सबसे बड़ा सुधार - दैनिक जागरण

जीएसटी इतने अधिक लोगों का ध्यान इसलिए खींच रहा है, क्योंकि वह उनसे सीधा जुड़ा है। वस्तु एवं सेवा कर यानी जीएसटी आजादी के बाद संभवत: पहला ऐसा आर्थिक सुधार है जिस पर व्यापक रूप से इतनी चर्चा हो रही है। 1991 के ऐतिहासिक सुधारों पर एक सीमित वर्ग ने ही गौर किया था। 1990 के दशक की शुरुआत में कराए गए विभिन्न सर्वेक्षणों के अनुसार आबादी के एक बहुत बड़े तबके को उन सुधारों की कोई भनक ही नहीं थी या यूं कहें कि देश का एक बहुत बड़ा हिस्सा उन सुधारों से अनभिज्ञ था। इसके बाद अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार के समय किए गए तमाम दूरगामी सुधारों की भी सुधि तमाम जानकारों ने नहीं ली जबकि ...

जीएसटी से देश की अर्थ व्यवस्था पकड़ेगी गति - दैनिक जागरण

जासं भभुआ, कैमूर : कई वर्षों की प्रतीक्षा के बाद देश भर में शनिवार से गुड्स एंड सर्विस टैक्स जीएसटी लागू होने जा रहा है। लोक सभा और राज्य सभा में विभिन्न संशोधनों के बाद इस बिल पर देश की बीस राज्य विधान सभा ने मुहर लगाई है। फिर भी आम लोगों में जीएसटी को लेकर कई तरह की उलझन बनी हुई है। कोई इसे किसानों के लिए उपेक्षित मानता है तो कोई आम लोगों के लिए फायदेमंद। जीएसटी को कुछ लोगों ने जीएसटी को आमलोगों के हित में बताया तो कुछ छात्रों ने इसमें खामियों को उजागर किया। लेकिन आम उम्मीद यही है कि जीएसटी से अर्थव्यवस्था को गति मिलेगी। जीएसटी प्लस-माइनस .आम आदमी को ...

VIDEO: जानिए कैसे जीएसटी से रुकेगी टैक्स चोरी, क्या होगा इसका देश पर असर - Jansatta

जिन देशों में भी जीएसटी के जरिए टैक्स वसूला जा रहा है वहां अर्थव्यवस्था मजबूत स्थिति में है। जिन देशों में भी जीएसटी लागू किया गया वहां की अर्थव्यवस्था में 2 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी देखने को मिली है। Author जनसत्ता ऑनलाइन July 1, 2017 01:01 am. 0. Shares. Facebook · Twitter · Google Plus · Whatsapp. जीएसटी के तहत 20 लाख तक का व्यापार करने वालों को जीएसटी से मुक्ति मिलेगी। जीएसटी यानी गुड्स एंड सर्विस टैक्स 30 जून की मध्यरात्रि से जम्मू-कश्मीर को छोड़कर देश भर में लागू हो चुका है। इसके तहत 20 लाख तक का व्यापार करने वालों को जीएसटी से मुक्ति मिलेगी। जीएसटी परिषद ने सभी वस्तुओं और ...

जीएसटी लाएगा अर्थव्यवस्था में क्रांतिकारी आर्थिक सुधार - दैनिक जागरण

वस्तु एवं सेवा कर को जीएसटी के नाम से जाना जाता है। इसके अंतर्गत देश में सभी हिस्सों में वस्तुओं पर एक टैक्स लगेंगे। यह टैक्स एक वस्तु और एक कर की नीति पर काम करेगी। जीएसटी के लाग. किशनगंज। वस्तु एवं सेवा कर को जीएसटी के नाम से जाना जाता है। इसके अंतर्गत देश में सभी हिस्सों में वस्तुओं पर एक टैक्स लगेंगे। यह टैक्स एक वस्तु और एक कर की नीति पर काम करेगी। जीएसटी के लागू होने के बाद बारह सौ से अधिक वस्तुओं और पांच सौ से अधिक सेवाओं पर लगने वाले टैक्स की दर तय हो चुकी है। टैक्स की दरों में बदलाव होने से इसका व्यापक असर देश की अर्थव्यवस्था के साथ मध्यम वर्गीय व्यक्तियों के ...

