की रहस्यमय तरीके से चोटी काट ली गई। महिलाएं इस घटना के बाद इस कद्र डरी हुई हैं कि लड़कियों ने भी स्कूल जाना बंद कर दिया है। उन्हें डर है कि कही कोई उनके भी बाल न काट ले। रात को पहरेदारी कर रहे लोग ग्रामीणों के अनुसार, जिन तीन महिलाओं के साथ यह वाक्या हुआ उन्होंने बताया कि वह घर पर अकेली थी। तभी अचानक उनके सिर में काफी तेज दर्द उठा, वह अचेत हो गईं। इससे पहले कि वे कुछ समझ पातीं ...

दिल्ली के एक गांव में महिलाओं की चोटी काट जाता है 'भूत', FIR दर्ज - आज तक

राजधानी दिल्ली के एक गांव में इन दिनों एक अजीब दहशत का माहौल है. यहां छावला स्थित कांगनहेड़ी गांव में एक ही दिन में तीन महिलाओं की रहस्यमय तरीके से चोटी काटने की घटना ने पूरे गांव में खौफ पैदा कर दिया है. खौफ इस कदर कि गांव की लड़कियों ने स्कूल तक जाना बंद कर दिया है. हरियाणा के मेवात, गुड़गांव और झज्जर जिले के बाद अब दिल्ली में भी इस तरह की घटना से लोगों की नींद उड़ी हुई है. कांगनहेड़ी गांव के कुछ लोग इसे चोटी काटने वाला 'शैतान' बता रहे हैं, तो कुछ इसे अनदेखी शक्तियों से जोड़कर देख रहे हैं. दरअसल गांव में एक के बाद एक हुई तीन घटनाओं से ग्रामीण खासा सहमे हुए हैं.

राजस्थान-हरियाणा के बाद दिल्ली की महिला हुई चोटियां कटने का शिकार! - लोकतेज

नई दिल्ली (ईएमएस)। पलवल, मेवात सहित हरियाणा में कई जगहों पर महिलाओं की चोटी कटने की घटना के बाद दिल्ली के एक गांव में भी इसी तरह का एक मामला सामने आया है। महिला ने कहा कि चोटी कटने से पहले उसके सिर में तेज दर्द हुआ और वह बिस्तर पर बेसुध हो गई। होश आने पर उसने देखा कि उसकी चोटी कटी हुई है। परिजनों ने इसकी जानकारी छावला थाना पुलिस को दी। हालांकि, परिजनों ने मामले में किसी पर आरोप नहीं लगाया है। घटना से गांव में दहशत का माहौल है। मामला छावला के कांगनहेड़ी गांव का है। दिल्ली पुलिस ने अपील की है कि लोग ऐसी अफवाह से दूर रहें। यह शरारती तत्वों की करतूत है। -क्या है मामला.

यहां भूत-प्रेत रहस्यमयी तरीके से काट देते है महिलाओं के चोटी ! - प्रभात खबर

गुरुग्राम : हरियाणा पुलिस ने रविवार को बताया कि मेवात क्षेत्र के गांवों से पिछले दो सप्ताह में रहस्यमयी तरीके से महिलाओं की चोटी काटे जाने की कम से कम 15 घटनाएं सामने आयी हैं. इस तरह की विचित्र घटनाओं की वजह से गांव में दहशत का माहौल है. लोग इसे भूत-प्रेत, जादू-टोना और बिल्ली की तरह दिखने वाले जीव का काम बता रहे हैं. हालांकि पुलिस ने इन दावों को खारिज करते हुए कहा है कि यह असमाजिक तत्वों द्वारा किया गया काम है. इसी तरह की एक घटना शनिवार को गुरुग्राम में हुई. यहां अशोक विहार क्षेत्र की रहनेवाली महिला सुनीता देवी ने इस संबंध में पुलिस से संपर्क किया. महिला ने दावा ...

