बीआरडी में 13 और मासूमों ने दम तोड़ा - दैनिक जागरण

बीआरडी मेडिकल कालेज के पीडियाट्रिक वार्ड में बच्चों की मौत का सिलसिला थम नहीं रहा। बीते 24 घंटे के दौरान 13 और मासूमों ने इस वार्ड में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। मरने वालों में एनआइसीयू के आठ और पीआइसीयू के पांच मरीज शामिल हैं। इनमें मात्र एक मासूम मरीज इंसेफ्लाइटिस से पीड़ित थी। इस दौरान कालेज के पीडियाट्रिक वार्ड में 59 नए मरीज दाखिल किए गए। उधर बीते 24 घंटे के दौरान इंसेफ्लाइटिस के 27 नए मरीज मेडिकल कालेज में भर्ती किए गए। इनमें गोरखपुर के छह, बिहार व महराजगंज के चार-चार, देवरिया, सिद्धार्थनगर व संतकबीर नगर के तीन-तीन और बलिया व बस्ती का एक-एक मरीज शामिल हैं।

गोरखपुर के BRD में पिछले 4 दिन में 76 बच्चों की मौत, अगस्त में मौत का आंकड़ा 399 पहुंचा - Oneindia Hindi

गोरखपुर। गोरखपुर का बीआरडी मेडिकल कॉलेज एक कब्रिस्तान के रूप में बदलता जा रहा है, जहां बच्चों की मौत का सिलसिला अभी जारी है। इस हॉस्पिटल में पिछले 24 घंटों में 13 और 4 दिनों में 76 बच्चों की मौत हो चुकी है। इनमें एनआईसीयू में 08 और पीआईसीयू में अलग-अलग बीमारियों से 5 बच्चों की मौत हुई है। गोरखपुर के इसी हॉस्पिटल में पिछले दिनों ऑक्सीजन की कटौती के कारण 70 से ज्यादा बच्चों की मौत हुई थी। इस तरह अगस्त महीने में अब तक 399 मासूम बच्चों की मौत हो चुकी है। गौरखपुर के BRD में पिछले 4 दिन में 76 बच्चों की मौत. ऑक्सीजन कटौती से हुई बच्चों की मौत के बाद सरकार ने कार्रवाई ...

गोरखपुर के BRD कॉलेज में 8 माह में करीब 1309 मासूम बच्चों की मौत - पंजाब केसरी

गोरखपर: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में स्थित बाबा राघवदास मेडिकल कालेज (बीआरडी) में स्थित बालरोग वार्ड में आज 13 और मासूमों की मौत हो गई। इस मौतों के साथ ही यहां मरने वालों मासूमों की संख्या बढ़कर 1309 पहुंच गई है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि इस मेडिकल कालेज में उपचार के दौरान पिछले जनवरी माह में 152, फरवरी में 122, मार्च में 159, अप्रैल में 123, मई में 139, जून में 137, जुलाई में 128 तथा अगस्त माह में 309 मासूमों की मृत्यु हुई है। उन्होंने बताया कि जिन बच्चों की इस दौरान मृत्यु हुई है उसमें मस्तिष्क ज्वर विभाग, नवजात आयीसीयू तथा पीडियाट्रिक आयीसीयू आदि विभागों के ...

BRD: 8 महीने और 1300 बच्चों की मौत - Samachar Jagat

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर का बीआरडी मेडिकल काॅलजे इस एक माह से इतना सुर्खियों में है जितना शायद पहले कभी नहीं रहा। इस एक महीने के अंदर अलग अलग कारणों के चलते लगभग 309 बच्चों की मौत हो चुकी है। अस्पताल प्रशासन इन मौतों के पीछे अपने अलग-अलग तर्क दे रहा है। इन 309 बच्चों में पिछले 48 घंटों में 60 और आज की बात करे तो 13 और बच्चों ने दम तोड़ दिया है। लगभग पिछले आठ माह में इस अस्पताल में 1309 बच्चों ने दम तोड़ा है। यह आंकड़ा अपने आप में चौकाने वाला है। इसी महीने 10 और 11 अगस्त को शुरू हुआ बच्चों की मौत का सिलसिला बढ़ता ही जा रहा है। उधर प्रदेश सरकार और केंद्र सरकार इस ...