जीएसटी लाएगी व्यापारियों के लिए बड़ी राहत - दैनिक जागरण

जागरण संवाददाता, कैथल : जम्मू कश्मीर को छोड़कर आज से पूरे देश में लागू हो रहा जीएसटी क्या है। सभी भारतीय दो तरह के टैक्स का भुगतान कर रहे हैं। इनमें प्रत्यक्ष कर और अप्रत्यक्ष कर शामिल हैं। आयकर और कॉर्पोरेट टैक्स इत्यादि प्रत्यक्ष कर हैं। बिक्री कर और सेवा कर इत्यादि अप्रत्यक्ष कर हैं। संविधान में 122वें संशोधन विधेयक के जरिए देश में लगने वाले सभी लगभग 16 प्रकार के अप्रत्यक्ष करों की जगह सिर्फ एक टैक्स वस्तु एवं सेवा कर लागू हो गया है। इसको सभी जीएसटी के नाम से जानते हैं। यह कर व्यवस्था दुनिया के 150 से अधिक देशों में पहले से ही लागू है। बॉक्स. किस चीज पर कितना टैक्स.

जीएसटी से गुड्स सर्विस की उम्मीद - दैनिक जागरण

जीएसटी यानी गुड सर्विस टैक्स लागू होने के साथ ही एक देश एक टैक्स लागू हो जाएगा। बेतिया। जीएसटी यानी गुड सर्विस टैक्स लागू होने के साथ ही एक देश एक टैक्स लागू हो जाएगा। विभिन्न टैक्सों के बदले अब वस्तुओं की खरीद पर या सेवाओं पर एक टैक्स ही चुकाना होगा। जबकि पहले अलग-अलग वस्तुओं के लिए अलग-अलग टैक्स देना पड़ता था। इसको लेकर एक तरफ कुछ व्यापारी विरोध कर रहे हैं, वही दूसरी ओर आम लोग स्वागत के लिए खड़े दिखाई दे रहे हैं। कारण जीएसटी के कई फायदें हैं तो कुछ परेशानियां भी। मगर, इसके ज्यादातर लाभ ही है और व्यवसायी इसके माध्यम से ज्यादा इमानदारी से व्यवसाय कर सकते हैं।

आज से ग्राहकों को मिलेगा जीएसटी का बिल - अमर उजाला

शुक्रवार की आधी रात से लागू हो रहे जीएसटी से जहां कुछ वस्तुओं के दाम में इजाफा होगा, वहीं 82 प्रतिशत वस्तुएं सस्ती हो जाएंगी। जीएसटी लागू होने से दुकानदार अब पुराने दर पर सामान नहीं बेच पाएंगे, बल्कि उन्हें पुराने माल को नए दर से बेचना होगा। रजिस्टर्ड व्यापारी अब ग्राहकों को पुराने बिल नहीं दे पाएंगे, बल्कि उन्हें जीएसटी का बिल देना होगा। जीएसटी लागू होने के बाद अब काफी हद तक व्यापारियों की सीमाओं को बांध दिया गया है। शुक्रवार की आधी रात से जीएसटी के लागू होने से खाने-पीने सहित 82 प्रतिशत वस्तुएं सस्ती हो जाएंगी। जीएसटी के नए प्रावधान के मुताबिक अब ईजीएसटी ...

जीएसटी : जानकारी के अभाव में फैली भ्रांतियां, जीएसटी से व्यापारियों व उपभोक्ताओं को फायदे ज्यादा - अखंड भारत

वाराणसी (ब्यूरो) सरकार द्वारा एक जुलाई से पूरे देश मे जीएसटी लागू किये जाने व उससे होने वाले फायदे के बारे में वरिष्ठ लेखाकार व आर्थिक सलाहकार विजय अग्रवाल ने बातचीत के दौरान कहा कि जहां जीएसटी के फायदे ज्यादा हैं, वहीं कुछ परेशानियां भी व्यापारी वर्ग को उठानी पड़ सकती है जो धीरे-धीरे समाप्त ही जाएगी। श्री अग्रवाल ने कहा कि जीएसटी से किसानों व छोटे व्यापारियों को लाभ होगा। बिना पैक किये हुए खाद्य सामग्री को पूर्णतया कर मुक्त रखा गया है। वहीं कुछ व्यापारी संगठनों द्वारा जीएसटी के विरोध में आज अपने प्रतिष्ठान बन्द रखे। नगर उद्योग व्यापार मण्डल व उससे जुड़े ...

