सुर्खियां

गुजरात में लोग बाढ़ से घिरे हैं और कांग्रेस विधायक गायब हैं : स्मृति ईरानी - NDTV Khabar;

गुजरात में लोग बाढ़ से घिरे हैं और कांग्रेस विधायक गायब हैं : स्मृति ईरानी - NDTV Khabar

NDTV Khabarगुजरात में लोग बाढ़ से घिरे हैं और कांग्रेस विधायक गायब हैं : स्मृति ईरानीNDTV Khabarस्मृति ईरानी ने कहा कि कांग्रेस विधायकों ने बनासकांठा में बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के लोगों को अलग-थलग छोड़ दिया है. भाषा, Updated: 1 अगस्त, 2017 12:28 AM. Share. ईमेल करें. टिप्पणियां. गुजरात में लोग बाढ़ से घिरे हैं और कांग्रेस विधायक गायब हैं : स्मृति ईरानी. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की फाइल तस्वीर. अहमदाबाद: केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने सोमवार को कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि यह पार्टी अपने राज्यसभा उम्मीदवार की जीत सुनिश्चित करने को चिंतित है और इसके विधायक बनासकांठा जिले के बाढ़ प्रभावित लोगों को छोड़कर चले गए. कांग्रेस ने राज्यसभा चुनाव से पहले ...और अधिक »

गुजरात में बाढ़ प्रभावित इलाकों में 20 लाख फूड पैकेट बांटे गए, 90 कैम्प बनाए: स्मृति - दैनिक भास्कर;

गुजरात में बाढ़ प्रभावित इलाकों में 20 लाख फूड पैकेट बांटे गए, 90 कैम्प बनाए: स्मृति - दैनिक भास्कर

दैनिक भास्करगुजरात में बाढ़ प्रभावित इलाकों में 20 लाख फूड पैकेट बांटे गए, 90 कैम्प बनाए: स्मृतिदैनिक भास्करकेंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने सोमवार को गुजरात में बाढ़ प्रभावित इलाके बनासकांठा का दौरा किया। Replay. Prev; |; View Again. गुजरात में बाढ़ प्रभावित इलाकों में 20 लाख फूड पैकेट बांटे गए, 90 कैम्प बनाए. +1और स्लाइड देखें. गुजरात में भारी बारिश और बाढ़ से अब तक 60 लोगों की मौत हो चुकी है। नई दिल्ली. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने सोमवार को गुजरात में बाढ़ प्रभावित इलाके बनासकांठा का दौरा किया। बाढ़ से इस इलाके में सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है। दौरे के बाद स्मृति ने बताया कि बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए 90 राहत कैम्प बनाए गए हैं। बता दें कि गुजरात में अब तक 60 से ज्यादा ...और अधिक »

गुजरात में बाढ़ प्रभावित इलाकों का जायजा लेने पहुंची स्मृति ईरानी - पंजाब केसरी;

गुजरात में बाढ़ प्रभावित इलाकों का जायजा लेने पहुंची स्मृति ईरानी - पंजाब केसरी

पंजाब केसरीगुजरात में बाढ़ प्रभावित इलाकों का जायजा लेने पहुंची स्मृति ईरानीपंजाब केसरीनई दिल्ली: देश के कई राज्यों में बारिश और बाढ़ का कहर जारी है। राजस्थान, गुजरात, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश, असम, पश्चिम बंगाल के कई जिलों में भारी बारिश ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। गुजरात में अब तक कई लोगों की मौत हो चुकी है। लाखों लोग बेघर हो गए हैं। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित बनासकांठा क्षेत्र में पहुंचकर स्थिती का जायजा लिया। उन्होंने बाढ़ प्रभावित लोगों से बातचीत भी की। यहां अब तक 60 से ज्यादा लोगों की मौत की खबर आई है। बाढ़ की तबाही का किया आंकलन केंद्रीय मंत्री ने बताया कि अब तक बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए 90 राहत कैंप ...और अधिक »

गुजरात: बाढ़ पीड़ितों के बीच पहुंची स्मृति ईरानी, नाव में बैठकर लिया जायजा - आज तक;

गुजरात: बाढ़ पीड़ितों के बीच पहुंची स्मृति ईरानी, नाव में बैठकर लिया जायजा - आज तक

आज तकगुजरात: बाढ़ पीड़ितों के बीच पहुंची स्मृति ईरानी, नाव में बैठकर लिया जायजाआज तककेंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी सोमवार को गुजरात में बाढ़ पीड़ितों के बीच पहुंची. इस दौरान उन्होंने न सिर्फ बाढ़ प्रभावित लोगों से बातचीत कर उनका हाल जाना, बल्कि राहत-बचाव का भी जायजा लिया. गुजरात में बाढ़ से सबसे ज्यादा बनासकांठा प्रभावित हुआ है. यहां अब तक 60 से ज्यादा लोगों की मौत की खबर आई है. जबकि सैकड़ों की तादाद में लोग बेघर हो गए हैं. जिसके बाद केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी बनासकांठा के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में पहुंची. इस दौरान वो नाव में बैठकर बाढ़ के कहर का जायजा लेने पहुंची. केंद्रीय मंत्री ने बताया कि अब तक बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए 90 राहत कैंप ...और अधिक »

कांग्रेस ने केंद्र पर बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत न देने का आरोप लगाया - Deshvani (कटूपहास) (प्रेस विज्ञप्ति) (पंजीकरण) (ब्लॉग)

कांग्रेस ने केंद्र पर बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत न देने का आरोप लगायाDeshvani (कटूपहास) (प्रेस विज्ञप्ति) (पंजीकरण) (ब्लॉग)नई दिल्ली, (हि.स)। कांग्रेस ने केंद्र पर बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत न देने का आरोप लगाते हुए कहा है कि देश में बाढ़ की स्थिति चिंताजनक है। पूर्व से पश्चिम तक देश बाढ़ में डूबा होने के बावजूद मोदी सरकार सोती रही। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने सोमवार को संवाददाता सम्मेलन कर कहा कि केंद्र सरकार बाढ़ प्रभावित राज्यों और लोगों के पुनर्वास संबंधी काम करने में पूरी तरह फेल रही है। उन्होंने कहा कि कैग रिपोर्ट में भी बाढ़ से निपटने के लिए केंद्रीय फंड में 60 फीसदी की कमी देखी गई। काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान का 80 फीसदी हिस्सा जलमग्न हो चुका है। 218 जानवरों के साथ 17 गेंडे ...और अधिक »