Police Personnel Suspend – आईजी जैदी सहित आठ पुलिस कर्मी सस्पैंड - HIMACHAL DASTAK

हिमाचल दस्तक ब्यूरो, शिमला।। कोटखाई गैंग रेप और मर्डर केस में पुलिस लॉकअप में हुई आरोपी की हत्या मामले में गिरफ्तार हुए आई जहूर जैदी सहित आठ पुलिस कर्मी सस्पेंड हो गए हैं। 1994 बैच के आईपीएस आईजी रैंक के अधिकारी जहूर जैदी, ठियोग के डीएसपी मनोज जोशी समेत आठ पुलिस वाले सस्पैंड हो गए हैं। अब जल्द ही इनके खिलाफ विभागीय जांच चलेगी। सस्पैंशन वाले केसों में यह जांच जरूरी होती है। शिमला की एसपी लेगी लिगल ओपीनियन. अराजपत्रित अधिकारियों के खिलाफ सस्पैंशन की कार्रवाई की औपचारिकताएं गृह विभाग और अराजपत्रित कर्मचारियों के मामले में एसपी शिमला पूरी करेगी। नियमों ...

शिमला रेप केस: आईजी जहूर जैदी समेत पांच पुलिस कर्मचारी सस्पेंड - अमर उजाला

गुड़िया मामले से जुडे़ लॉकअप हत्याकांड में आईजी जहूर एच जैदी समेत 5 पुलिस कर्मचारी सस्पेंड हो गए हैं। लॉकअप में 48 घंटे से अधिक समय तक रहने पर इन पर कार्रवाई हुई है। गिरफ्तारी के तीसरे दिन वीरवार को सीबीआई ने रिमांड पर लिए पुलिस अधिकारियों और कर्मियों से नई दिल्ली में कड़ी पूछताछ की। अब इन्हीं से ही गुड़िया मामले की असलियत जानने के लिए सुराग ढूंढा जा रहा है। इस मामले में तीन पुलिस कर्मचारी पहले से ही सस्पेंड चल रहे हैं। सूरज लॉकअप हत्याकांड मामले में सीबीआई ने 29 अगस्त को हिमाचल पुलिस के आईजी जहूर एच जैदी, ठियोग के डीएसपी मनोज जोशी समेत आठ पुलिसकर्मियों को ...

आईजी सहित गिरफ्तार पुलिसकर्मियों ने लॉकअप में गुजारी रात - खास खबर

गुड़िया गैंग रेप व हत्या मामले में बुधवार को गिरफ्तार हिमाचल पुलिस के आईजी जहूर एच. जैदी सहित गिरफ्तार किए गए 8 पुलिसकर्मियों ने आम मुजरिम की तरह बालूगंज थाने के लॉकअप में रात गुजारी। बाद में सीबीआई सभी को सुबह 6 बजे दिल्ली ले गई। दिल्ली ले जाकर आईजी और डीएसपी समेत पकड़े गए आठों पुलिसकर्मियों से सीबीआई कड़ी पूछताछ कर रही है। चार सितंबर तक इनसे पूछताछ की जाएगी। राज्य पुलिस के ये अधिकारी और कर्मचारी सीबीआई के रिमांड पर चल रहे हैं। सीबीआई के प्रवक्ता आर.के. गौड़ ने सभी आरोपियों को नई दिल्ली ले जाने की पुष्टि की है। गिरफ्तार सभी अधिकारियों व पुलिसकर्मियों ...

कोटखाई गैंगरेप और हत्या मामले में कब क्या हुआ, एक क्लिक में पढ़ें सबकुछ - EenaduIndia Hindi

शिमला। राजधानी के कोटखाई में स्कूली छात्रा से गैंगरेप और फिर हत्या की वारदात को हुए दो महीने होने वाले हैं। पीड़िता को इंसाफ दिलाने के लिए कई सामाजिक संगठनों ने कैंडल मार्च निकाले और अब तक पुलिस अधिकारियों समेत कई लोगों की गिरफ्तारियां भी हो चुकी हैं। पढ़िए कब क्या हुआ। 4 जुलाई को छात्रा स्कूल गई, लेकिन घर नहीं लौटी। परिवारवालों ने अपने स्तर पर काफी तलाश की लेकिन लड़की का पता नहीं चल पाया। 6 जुलाई को कोटखाई के जंगल में छात्रा का अर्धनग्न हालत में शव मिला। पुलिस ने लड़की की शिनाख्त कर परिवारवालों को सूचना दी। जंगल में पड़ी मृत छात्रा की लाश। (फाइल).

