This RSS feed URL is deprecated

बाढ़ प्रभावित बनासकांठा में नेताओं की 'बाढ़', पीड़ितों की मदद के बजाय हो रही राजनीति - आज तक

गुजरात में बाढ़ से तबाह हो गये इलाकों में अब नेताओं की बाढ़ आ गई है. एक के बाद एक नेता बाढ़ पीड़ितों से मिलने पहुंच रहे हैं. एक ओर जहां गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी रविवार को बनासकांठा आए तो वहीं कांग्रेस के अशोक गहलोत के साथ अहमद पटेल और भरत सिंह सोलंकी भी बनासकांठा आए और एक दूसरे पर राज्य सरकार पर जमकर किए. बनासकांठा का हाल ये है कि जिधर नजर दौड़ाओ उधर ही तबाही का मंजर दिख रहा है. लोग खाने-पीने की चीजों के लिए तरस रहे हैं. गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी बनासकांठा पहुंचे और बाढ़ ग्रस्त इलाकों में 5 दिन रहने का निर्णय किया. हालांकि बाढ़ पीड़ितों की मदद करने के बजाय मुख्यमंत्री कांग्रेस पर ज्यादा हमले कर रहे हैं. कांग्रेस को ले डूबेंगी ...और अधिक »

गुजरात में लोग बाढ़ से घिरे हैं और कांग्रेस विधायक गायब हैं : स्मृति ईरानी - NDTV Khabar

स्मृति ईरानी ने कहा कि कांग्रेस विधायकों ने बनासकांठा में बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के लोगों को अलग-थलग छोड़ दिया है. भाषा, Updated: 1 अगस्त, 2017 12:28 AM. 7 Shares. ईमेल करें. टिप्पणियां. गुजरात में लोग बाढ़ से घिरे हैं और कांग्रेस विधायक गायब हैं : स्मृति ईरानी. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की फाइल तस्वीर. अहमदाबाद: केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने सोमवार को कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि यह पार्टी अपने राज्यसभा उम्मीदवार की जीत सुनिश्चित करने को चिंतित है और इसके विधायक बनासकांठा जिले के बाढ़ प्रभावित लोगों को छोड़कर चले गए. कांग्रेस ने राज्यसभा चुनाव से पहले अपने विधायकों को बेंगलुरू भेज दिया है. उसका आरोप है कि विधायकों को खरीदने का प्रयास ...और अधिक »

बनासकांठा में बाढ़ का कहर, 60 से ज्यादा मौत, सीएम रुपानी ने डाला डेरा - आज तक

गुजरात में बाढ़ ने कहर बरपा रखा है. बनासकांठा में तबाही का मंजर है. यहां अब तक 60 से ज्यादा लोगों की मौत की खबर है. वहीं पूरे मानसून के दौरान गुजरात में मरने वालों का आंकड़ा 132 तक पहुंच गया है. हालात का जायजा लेने मुख्यमंत्री विजय रुपानी खुद बनासकांठा पहुंचे हैं. बनासकांठा में हफ्तों बाद भी हालात काबू में नहीं आ पाए हैं. थरा, वाव, राधनपुर और धानेरा समेत कई इलाकों में अब भी बाढ़ का पानी भरा है. वहीं जिन इलाकों में पानी कम हुआ है, वहां तबाही का खौफनाक मंजर सामने आ रहा है. मीलों मील तक चौपट मैदान नजर आ रहे हैं. घरों की इमारत से लेकर फसल तक जमींदोज हो गए हैं. कुछ लोग अपना बचा हुआ सामान लेकर पालनपुर और अहमदाबाद जैसे शहरों की तरफ पलायन कर रहे हैं ...और अधिक »

अहमद पटेल की राज्यसभा चुनाव जीतने की लालसा गुजरात कांग्रेस को ले डूबेगी: रुपानी - नवभारत टाइम्स