आर्थिक सुधारों के लिए वरदान साबित होगा जीएसटी - दैनिक जागरण

जागरण संवाददाता, दक्षिणी दिल्ली: लंबी तैयारी के बाद आखिरकार सरकार ने जीएसटी को अमली जाम पहना ही दिया है। ऐसे में विभिन्न वर्ग के लोगों ने जीएसटी का स्वागत किया है। लोगों का मानना है कि आर्थिक सुधारों के लिए जीएसटी वरदान साबित होगा। हालांकि, कुछ लोगों का यह भी कहना है कि इस फैसले को लागू करने में जल्दबाजी की गई है। लोगों का कहना है कि यह नोटबंदी जैसा ही सरकार का बड़ा फैसला है। समय के साथ लोगों को इसकी अच्छाइयां समझ आएंगी। इसलिए सरकार को इसका प्रचार-प्रसार भी करना चाहिए। --------------------. जीएसटी लागू करना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बहुत ही साहसी फैसला है।

जीएसटी से खत्म होगी बहुस्तरीय कर व्यवस्था - दैनिक जागरण

अमित सैनी, रेवाड़ी: आज से देशभर में एकीकृत टैक्स व्यवस्था की शुरूआत हो रही है। एक जुलाई से लागू हो. अमित सैनी, रेवाड़ी: आज से देशभर में एकीकृत टैक्स व्यवस्था की शुरूआत हो रही है। एक जुलाई से लागू हो रहे गुड्स एवं सर्विस टैक्स को लेकर व्यापारी वर्ग हो या फिर नौकरीपेशा व्यक्ति, सभी के पास अपने सवाल हैं। लगातार इसके बारे में जानकारी जुटाई जा रही है, लेकिन जीएसटी हकीकत में क्या प्रभाव डालने वाला है। इसको लेकर अभी भी असमंजस की ही स्थिति बनी हुई है। जीएसटी को लेकर इंदिरा गांधी विश्वविद्यालय के मैनेजमेंट विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर देवेश अग्रवाल से दैनिक जागरण ने विशेष ...

एकीकृत टैक्स व्यवस्था व्यापारियों के सिर से हटाएगी बोझ - दैनिक जागरण

जागरण संवाददाता, रेवाड़ी: जीएसटी यानि एकीकृत टैक्स व्यवस्था आज से देशभर में लागू हो रही है। जीएसटी. जागरण संवाददाता, रेवाड़ी: जीएसटी यानि एकीकृत टैक्स व्यवस्था आज से देशभर में लागू हो रही है। जीएसटी को लेकर कुछेक व्यापारियों को छोड़ दिया जाए तो ज्यादातर इसे बेहतर ही मान रहे हैं। व्यापारियों का मानना है कि इस एकीकृत टैक्स व्यवस्था के लागू हो जाने से अलग-अलग टैक्स भरने का बोझ व्यापारियों के सिर से हट जाएगा। शहर के व्यापारियों से जीएसटी को लेकर की गई तैयारियों के बाबत बातचीत की गई। ------------------------. जीएसटी को लेकर व्यापारियों को घबराने की कोई जरूरत नहीं है। विरोध ...