कोटखाई मामला: IG, DSP समेत आठ पुलिसकर्मी हो सकते हैं सस्पेंड - Navodaya Times

Navodayatimes नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोटखाई गैंगरेप और मर्डर केस में गिरफ्तार आईजी जहूर एच जैदी समेत आठ पुलिस कर्मियों को प्रदेश सरकार ने सस्पेंड करने की ठान ली है। इन्हें कोटखाने थाने में बंद मामले के आरोपी की हत्या के आरोप में बीते मंगलवार को सीबीआई ने गिरफ्तार किया है। सर्वे:जागरुकता अभियान ने अमेरिका में सिखों के प्रति सकारात्मक नजरिए को बढ़ाया जानें मामला... सभी को सीबीआई दिल्ली ले गई है। ऐसा माना जा रहा कि वीरवार को सभी आरोपी पुलिसवालों को संस्पेंड करने के आदेश जारी किए जा सकते हैं। कोटखाई थाने के लॉकअप में आरोपी सूरज की हत्या के मामले में सीबीआई ...

कोटखाई केस : DNA जांच में सभी आरोपियों को 'क्लीन चिट', ASP भजनदेव-DSP नेगी दिल्ली तलब - News18 इंडिया

शिमला के कोटखाई गैंगरेप और मर्डर केस में अब आए दिन नए खुलासे हो रहे हैं. इससे केस को नया मोड़ मिल गया है. अब पता चला है कि मामले में पुलिस की ओर से गिरफ्तार किए गए आरोपियों के डीएनए सैंपल फोरेंसिक सुबूतों से मेल नहीं खाते हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पकड़े गए सभी आरोपियों को डीएनए सैंपल रिपोर्ट में 'क्लीन चीट' दी गई है. इससे मामला अब और उलझता नजर जा रहा है. और पुलिस के बकसूरों को फंसाने के आरोप पुख्ता हो रहे हैं. वहीं, कोटखाई थाने में एक आरोपी की हत्या को लेकर सीबीआई पूर्व एसआईटी प्रमुख जैदी, डीएसपी समेत आठों पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार कर दिल्ली ले गई है.

कोटखाई केस में बड़ा सवाल : क्या डीएनए सैंपल बदले गए या फिर सुबूत मिटाए गए? - News18 इंडिया

कोटखाई गैंगरेप और मर्डर केस की गुत्थी लगातार उलझती जा रही है. मीडिया में छपी रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस ने जिन आरोपियों को पकड़ा था उनके डीएनए सैंपल फेल हो गए हैं. इनमें से एक आरोपी की हिरासत में ही हत्या कर दी गई थी. इन सभी आरोपियों के अलावा जिन दो संदिग्धों के DNA सैंपल लिए गए थे वे भी मेल नहीं हो पाए हैं. अब बड़ा सवाल है कि अगर ये आरोपी बेकसूर हैं तो आखिर गुड़िया के असली गुनहगार कौन हैं? क्या, पुलिस की जांच के दौरान सुबूत मिटाए गए? या फिर डीएनए सैंपल में छेड़छाड़ की गई. किसी और के ही सैंपल भेजे गए. कई सारे ऐसे सवाल हैं, जिनका जबाव जल्द मिलना जरूरी है. सीबीआई के ...