गुजरात में बाढ़ जैसे हालात के बीच अपने विधायकों को बेंगलुरु ले जाने को लेकर प्रदेश कांग्रेस पर हमला बोलते हुए मुख्यमंत्री विजय रुपानी ने रविवार को आरोप लगाया कि अपनी राज्यसभा सीट जीतने की 'लालसा' में पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल की ओर से यह फैसला किया गया। रुपानी ने आरोप लगाया कि जैसे सोनिया गांधी के अपने पुत्र राहुल गांधी के प्रति प्रेम ने देश में कांग्रेस को डुबो दिया, वैसे ही पटेल की 'लालच और अपनी राज्यसभा सीट बचाने की बेसब्री' गुजरात में पार्टी को डुबो देगी। उन्होंने कहा, 'सोनिया गांधी के पुत्र मोह ने पूरे देश में कांग्रेस को डुबो दिया है। देश के नागरिकों ने भले ही राहुल गांधी का नेतृत्व नकार दिया हो, लेकिन सोनिया के पुत्र मोह ने ...और अधिक »

पांच दिनों तक बनासकांठा से चलेगी प्रदेश की सरकार - दैनिक भास्कर

पालनपुर/ बनासकांठा.मुख्यमंत्री विजय रूपाणी मंत्रिमंडल के 10 मंत्रियों के साथ रविवार से पांच दिनों तक बनासकांठा और पाटण सहित बाढ़ग्रस्त बिजलों का दौरा करेंगे। पांच दिनों तक सरकार बनासकांठा से चलेगी। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के साथ राजस्व मंत्री भूपेन्द्रसिंह चूडासमा, शंकर चौधरी सहित 10 मंत्री दौरे पर हैं। मुख्यमंत्री ने रविवार को कांकरेज तहसील के खारिया और थरा का दौरा किया। पांच दिवसीय दौरे के पहले दिन मुख्यमंत्री ने कहा कि सोनिया गांधी का अपने बेटे राहुल गांधी से इतना मोह है कि इसकी वजह से उन्होंने पूरी पार्टी को डूबा दिया है। - रूपाणी ने कहा कि पूरा प्रदेश भीषण बाढ़ से जूझ रहा है और कांग्रेस ने सोनिया के सलाहकार अहमद पटेल को राज्यसभा में ...और अधिक »

गुजरात में बाढ़ से भारी तबाही,213 की मौत, 5 दिन बाढ़ग्रस्त क्षेत्र में रहेंगे CM - दैनिक जागरण

बनासकांठा जिले में सबसे ज्‍यादा मौत बीती 21 जुलाई को हुईं। यहां लगातार भारी बारिश के कारण तालाब ऊपर तक भर गए हैं। पालनपुर, जेएनएन। गुजरात में बाढ़ के कारण कई इलाके जलमग्न हैं। बाढ़ से भारी तबाही हो रही है। राज्य बाढ़ नियंत्रण कक्ष द्वारा दिए गए आंकड़ों के मुताबिक, अब तक 213 लोगों की मौत हो चुकी है। उत्तरी गुजरात के बनासकांठा पाटन में हर ओर तबाही का मंजर देखने को मिल रहा है। अकेले बनासकांठा में 60 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। वहीं से बाढ़ में 4225 मवेशियों की भी मौत हो गई है। ऐसे में हालात का जायजा लेने मुख्यमंत्री विजय रुपानी खुद बनासकांठा पहुंचे हैं और वह पांच दिनों तक यहीं रहेंगे। बनासकांठा जिले में सबसे ज्यादा मौत बीती 21 जुलाई को हुईं। यहां ...और अधिक »

गुजरात: बाढ़ पीड़ितों के बीच पहुंची स्मृति ईरानी, नाव में बैठकर लिया जायजा - आज तक

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी सोमवार को गुजरात में बाढ़ पीड़ितों के बीच पहुंची. इस दौरान उन्होंने न सिर्फ बाढ़ प्रभावित लोगों से बातचीत कर उनका हाल जाना, बल्कि राहत-बचाव का भी जायजा लिया. गुजरात में बाढ़ से सबसे ज्यादा बनासकांठा प्रभावित हुआ है. यहां अब तक 60 से ज्यादा लोगों की मौत की खबर आई है. जबकि सैकड़ों की तादाद में लोग बेघर हो गए हैं. जिसके बाद केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी बनासकांठा के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में पहुंची. इस दौरान वो नाव में बैठकर बाढ़ के कहर का जायजा लेने पहुंची. केंद्रीय मंत्री ने बताया कि अब तक बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए 90 राहत कैंप बनाए जा चुके हैं. कुल 60 हजार लोगों तक प्रशासन ने मदद पहुंचाई है. उन्होंने बताया 20 लाख ...और अधिक »

