This RSS feed URL is deprecated

गोरखपुर के BRD में अगस्त में हुई 290 बच्चों की मौत - नवभारत टाइम्स

गोरखपुर स्थित बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज में अगस्त के महीने में अब तक 290 बच्चों की मौत हो चुकी है। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, पिछले रविवार और सोमवार को नवजात सघन चिकित्सा कक्ष (एनआईसीयू) में 26 तथा इंसेफेलाइटिस वॉर्ड में 11 समेत कुल 37 बच्चों की मौत हुई है। मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर पीके सिंह ने बताया कि इस वर्ष अब तक इंसेफेलाइटिस, एनआईसीयू तथा सामान्य चिल्ड्रेन वॉर्ड में कुल 1250 बच्चों की मौत हो चुकी है। इस माह 28 अगस्त तक एनआईसीयू में 213 और इंसेफेलाइटिस वॉर्ड में 77 समेत कुल 290 बच्चे मरे हैं। सिंह का कहना है कि एनआईसीयू में ज्यादा गंभीर हालत वाले बच्चे, जिनमें समय से पहले जन्मे, कम वजन वाले, पीलिया, निमोनिया और संक्रामक बीमारियों से ग्रस्त बच्चे ...और अधिक »

अगस्त के आख़िरी दिन गोरखपुर अस्पताल में 13 बच्चों की मौत - The Wire Hindi

गोरखपुर स्थित बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज में अगस्त महीने में मरने वाले बच्चों की संख्या 309 हो गई है और इस साल अब तक 1269 बच्चों की जान जा चुकी है. Gorakhpur : Women mourn the death of an infant outside the BRD Hospital in Gorakhpur on. बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बुधवार को एक बच्चे की मौत के बाद रोते बिलखते परिजन. (फोटो: पीटीआई). बाबा राघव दास (बीआरडी) मेडिकल कॉलेज में 31 अगस्त को 13 और बच्चों की मौत हो गई. इसके साथ ही इस माह मरने वाले बच्चों का आंकड़ा बढ़कर 309 हो गया. इस साल जनवरी से लेकर अब तक इस मेडिकल कॉलेज में 1269 बच्चे मर चुके हैं. मेडिकल कॉलेज के नवनियुक्त प्राचार्य डॉ पीके सिंह ने बच्चों की मृत्यु की पुष्टि करते हुए कहा, गत 30 अगस्त की मध्य रात्रि तक 59 बच्चे ...और अधिक »

अस्पतालों में बच्चों की मौत के सिलसिले से धुंधला जाएगा 'न्यू इंडिया' का सपना - Firstpost Hindi

आजादी के 70 साल बाद भी देश में हर एक मिनट में दो बच्चे दम तोड़ें तो न्यू इंडिया की कल्पना आसमान से तारे तोड़ने जैसी ही लगती है. झारखंड के जमशेदपुर अस्पताल, गोरखपुर के बीआरडी अस्पताल और फर्रुखाबाद के लोहिया अस्पताल में बच्चों की मौत के आंकड़े देखने के बाद विकास की हर बात बेमानी हो जाती है. जिस देश में एक साल में सही और समय पर इलाज न मिलने से 10 लाख बच्चों की मौत हो जाए तो फिर अस्पताल और सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय तक बीमार से दिखाई देते हैं. डॉक्टरों और अस्पतालों के गैरजिम्मेदाराना रवैये को देखते हुए राज्य सरकारों के सिर्फ हेल्थ केयर के लिए फंड अलॉट कर देने भर की रस्म अदायगी से इस मुल्क में नवजात बच्चों की तकदीर नहीं बदली जा सकती. news-jodhpur. अस्पतालों ...और अधिक »

गोरखपुर: बीआरडी अस्पताल में पिछले 72 घंटों में 61 बच्चों की मौत का जिम्मेदार कौन? - Firstpost Hindi