कोटखाई गैंगरेप मर्डर केस में बड़ा खुलासा, पुलिस के बनाए आरोपी निकले बेकसूर - Oneindia Hindi

शिमला। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि कोटखाई गैंगरेप मर्डर केस में हिमाचल पुलिस की ओर से गिरफ्तार किये गये आरोपियों के डीएनए सैंपल बिल्कुल साफ पाये गये हैं। मृतका व आरोपियों के डीएनए का मिलान न होने से मामले में नया मोड़ आ गया है। अब सवाल उठने लगा है कि आखिर वह कौन हैं जिसके लिये पुलिस ने कानून की धारा ही बदल दी। उधर हिमाचल पुलिस के कुछ और लोगों को सीबीआई की ओर से गिरफ्तार करने की संभावना भी जताई जा रही है। सीबीआई ने गुरुवार को अचानक शिमला के एएसपी भजन देव नेगी व डीएसपी रतन नेगी को पूछताछ के लिये दिल्ली बुलाया है। दोनों अधिकरी जांच करने वाली एसआईटी में थे ...

गुड़िया केस में IG की गिरफ्तारी पर शांता का बड़ा बयान - पंजाब केसरी

पालमपुर( कांगड़ा): गुडिया मामले में आईजी सहित अन्य पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी को लेकर भाजपा सांसद शांता कुमार ने प्रदेश सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के लंबे इतिहास में प्रदेश के माथे पर इस प्रकार का कलंक का दाग पहले कभी नहीं लगा था, जो कांग्रेस राज के अंतिम दिनों में आजकल लग रहा है। पुलिस विभाग के आई.जी. के पद पर आसीन अधिकारी समेत कुछ अधिकारियों की सी.बी.आई. द्वारा गिरफ्तारी अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। आई.जी. की अध्यक्षता में बनाई गई थी जांच कमेटी उन्होंने कहा कि कोटखाई जैसे गंभीर अपराध की जांच के लिए जिस आई.जी. की अध्यक्षता में ...

Watch Video: गुड़िया केस में पुलिस की खुली पोल, जिन्हें पकड़ा था वो 'बेकसूर' निकले - पंजाब केसरी

शिमला: कोटखाई गैंगरेप एंड मर्डर मामले में आए दिन बड़े खुलासे हो रहे हैं। बता दें कि इससे गुड़िया केस को नया मोड़ मिल गया है। जानकारी के मुताबिक अब सच सामने आया है कि गुड़िया मामले में पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए आरोपियों के डीएनए सैंपल फोरेंसिक सुबूतों से मिलते नहीं हैं। हालांकि इस मामले में पकड़े गए सभी आरोपियों को डीएनए सैंपल रिपोर्ट में 'क्लीन चीट' दी गई है। इससे मामला अब और उलझता हुआ नजर आ रहा है। पुलिस द्वारा बेगुनाहों को फंसाने के आरोप पुख्ता हो रहे हैं। PunjabKesari डीएनए टेस्ट के लिए आरोपियों के लिए गए थे सैंपल उधर, कोटखाई थाने में आरोपी सूरज की हत्या ...

आईजी समेत सभी पुलिसकर्मी आज होंगे सस्पेंड, इस फॉर्मूले से सच सामने लाएगी CBI - अमर उजाला

गुड़िया प्रकरण में गिरफ्तार आईजी जहूर एच जैदी समेत आठ पुलिस कर्मियों के खिलाफ गुरुवार को निलंबन की कार्यवाही होगी। लॉकअप में आरोपी सूरज की हत्या के मामले में सीबीआई ने मंगलवार को इन पुलिस कर्मियों को गिरफ्तार किया था। सीबीआई ने पुलिस निदेशक मुख्यालय को पुलिस कर्मियों की गिरफ्तारी से अवगत करवा दिया है। मुख्यालय ने बुधवार शाम को सीबीआई की कार्रवाई से संबंधित पत्रावली से अवगत करवा दिया है। शासन स्तर से गुरुवार को सभी को निलंबित करने के आदेश जारी हो सकेंगे। आठ पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को गिरफ्तार हुए चौबीस घंटे बीत चुके हैं। मुख्य सचिव वीसी ...