चोटियां अब शहरी क्षेत्र में भी कटने लगीं, पुलिस के पास नहीं की गई शिकायत - Navodaya Times

Navodayatimes नई दिल्ली/ब्यूरो। एलेक्जेंडर पोप की 'दि रेप ऑफ लॉक' यानि चोटी काटने की घटना अब शहरी क्षेत्र में भी होने लगी है। कुछ दिनों पहले ऐसी घटनाएं गुडग़ांव के दक्षिणी इलाकों पटौदी, बिलासपुर, फर्रूखनगर में थी। हाल में शहर के सेक्टर-5 इलाके में दो महिलाओं की चोटी काटने की घटना सामने आई है। वहीं दूसरी ओर शीतला माता मंदिर में भी रविवार को एक महिला की चोटी कटने की खबर आई। रोडरेज : गुडग़ांव में पत्रकार की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या. अहम यह है कि चोटी कटने के बाद दोनों महिलाएं बेहोश हो गईं। ऐसे में लोगों के बीच घटना के पीछे किसी तांत्रिक सिद्धि की भी चर्चा जोरों पर ...

यहां रहस्यमयी तरीके से कट रही है महिलाओं की चोटी, लोगों में दहशत - Nai Dunia

मेवात। पिछले दो हफ्तों में मेवात क्षेत्र के गांवों में रहस्यमय तरीके से महिलाओं की चोटियों को काटे जाने के कम से कम 15 मामले सामने आ चुके हैं। पुलिस ने बताया कि इन घटनाओं ने स्थानीय लोगों में डर पैदा कर दिया है। बताया जा रहा है कि रहस्यमय तरीके से महिलाओं की चोटी कटने के बाद ज्यादातर महिलाएं बेहोश हो गईं। ग्रामीण इन घटनाओं के लिए भगवान, भूत और चुड़ैलों को जिम्मेदार बता रहे हैं। कोई कह रहा है कि यह दैवीय प्रकोप है, तो कोई इसे काला जादू से जोड़ कर देख रहा है। हालांकि, पुलिस इन दावों को खारिज करते हुए आसामाजिक तत्वों का काम बता रही है। इन घटनाओं से निपटने के लिए ...

अब दिल्ली में भी कटीं महिलाओं की चोटियां - नवभारत टाइम्स

एनसीआर के प्रमुख इलाकों फरीदाबाद, गुड़गांव, पलवल, मेवात, बावल, रेवाड़ी में महिलाओं की चोटी काटे जाने की बढ़ती घटनाओं के बीच दिल्ली में भी रविवार को ऐसी ही घटनाएं हुईं। डरे हुए लोगों ने 'ठीकरी पहरे' शुरू कर दिए हैं। दिल्ली के छावला इलाके के कांगनहेड़ी गांव में रविवार सुबह 10:30 बजे रोशनलाल की पत्नी मुनेश (55) खेत से ज्वार काटकर आईं। थकी होने के कारण वह एक बेड पर लेट गईं। उनके सिर में दर्द था। कुछ देर बाद उन्हें लगा कि किसी ने उनका सिर जोर से पकड़ा। वह चिल्लाईं। फिर सब सामान्य हो गया। वह लेटी रहीं। कुछ देर बाद परिवार के किसी सदस्य ने फर्श पर किसी महिला की कटी हुई चोटी पड़ी ...

महिलाओं की चोटी कटने से गांव में दहशत - नवभारत टाइम्स

एक ही दिन में कांगनहेड़ी गांव में सुबह-शाम दो महिलाओं की चोटी कटने की घटनाओं के बाद गांव वाले दहशत में आ गए हैं। उन्होंने तय किया है कि रात को वे लोग पहरा देंगे ताकि किसी और महिला की चोटी न कटने पाए। पुलिस अपने स्तर पर जांच कर रही है। पुलिस का कहना है कि इन मामलों के सामने आने के बाद वह खुद हैरान है कि आखिर इस मामले की कैसे जांच करें। पुलिस इस मामले में कई एंगल से जांच में जुटी है, हालांकि अभी तक कोई एफआईआर दर्ज नहीं की गई है। इन मामलों में पुलिस सीसीटीवी कैमरों की फुटेज भी देखेगी ताकि उसे कोई क्लू मिल जाए। पुलिस इस एंगल से भी जांच कर रही है कि कहीं कोई घर वाला ही ...