BRD मेडिकल कॉलेज के पूर्व प्राचार्य की गिरफ्तारी के बाद BRD में बढ़ाई गयी सुरक्षा - Khabar NonStop

गोरखपुर। बीआरडी मेडिकल कॉलेज में विगत दिनों ऑक्सीजन की कमी से हुई मौतों के कारण फरार चल रहे निलंबित प्राचार्य दम्पति की कल गिरफ्तारी से आज दिन भर अस्पताल में अफरा तफरी का माहौल बना रहा जिससे यहां का स्थानीय प्रशासन पहले से ही मुस्तैद हो गया था। आज यहां दिन भर प्राचार्य कार्यालय में चली बैठक में मंडलायुक्त, जिलाधिकारी, एडीएम सिटी, एसपी सिटी के साथ साथ प्राचार्य व मेडिकल कॉलेज के कुछ सीनियर डाक्टर भी मौजूद थे। सूत्रों के मुताबिक बैठक में गिरफ्तारी के मद्देनजर उत्पन्न होने वाली परिस्थितियों पर चर्चा की गई। इसी के मद्देनजर किसी भी आपात स्थिति से निपटने के ...

गोरखपुर: बीआरडी में मासूम बच्चों की मौत की संख्या बढ़ी - देशबन्धु

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में स्थित बाबा राघवदास मेडिकल कालेज (बीआरडी) में स्थित बालरोग वार्ड में आज 13 और मासूमों की मृत्यु हो जाने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 1309 पहुंच गयी है... एजेंसी. August 31,2017 01:12. Share: गोरखपुर: बीआरडी में मासूम बच्चों की मौत की संख्या बढ़ी. BRD Medical Collage. Follow @deshbandhunews. गोरखपर। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में स्थित बाबा राघवदास मेडिकल कालेज (बीआरडी) में स्थित बालरोग वार्ड में आज 13 और मासूमों की मृत्यु हो जाने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 1309 पहुंच गयी है। आधिकारिक सूत्रों ने आज बताया कि इस मेडिकल कालेज में उपचार के दौरान पिछले ...

386 मासूमों की मौत के बाद योगी का शर्मनाक बयान- क्या सरकार आपके बच्चों को पालेगी? - ABP News

आपको बता दें कि कुछ पहले ही सीएम आदित्यनाथ बनारस के दौरे पर गए थे. यहां उन्होंने कहा कि स्वाइन फ्लू नाम की बीमारी का होवा सिर्फ लोगों ने बना रखा है. By: एबीपी न्यूज़ | Last Updated: Thursday, 31 August 2017 11:08 AM. Share. yogi adityanath's statement after 386 children death will leave you shocked. नई दिल्ली: गोरखपुर का बीआरडी अस्पताल मासूम बच्चों की कब्रगाह बनता जा रहा है. सिर्फ अगस्त महीने में अस्पताल में भर्ती 386 बच्चों की मौत हुई है. इसमें 36 मौत तो ऑक्सीजन की कमी से हुई थी जिस पर बड़ा हंगामा मचा था. बाकी बच्चों की मौत इंफेलाइटिस से हुई है. 386 बच्चों में से एनआईसीयू में भर्ती 215 औऱ पीआईसीयू ...

बीआरडी त्रासदी: अकेले अगस्त माह में 386 बच्चों की मौत ने तोड़ा रिकॉर्ड - Hindustan हिंदी

बीआरडी मेडिकल कॉलेज में अगस्त महीने में मासूमों की मौतों ने पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। अस्पताल के बाल रोग विभाग में इस महीने में अब तक 386 बच्चों की मौत हो चुकी है। इस साल में यह एक महीने में सबसे ज्यादा मौतें हैं। पिछले तीन दिनों में ही 63 मासूमों की मौत हो चुकी है। अचानक मौतों की संख्या बढ़ने पर शासन ने जिला प्रशासन से रिपोर्ट मांगी है। शिशु गहन चिकित्सा कक्ष (एनआईसीयू) में इस साल में अब तक करीब 1077 नवजातों की मौत हो चुकी है। यह संख्या पिछले वर्ष के मुकाबले 300 अधिक है। जुलाई में यहां 302 नवजात भर्ती हुए जिनमें से 95 की मौत हुई। अगस्त में नवजातों की मौत ...