27 अगस्त को 17, 28 अगस्त को 19 और 29 अगस्त देर रात तक 25 और बच्चों की मौत हो गई. इससे पहले ऑक्सीजन की कमी से 36 बच्चों की मौत हो गई थी. Ravishankar Singh Updated On: Aug 30, 2017 01:29 PM IST. 0. गोरखपुर: बीआरडी अस्पताल में पिछले 72 घंटों में 61 बच्चों की मौत का जिम्मेदार कौन. गोरखपुर के बाबा राघव दास (बीआरडी) मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. पिछले 24 घंटे में बीआरडी मेडिकल कॉलेज के नेहरू चिकित्सालय में 19 और बच्चों की मौत हो गई है. इनमें 7 बच्चों की मौत इंसेफेलाइटिस से हुई है. वहीं नवजात शिशु वाले वार्ड में अन्य रोगों से भी बच्चों की मौत होने की खबर है. पिछले 72 घंटों में बीआरडी मेडिकल कॉलेज में भर्ती बच्चों की मौत की ...और अधिक »

गोरखपुर में 2 दिन में 42 बच्चों की मौत - BBC हिंदी

गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बड़ी संख्या में बच्चों की मौत का मामला एक बार फिर सामने आया है. महज़ दो दिनों में इस मेडिकल कॉलेज में 42 बच्चों की मौत हो चुकी है. बीआरडी मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर पीके सिंह का कहना है कि अचानक ज़्यादा मौतें भले ही हो गई हैं लेकिन इस मौसम में ये कोई असामान्य बात नहीं है. गोरखपुर में बिलखते परिजन इमेज कॉपीरइट sangam dubey. मौत के आंकड़ों की जानकारी देते हुए उन्होंने बताया, "बीआरडी अस्पताल में 27 और 28 अगस्त के दौरान 48 घंटे में 42 बच्चों की मौत हो चुकी है. इनमें सात बच्चों की मौत इंसेफेलाइटिस यानी दिमागी बुखार से हुई है." 'ज़ालिम' अगस्त भाजपा के लिए 'खट्टरनाक' रहा · कार्टून: योगी की संवेदाएं. प्लेबैक आपके ...और अधिक »

गोरखपुर अस्पताल में पिछले 72 घंटे में 61 बच्चों की मौत, इस महीने 290 जानें गईं - The Wire Hindi

योगी आदित्यनाथ एक कार्यक्रम में बोले, 'कहीं ऐसा ना हो कि लोग अपने बच्चों के दो साल के होते ही सरकार के भरोसे छोड़ दें कि सरकार उनका पालन पोषण करे.' yogi gorakhpur tragedy photo by PTI. उत्तर प्रदेश के गोरखपुर अस्पताल में बड़ी संख्या में बच्चों की मौत का सिलसिला जारी है. पिछले 72 घंटे के भीतर 61 बच्चों की मौत हो गई है. दूसरी ओर, प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कहना है कि 'मुझे लगता है कहीं ऐसा ना हो कि लोग अपने बच्चों के दो साल के होते ही सरकार के भरोसे छोड़ दें, सरकार उनका पालन पोषण करे.' गोरखपुर स्थित बाबा राघवदास मेडिकल कालेज में इस महीने अब तक 290 बच्चों की मौत हो चुकी है. आधिकारिक सूत्रों के अनुसार पिछले रविवार और सोमवार को नवजात सघन ...और अधिक »

गोरखपुर के BRD अस्पताल में 48 घंटों में 42 बच्चों की मौत - India.com हिंदी

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत का सि‍लसिला थमने का नाम नहीं ले रहा. इस मेडिकल कॉलेज में बीते 48 घंटों में 42 बच्चों की मौत हो चुकी है. अस्पताल में इलाज के लिए आने वाले बच्चों की मौत के आंकड़े चौंकाने वाले हैं. 48 घंटे में 42 बच्चों की मौत. मेडिकल कॉलेज के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (सीएमएस) पीके शुक्ल ने इन मौतों की पुष्टि की. हालांकि मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ पीके सिंह के मुताबिक इस मौसम में यहां हर साल ऐसे ही हालात रहते हैं. उनका कहना है कि जापानी इंसेफलाइटिस ( दिमागी बुखार) से 27 और 28 अगस्त को केवल सात बच्चों की मौत हुई. बाकी बच्चों की मौत दूसरी बीमारियों से हुई. 42 children died in 48 hours of which 7 due ...और अधिक »