गुजरात कांग्रेस को ले डूबी अहमद पटेल की राज्यसभा चुनाव जीतने की लालसा: विजय रूपानी - ABP News

अहमदाबाद: गुजरात में बाढ़ जैसे हालात के बीच अपने विधायकों को बेंगलूर ले जाने को लेकर मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने कांग्रेस पर हमला बोला. सीएम ने आरोप लगाया कि अपनी राज्यसभा सीट जीतने की ''लालसा'' में पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल की ओर से यह फैसला किया गया. रूपानी ने आरोप लगाया कि जैसे सोनिया गांधी के अपने पुत्र राहुल गांधी के प्रति प्रेम ने देश में कांग्रेस को डुबो दिया, वैसे ही पटेल की ''लालच और अपनी राज्यसभा सीट बचाने की बेसब्री'' गुजरात में पार्टी को डुबो देगी . उन्होंने कहा, ''सोनिया गांधी के पुत्र मोह ने पूरे देश में कांग्रेस को डुबो दिया है . देश के नागरिकों ने भले ही राहुल गांधी का नेतृत्व नकार दिया हो, लेकिन सोनिया के पुत्र मोह ने ...और अधिक »

गुजरात: बनासकांठा में बाढ़ पर राजनीति तेज, BJP-कांग्रेस आमने सामने, स्मृति ने किया दौरा - ABP News

2012 विधानसभा चुनावों में बनासकांठा से पांच विधायक कांग्रेस के चुने गए और चार सीट बीजेपी को मिली थीं. ये इलाका कांग्रेस का गढ़ माना जाता है. पार्टी में फूट के बाद गुजरात कांग्रेस अपने 44 विधायकों को लेकर बेंगलूरु पहुंच गई. By: एबीपी न्यूज़ | Updated: 01 Aug 2017 07:45 AM. - - - - - - - - - Advertisement - - - - - - - - -. गांधीनगर: बाढ़ और बारिश से सबसे ज्यादा जान इस बार गुजरात में गई हैं. गुजरात में ही बाढ़ 200 से ज्यादा लोगों की जान ले चुकी है, लेकिन यहां बाढ़ पर सियासत भी पर जमकर हो रही है. इस सियासत में बीजेपी की सरकार और कांग्रेस आमने-सामने है. गुजरात में बाढ़ वाले इलाकों में मंत्री-नेताओं के दौरे हो रहे हैं, लेकिन नजरें चुनाव पर दिख रही हैं. भारत के उत्तर ...और अधिक »

गुजरात में बारिश और बाढ़ का कहर, बनासकांठा में CM रुपानी ने डाला डेरा - inKhabar

गुजरात में भारी बारिश और बाढ़ कहर बरपा रहा है. सबसे ज्यादा असर बनासकांठा जिले में देखने को मिला है. हालात का जायजा लेने के लिए गुजरात सीएम विजय रुपानी तीसरी बार बनासकांठा पहुंचे हैं. By; अरविंद शर्मा; |; Updated; : July 30, 2017,; 4:47 PM. AddThis Sharing Buttons. Share to Facebook Share to Twitter. Gujarat floods, CM Vijay Rupani, Visits to flooded areas, PM Narendra Modi,. For the help of flood victims CM Vijay Rupani will stay in Banaskantha for five days. बनासकांठा: गुजरात में भारी बारिश और बाढ़ का कहर जारी है. बाढ़ पीड़ितों को जल्दी से जल्दी मदद उपलब्ध कराने के लिए सीएम विजय रुपानी आज से पांच दिन तक बनासकांठा में ही डेरा डाल दिया है. क्योंकि सबसे ज्यादा असर बनासकांठा ...और अधिक »