गुड़िया केस: क्या आईजी की इस गलती से खुद CBI के शिकंजे में फंसी पुलिस - अमर उजाला

गुड़िया प्रकरण में शुरू से ही एसआईटी प्रमुख आईजी जहूर एच जैदी की जल्दबाजी से पुलिस प्रशासन कटघरे में रहा। सभी आरोपियों की गिरफ्तारी एक साथ नहीं की गई। पहले आशीष चौहान को आरोपी बताया गया और चंद घंटों बाद ही राजू, सुभाष सिंह, दीपक, सूरज, लोकजन उर्फ छोटू को गिरफ्तार करने की बात सामने आई। इसके बाद जब प्रेस वार्ता की गई तो उसमें आशीष चौहान को छोड़ बाकी सभी आरोपियों को हत्या और दुराचार करने का आरोपी बताया गया। ऐसे में सवाल ये भी उठा कि आशीष का इस केस से कोई ताल्लुक नहीं है तो उसकी गिरफ्तारी क्यों की गई, इस सवाल पर भी जैदी स्थिति स्पष्ट नहीं कर पाए थे। यही नहीं, ऐसे ...

कोटखाई कांड: जांच में पुलिस की सामने आई करतूत, लोगों ने बोला हल्ला - Oneindia Hindi

शिमला। कोटखाई गैंगरेप मर्डर केस के आरोपी सूरज की हवालात में मौत के मामले में हिमाचल पुलिस के आईजी समेत आठ पुलिस कर्मियों की गिरफ्तारी के बाद शिमला में लोगों का गुस्सा सातवें आसमान पर है। बड़ी तादाद में लोगों ने बुधवार को धरना प्रदर्शन किया। एक ओर सीएम के पुतले जलाए गए तो डीजीपी सोमेश गोयल का भी घेराव किया गया। People Protest against Himachal Police in Kotkhai Gangrape Murder case. बुधवार को पुलिस और सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन शुरू हुआ जो आगे भी जारी रह सकता है। हालांकि सरकार को शुरुआत में ही ऐसा होने का अंदेशा था और पुलिस को अलर्ट पर रखा गया था। भारी पुलिस बंदोबस्त के ...

आईजी समेत पूरी एसआईटी को दिल्ली ले गई सीबीआई - Divya Himachal

NEWS शिमला — कोटखाई गैंगरेप व मर्डर मिस्ट्री मामले में सीबीआई द्वारा गिरफ्तार हिमाचल पुलिस के आईजी जहूर एच जैदी व एसआईटी में शामिल सात अन्य अधिकारियों व कर्मचारियों को बुधवार सुबह साढे़ चार बजे रिमांड पर दिल्ली ले जाया गया है। जानकारी के मुताबिक सीबीआई की जेल में इन सबसे बुधवार को गहन पूछताछ की गई। सूत्रों का यह दावा भी है कि आईजी जैदी समेत डीएसपी का नार्को टेस्ट करवाने की तैयारी है। दरअसल इस मामले में सीबीआई ने एसआईटी के जो मोबाइल फोन कब्जे में लिए थे, उन्हीं के आधार पर नए सिरे से जांच को आगे बढ़ाया जा रहा है। कोटखाई थाने में तैनात रहे संतरी दिनेश ...

शिमला रेप केस: आईजी, डीएसपी समेत आठों पुलिस कर्मचारियों को यहां ले गई CBI - अमर उजाला

गुड़िया मामले से जुडे़ लॉकअप हत्याकांड में हिमाचल पुलिस के आईजी जहूर एच. जैदी समेत गिरफ्तार किए गए 8 पुलिस कर्मचारियों को सीबीआई बुधवार सुबह करीब छह बजे नई दिल्ली ले गई। मंगलवार को गिरफ्तार आईजी जैदी और अन्य पुलिसकर्मियों ने बालूगंज थाने के लॉकअप में आम मुजरिम की तरह रात काटी। अब दिल्ली ले जाकर आईजी और डीएसपी समेत पकड़े गए आठों पुलिसकर्मियों से सीबीआई कड़ी पूछताछ कर रही है। राज्य पुलिस के ये अधिकारी और कर्मचारी चार सितंबर तक सीबीआई के रिमांड पर चल रहे हैं। सीबीआई के प्रवक्ता आरके गौड़ ने आईजी जैदी सहित आठों पुलिस वालों को नई दिल्ली ले जाने की पुष्टि ...