गोरखपुर: 48 घंटे में 42 बच्चों की मौत, नहीं थम रहा मौतों का सिलसिला - Firstpost Hindi

गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज के बालरोग विभाग में एनआईसीयू और पीआईसीयू में पिछले 48 घंटे में 42 बच्चों की मौत हो चुकी है. FP Staff Updated On: Aug 30, 2017 11:24 AM IST. 0. गोरखपुर: 48 घंटे में 42 बच्चों की मौत, नहीं थम रहा मौतों का सिलसिला. गोरखपुर के बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज में पिछले 48 घंटों में 42 बच्‍चों की मौत की सूचना पर कॉलेज प्रशासन से लेकर प्रशासनिक हलकों में हड़कंप मच गया. बीआरडी मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल पीके सिंह ने बताया कि पिछले 48 घंटों में 42 की मौत हुई हैं,. 42 children died in 48 hours of which 7 due to #encephalitis ,rest due to other reasons:PK Singh,Principal BRD Medical College #Gorakhpur pic.twitter.com/55iPImxMjC. — ANI UP (@ANINewsUP) August 30, 2017 ...और अधिक »

गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में अगस्त महीने तक हुई 296 बच्चों की मौत - Zee News हिन्दी

इस माह 28 अगस्त तक एनआईसीयू में 213 और इंसेफेलाइटिस वार्ड में आज तक 83 समेत कुल 296 बच्चों की मौत हुई है. भाषा भाषा | Updated: Aug 30, 2017, 08:30 PM IST. कमेंट देखें |. गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में अगस्त महीने तक हुई 296 बच्चों की मौत. इस वर्ष अब तक इंसेफेलाइटिस, एनआईसीयू तथा सामान्य चिल्ड्रेन वार्ड में कुल 1256 बच्चों की मौत हो चुकी है. (फाइल फोटो). गोरखपुर: गोरखपुर स्थित बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज में इस महीने कुल 296 बच्चों की मौत हो चुकी है. अपर स्वास्थ्य निदेशक कार्यालय से प्राप्त आंकड़े बताते हैं कि इस वर्ष जनवरी में एनआईसीयू तथा जनरल चिल्ड्रेन वार्ड में 143 और इंसेफेलाइटिस वार्ड में नौ बच्चों की मृत्यु हुई. इसी प्रकार फरवरी में क्रमशः 117 तथा 5, मार्च में 141 तथा 18 ...और अधिक »

गोरखपुर मेडिकल कालेज में 13 और मासूमों ने दम तोड़ा - दैनिक जागरण

गोरखपुर मेडिकल कालेज में 13 और मासूमों ने दम तोड़ा बीते 24 घंटे के दौरान 13 और मासूमों ने इस वार्ड में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। मृतकों में एनआइसीयू के आठ और पीआइसीयू के पांच मरीज शामिल हैं। गोरखपुर (जेएनएन)। बाबा राघवदास (बीआरडी) मेडिकल कालेज के पीडियाट्रिक वार्ड में बच्चों की मौत का सिलसिला थम नहीं रहा। बीते 24 घंटे के दौरान 13 और मासूमों ने इस वार्ड में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। मृतकों में एनआइसीयू के आठ और पीआइसीयू के पांच मरीज शामिल हैं। इनमें मात्र एक मासूम मरीज इंसेफ्लाइटिस से पीडि़त थी। इस दौरान कालेज के पीडियाट्रिक वार्ड में 59 नए मरीज दाखिल किए गए। उधर बीते 24 घंटे के दौरान इंसेफ्लाइटिस के 27 नए मरीज मेडिकल कालेज में भर्ती किए गए ...और अधिक »