GST से पहले अॉफर की बरसात, मॉल्स में 30% तक की छूट - पंजाब केसरी

गुरुग्राम: आज रात 12 बजे पूरे देश में नए टैक्स सिस्टम गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (जीएसटी) का आगाज हो जाएगा। इसके बाद कल से कई चीजों के दामों पर इसका असर पडेगा। वहीं जीएसटी लागू होने से पहले व्यापारी अपना स्टॉक बेचने के लिए प्री जी.एस.टी. सेल के तहत ग्राहकों को लुभावने ऑफर दे रहे हैं। जिसके चलते गुरुग्राम में आज रात 12 बजे तक मॉल्स खुले रहेंगे। जहां ग्राहकों को 30 प्रतिशत तक की छूट दी जा रही है। वहीं कई चीजों पर 50% से अधिक की भी छूट दी जा रही है। कर सुधार के मामले में जीएसटी को आजाद भारत का सबसे बड़ा कदम बताया जा रहा है। चूंकि जीएसटी का मकसद 'टैक्स पर टैक्स' को खत्म करना है, ...

अगर अभी भी कन्फ्यूज हैं तो यहां जानें जीएसटी की पूरी ABCD... - inKhabar

नई दिल्ली : मोदी सरकार 1 जुलाई 2017 को ऐतिहासिक दिन बनाने की पूरी तैयारी लगभग पूरी कर चुकी है. शुक्रवार यानी कि 30 जून को 12 बजे की रात संसद भवन में घंटी बजा कर पूरे देश में वस्तु एवं सेवा कर लागू कर दिया जाएगा. कर सुधार के मामले में जीएसटी को आजाद भारत का सबसे बड़ा कदम बताया जा रहा है. मगर जीएसटी अभी भी आम लोगों की समझ से परे है. वस्तु एवं सेवा कर कितना अहम है इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि जीएसटी को लागू करने के लिए संसद में एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया है. हालांकि, जीएसटी लागू होने के बाद से आम लोगों के ऊपर क्या फर्क पड़ेगा, इसे लेकर अभी भी लोगों ...

जीएसटीः 18 फीसदी टैक्स स्लैब में इन चीजों को किया गया है शामिल - India.com हिंदी

जीएसटी को आजादी के बाद से सबसे बड़े ऐतिहासिक टैक्स सुधार माना जा रहा है. By Rohit Kumar | Published: June 30, 2017 3:55 PM IST Email. 0 Shares. Facebook share; Twitter share; Share on Google+ · Share on Whatsapp. Comments. GST 2017 Representational Image. नई दिल्ली। जीएसटी आज आधी रात को लॉन्च किया जाएगा. जीएसटी को भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए गेम चेंजर माना जा रहा है. जीएसटी को आजादी के बाद से सबसे बड़े ऐतिहासिक टैक्स सुधार के रूप में माना जा रहा है. जीएसटी लॉन्च के लिए संसद के केंद्रीय हॉल में आधी रात को विशेष सत्र का आयोजन किया गया है. इस मौके पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ...

GST ka full form: क्या होता है जीएसटी का फुल फॉर्म, जानिए- कैसे बदलेगी इससे देश की अर्थव्यवस्था - Jansatta

जीएसटी के लागू होते ही सर्विस टैक्स, सेल्स टैक्स, वैट, एक्साइज ड्यूटी जैसे अप्रत्यक्ष कर से मुक्ति मिल जाएगी। Author जनसत्ता ऑनलाइन July 1, 2017 00:34 am. 707. Shares. Facebook · Twitter · Google Plus · Whatsapp. GST Launch in India Date: शुक्रवार (30 जून) को रात 12 बजे जीएसटी लॉन्च किया जाएगा। (एक्सप्रेस ग्राफिक्स). जीएसटी का मतलब गुड्स एंड सर्विस टैक्स (वस्तु एवं सेवा कर) होता है। नरेंद्र मोदी सरकार जीएसटी को देश का सबसे बड़ा कर सुधार बता रही है। सरकार सभी तरह के अप्रत्यक्ष करों को खत्म करते हुए एक राष्ट्र एक कर की परिकल्पना पर इसे लागू करने जा रही है। जम्मू-कश्मीर को छोड़कर एक जुलाई से यह देशभर में ...