तस्वीरें: शिमला में सीबीआई की पकड़ में पुलिस अधिकारी - दैनिक जागरण

हिमाचल प्रदेश के चर्चित कोटखाई में गुडिय़ा गैंगरेप व हत्या मामले की जांच में जुटी सीबीआई की टीम ने इस मामले की पहले जांच कर रही हिमाचल पुलिस के विशेष जांच दस्ते की पूरी टीम को ही गिरफ्तार कर लिया है। इसमें प्रदेश पुलिस के आईजी, डीएसपी व एसएचओ सहित आठ कर्मी शामिल हैं। गुडिय़ा मामले के एक आरोपी की पुलिस लॉकअप में हुई हत्या के मामले में सीबीआई ने इनको गिरफ्तार किया है। Tags: #Gudiya case · #CBI · #Shimla · #श‍िमला · #गुड़‍ि‍या केस · #कोटखाई मामला · #Himachal Photogallery. previous next. तस्वीरें: शिमला में सीबीआई की पकड़ में पुलिस अधिकारी 1; तस्वीरें: शिमला में सीबीआई की पकड़ में ...

गुड़िया केस पर शिमला में प्रदर्शन, फूंका CM का पुतला - पंजाब केसरी

शिमला (विकास): कोटखाई रेप एंड मर्डर मामले में बुधवार को शिमला में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के छात्रों ने मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह का पुतला जलाया। इस दौरान छात्रों ने प्रदर्शन करते हुए कहा कि इस मामले में सरकार की मिलीभगत थी। उन्होंने कहा कि वह सीबीआई द्वारा की गई गिरफ्तारी का स्वागत करते हैं। PunjabKesari गुड़िया न्याय मंच ने गुड़िया मामले में पुलिस पर लगाए ये आरोप गुड़िया न्याय मंच ने गुड़िया मामले में पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों की गिरफ्तारी का स्वागत किया है और इसे जनता की जीत करार दिया है। मंच के सह संयोजक विजेंद्र मेहरा ने कहा है कि ...

शिमला गैंगरेप - हिरासत में मौत के मामले में आईजी जहूर जैदी का होगा दिल्ली में नार्को टेस्ट - Angwaal News

नई दिल्ली/ शिमला । शिमला के बहुचर्चित कोटखाई गैंगरेप और हत्याकांड को लेकर अब खबर है कि सीबीआई गिरफ्तार आईजी जहूर जैदी का नार्को टेस्ट करवाएगी। यह दिल्ली में होगा। बता दें कि गैंगरेप और मर्डर के इस मामले के एक आरोपी सूरज की कोटखाई थाने में हत्या कर दी गई थी। इन आरोपों के चलते सीबीआई ने पुलिस की पूर्व एसआईटी के प्रमुख आईजी जहूर जैदी, डीएसपी समेत आठ अफसरों को मंगलवार को गिरफ्तार किया था। अब इन सभी को लेकर दिल्ली लाया गया है, जहां इनका नार्कों टेस्ट करवाया जाएगा। इससे पहले सीबीआई ने इन सभी को मंगलवार शाम कोर्ट में पेश किया था जहां से इन्हें सात दिन के लिए ...

Kotkhai Murder Case- गिरफ्तार IG-DSP समेत 8 आरोपियों का होगा नार्को टेस्ट - HIMACHAL DASTAK

शिमला। कोटखाई छात्रा हत्याकांड मामले में कोटखाई पुलिस स्टेशन में हुई आरोपी की हत्या को लेकर CBI द्वारा गिरफ्तार किए गए हिमाचल पुलिस के अधिकारियों और जवानों का अब नार्को टेस्ट होगा। इसके लिए CBI इन सभी को चंडीगढ़ लेकर गई है। CBI की टीम गिरफ्तार किए गए पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को बुधवार सुबह शिमला से चंडीगढ़ ले गई है। सभी से चंडीगढ़ में पूछताछ होगी और नार्को टेस्ट के लिए दिल्ली ले जाया जाएगा। रात को सभी कड़ी सुरक्षा में बालुगंज थाने में रखे गए थे।