दुनिया में मप्र चौथा और देश में पहला राज्य, जहां शुरू हुआ आनंद विभाग - दैनिक भास्कर

सिटी रिपोर्टर व्यक्ति अपने जोश और जज्बे से हर वो काम कर सकता है जो वो करना चाहता है। यह जज्बा लेकर जीवन जीने वाले लोग समाज और देश में अपना नाम रोशन करते हैं। जीवन में आनंद से रहो और आनंद ही बांटो। यह बात संभागीय आयुक्त एसएन रूपला ने कही। वे बुधवार को जेयू के गालव सभागार में आनंद विभाग की ओर से कराए गए आनंदम समागम कार्यक्रम में बोल रहे थे। इस अवसर पर ग्वालियर रेंज के आईजी अनिल कुमार, कलेक्टर डॉ. संजय गोयल, एसपी डॉ. आशीष, जिला पंचायत सीईओ नीरज कुमार सिंह, एडीएम और आनंद विभाग के नोडल ऑफिसर शिवराज वर्मा सहित अन्य लोग मौजूद रहे। इससे पहले कार्यक्रम की शुरुआत विक्रम ...

आनंदकों को इनिशिएटिव के लिए मिला सम्मान - Patrika

व्यक्ति अपने जोश और जज्बे से हर वह काम कर सकता है,जो वो करना चाहता है। शहर के कई युवाओं ने यह करके भी दिखाया है। ग्वालियर. व्यक्ति अपने जोश और जज्बे से हर वह काम कर सकता है, जो वो करना चाहता है। शहर के कई युवाओं ने यह करके भी दिखाया है। समय नहीं है, पैसा नहीं है और क्या करें, क्या न करें, यह कहने भर से कुछ होने वाला नहीं है। जो कुछ करना है हमें ही करना है और पूरे जतन के साथ करना है। यह जज्बा लेकर जीवन जीने वाले लोग समाज में और देश में अपना नाम रोशन करते हैं। यह बात कमिश्नर एसएन रूपला ने बुधवार को जीवाजी यूनिवर्सिटी के गालव सभागार में आनंदम समागम कार्यक्रम के दौरान कही।

“आनंदम् समागम” कार्यक्रम सम्पन्न जीवन में आनंद से रहें और आनंद बांटे – संभाग आयुक्त श्री रूपला, 11 देशों की यात्रा कर लौटे श्री हितेन्द्र शर्मा - Today India

व्यक्ति अपने जोश और जज्बे से हर वो काम कर सकता है जो वो करना चाहता है। ग्वालियर शहर के कई युवाओं ने यह करके भी दिखाया है। समय नहीं है, पैसा नहीं है और क्या करें, क्या न करें, यह कहने भर से कुछ होने वाला नहीं है। जो कुछ करना है हमें ही करना है और पूरे जतन के साथ करना है। यह जज्बा लेकर जीवन जीने वाले लोग समाज में और देश में अपना नाम रोशन करते हैं। उक्त विचार संभागीय आयुक्त श्री एस एन रूपला ने बुधवार को जीवाजी विश्वविद्यालय के गालव सभागार में आनंद मंत्रालय द्वारा आयोजित “आनंदम् समागम” कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में व्यक्त किए। कार्यक्रम की अध्यक्षता ग्वालियर के ...