दूध, सब्जी-फल, पेट्रोल समेत 80 सामान जीएसटी से मुक्त: जानिए, कौन-कौन सी वस्तुओं पर नहीं लगेगा टैक्स - Jansatta

स्वास्थ्य और शिक्षा सेवा क्षेत्र को भी जीएसटी के दायरे से बाहर रखा गया है। Author जनसत्ता ऑनलाइन June 30, 2017 15:29 pm. 944. Shares. Facebook · Twitter · Google Plus · Whatsapp. वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) 1 जुलाई, 2017 से जम्मू-कश्मीर को छोड़कर देशभर में लागू हो रहा है। नरेंद्र मोदी सरकार का बहुप्रतीक्षित बिल जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) आज (30 जून की) मध्यरात्रि से लागू हो जाएगा। जम्मू-कश्मीर को छोड़कर देशभर के सभी राज्यों में एक जुलाई से जीएसटी सभी अप्रत्यक्ष करों का स्थान लेगा। दावा किया जा रहा है कि जीएसटी देश में कर सुधार के क्षेत्र में सबसे बड़ा कदम है। जीएसटी काउंसिल ने दूध, ...

क्या बला है GST, जो आधी रात से होगी लागू, जरा जान लीजिए - EenaduIndia Hindi

नई दिल्ली। आज आधी रात से वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू हो जाएगा। केंद्र सरकार का दावा है कि वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के लागू होने के साथ ही देश में आजादी के बाद सबसे बड़ी कर सुधार व्यवस्था अस्तित्व में आ जाएगी। लोगों के मन में इसे लेकर तरह-तरह के सवाल उमड़-घुमड़ रहे हैं। लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह है कि मध्यम आयवर्ग पर इसका क्या प्रभाव पड़ेगा? सवाल ढेरों हैं, लेकिन सबसे अहम सवाल जीएसटी के कारण वस्तुओं की कीमतों पर पड़ने वाला प्रभाव है, क्योंकि यह अप्रत्यक्ष कर है, जो सीधे-सीधे ग्राहकों से नहीं वसूला जाता, लेकिन अंतत: यह ग्राहक की जेब से ही जाता है। ऐसे में कहीं जीएसटी ...

GST Full form: गौ सुरक्षा टैक्स, ग्रेट स्टूपिड टैक्स…जानिए जीएसटी का क्या क्या मतलब निकाल रहे लोग - Jansatta

GST Launch in India Date: शुक्रवार (30 जून) को रात 12 बजे जीएसटी लॉन्च किया जाएगा। (एक्सप्रेस ग्राफिक्स). जीएसटी आज से पूरे भारत में लागू हो रहा है। केन्द्र सरकार के मंत्री वेंकैया नायडू ने इस टैक्स सिस्टम को आजादी के बाद का सबसे बड़ा आर्थिक सुधार बताया है। लेकिन लोगों के दिमाग में इस जीएसटी को लेकर आज भी कन्फ्यूजन ही कन्फ्यूजन है। किसी को जीएसटी का फुलफॉर्म नहीं पता, तो कई लोगों को इस टैक्स के नियमों की जानकारी नहीं है। उहापोह की स्थित में सोशल मीडिया में जीएसटी पर लगातार कमेंट किया जा रहा है। वैसे हम आपको पहले बता दें कि GST का फुलफॉर्म गुड्स एंड सर्विस टैक्स है।

असर जीएसटी का : देखिए, क्या होगा सस्ता, क्या होगा महंगा...? - NDTV Khabar

जीएसटी के लागू हो जाने के बाद 500 रुपये से कम कीमत वाले जूते-चप्पलों, तैयार पोशाकों जैसी कई वस्तुएं सस्ती हो जाएंगी, जबकि टीवी तथा छोटी कारें महंगी होने जा रही हैं... NDTVProfit.com की रिपोर्ट, विवेक रस्तोगी द्वारा अनूदित, अंतिम अपडेट: शनिवार जुलाई 1, 2017 01:48 AM IST. 6 Shares. ईमेल करें. टिप्पणियां. असर जीएसटी का : देखिए, क्या होगा सस्ता, क्या होगा महंगा... जीएसटी के तहत खुले अनाज, गुड़, दूध, अंडे और नमक जैसी बहुत-सी आवश्यक वस्तुओं पर कोई टैक्स नहीं लगेगा.