MoJo: गोरखपुर में इस साल अब तक 1250 बच्चों की मौत - NDTV Khabar

गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत का सिलसिला जैसे डराने वाला है. अगस्त महीने में 290 बच्चों की मौत हुई है. इनमें से 213 बच्चों की मौत नवजात बच्चों के आइसीयू में हुई है, जबकि 77 की मौत इनसेफ़लाइटिस वार्ड में हुई है. बीते दो दिन में वहां 37 बच्चे जान गवां चुके हैं. इस साल अब तक 1250 बच्चों की मौत हो चुकी है. ताज़ातरीन · ख़बरें · मनोरंजन · स्पोर्ट्स; प्राइम शो; स्पेशल; लाइव टीवी. मौजूदा शो. बड़ी ख़बर · बॉलीवुड रैप · सेल गुरु · डॉक्टर्स ऑन कॉल · गुड ईवनिंग इंडिया · हर ज़िन्दगी है ज़रूरी · हम लोग · इंडिया 7 बजे · इंडिया 8 बजे · इंडिया 9 बजे · इंटरनेशनल एजेंडा · कुशलता के कदम ...

अस्पतालों में बच्चों की मौत के सिलसिले से धुंधला जाएगा 'न्यू इंडिया' का सपना - Firstpost Hindi

आजादी के 70 साल बाद भी देश में हर एक मिनट में दो बच्चे दम तोड़ें तो न्यू इंडिया की कल्पना आसमान से तारे तोड़ने जैसी ही लगती है. झारखंड के जमशेदपुर अस्पताल, गोरखपुर के बीआरडी अस्पताल और फर्रुखाबाद के लोहिया अस्पताल में बच्चों की मौत के आंकड़े देखने के बाद विकास की हर बात बेमानी हो जाती है. जिस देश में एक साल में सही और समय पर इलाज न मिलने से 10 लाख बच्चों की मौत हो जाए तो फिर अस्पताल और सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय तक बीमार से दिखाई देते हैं. डॉक्टरों और अस्पतालों के गैरजिम्मेदाराना रवैये को देखते हुए राज्य सरकारों के सिर्फ हेल्थ केयर के लिए फंड अलॉट कर देने भर ...

योगी का BRD अस्पताल: मौतों का आंकड़ा 290 के पार, सिलसिला जारी - bhopal Samachar

लखनऊ। उत्तरप्रदेश के गोरखपुर का बीआरडी मेडिकल कॉलेज अस्पताल अब बच्चों के लिए साक्षात यमराज बन चुका है। अगस्त माह में यहां 290 मौतें हो चुकीं हैं, अभी केलेण्डर बदलना बाकी है। जनवरी से अब तकि 1250 बच्चों की मौतें हो चुकीं हैं। बच्चों की मौत यहां एक सामान्य घटनाक्रम हो गया है। बालरोग रोग विभाग में पिछले 72 घंटों में 61 बच्चों ने दम तोड़ दिया। इनमें से 42 बच्चों की मौत पिछले 48 घंटों के दौरान हुई। लगता है जैसे बच्चों को बचाने के लिए यहां कोई प्रयास नहीं होते। उन्हे मरने के लिए छोड़ दिया जाता है।

बीआरडी में 24 घंटे में 21 और मासूमों ने तोड़ा दम - दैनिक जागरण

बीआरडी मेडिकल कालेज के बाल रोग वार्ड में बीते चौबीस घंटे में 21 और मासूमों की मौत हो गई। इसमें नवजात आइसीयू में भर्ती 11 मासूम व पीडियाट्रिक आइसीयू में भर्ती दस बच्चे हैं। मरने वालों में इंसेफ्लाइटिस पीड़ित संतकबीरनगर की डेढ़ साल की सोनिया व सिकरीगंज, गोरखपुर की डेढ़ साल की शिवानी शामिल हैं। इस साल अब तक बीआरडी मेडिकल कालेज में इंसेफ्लाइटिस के 760 मरीज भर्ती हो चुके हैं जिनमें से 181 की मौत हो चुकी है। पिछले चौबीस घंटे में हुई 21 मौतों को मिलाकर बीते 96 घंटे में मरने वालों की तादाद 75 तक पहुंच गई है। इनमें इंसेफ्लाइटिस के 13 मरीज, नवजात आइसीयू में भर्ती 34 ...

गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में 24 घंटे में फिर 18 और बच्चों की मौत, चार दिन में 79 बच्चे मरे - Patrika

गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में नहीं थम रहा बच्चों की मौतों का सिलसिला, 24 घंटे में फिर 18 बच्चे मरे। गोरखपुर. बाबा राघव दास (बीआरडी) मेडिकल कॉलेज गोरखपुर में बीते 24 घंटों में 18 और बच्चों की मौत हो गई। पिछले चार दिनों में 79 बच्चों की मौत हो चुकी है। मरने वाले बच्चों में 13 इन्सेफेलाइटिस से पीड़ित थे जबकि 36 नवजात शामिल हैं। इतनी बड़ी संख्या में बच्चों की मौत के बाद बुधवार को प्रशासनिक अधिकारियों ने भी मेडिकल कॉलेज का दौरा कर वस्तुस्थिति जानी। देर शाम कमिश्नर अनिल कुमार व डीएम राजीव रौतेला भी मेडिकल कॉलेज पहुंचे थे। उधर, मेडिकल कॉलेज के कार्यवाहक ...

गोरखपुर: BRD मेडिकल कॉलेज में अगस्‍त में 296 बच्चों ने दम तोड़ा - Quint Hindi

यूपी में गोरखपुर के बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज में बच्‍चों की मौत के आंकड़े हैरान करने वाले हैं. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, इस मेडिकल कॉलेज में अगस्‍त में कुल 296 बच्चों की मौत हो चुकी है. साथ ही यहां जनवरी से अब तक 1256 बच्चों की मौत हुई है. स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, इस साल जनवरी में एनआईसीयू समेत जनरल चिल्ड्रेन वार्ड में 143 और इंसेफेलाइटिस वार्ड में 9 बच्चों की मौत हुई. इसी तरह फरवरी में क्रमश: 117 और 5; मार्च में 141 और 18; अप्रैल में 114 और 9; मई में 127 और 12; जून में 125 और 12; जुलाई में 95 और 33; अगस्त माह में 28 तारीख तक एनआईसीयू में 213 और इंसेफेलाइटिस वार्ड ...

जाने क्यों BRD अस्पताल के बाहर तैनात की गई पीएसी! - अमर उजाला

यूपी में गोरखपुर के बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत का सिलसिला जारी है। पिछले 72 घंटों में इस अस्पताल में 61 बच्चों की जान जा चुकी है। वहीं बच्चों की मौत के बाद कोई अप्रिय घटना ना हो, इसलिए एहतियातन अस्पताल के बाहर पीएसी की बटालियन तैनात कर दी गई है। जबकि डीएम के आदेश पर एडीएम रजनीश चन्द, एडी हेल्थ, एसपी नार्थ जांच के लिए मौके पर पहुंचे । AddThis Sharing Buttons. Share to Facebook Share to Twitter Share to WhatsApp Share to Email Share to Pinterest ...

गोरखपुर BRD में फिर 72 घंटे में 63 बच्चों की गई जान, प्रिंसिपल ने कहा सामान्य मौत - दैनिक भास्कर

गोरखपुर: डॉ. पीके सिंह ने बताया, 28 अगस्‍त की रात से 29 की रात 12 बजे तक पिछले 24 घंटे में फिर 21 मासूमों की मौत हो गई। Replay. Prev; |; View Again. गोरखपुर BRD में फिर 72 घंटे में 63 बच्चों की गई जान, प्रिंसिपल ने कहा. +3और स्लाइड देखें. ऑक्‍सीजन की कमी से 30 से ज्यादा बच्‍चों की मौत का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा है कि 72 घंटों में 63 बच्‍चों की मौत होने की बात बुधवार को सामने आई। (फाइल). गोरखपुर. बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बच्‍चों की मौतों का सि‍लसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। यहां 72 घंटे में फिर 63 मासूमों की मौत ने कई फिर कई सवाल खड़े कर दिए हैं। इसमें 11 की मौत इंसेफ्लाइट‍िस से हुई ...

अलार्म: इंसेफेलाइटिस या कुछ और है मासूमों की मौत की वजह - News State

गोरखपुर के बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज (बीआरडी) में मौतों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। पिछले 72 घंटों में 63 बच्चों की मौत हो गई है। बच्चों की मौत के पीछे इंसेफेलाइटिस (जापानी बुखार) वजह बताई जा रही है। पर सवाल ये है कि क्या इन मासूमो को बचाया नहीं जा सकता था? LATEST VIDEO · यूपी सरकार ने 16000 मदरसों को ऑनलाइन करने के दिए आदेश · देश भर में गणेश उत्सव की धूम · आगरा में दो दोस्तो में पैसों को लेकर मारपीट · गाजियाबाद में बोले योगी- केंद्र की तर्ज पर होगा यूपी का विकास. News | Aug 31, 2017. मुंबई में गिरी इमारत में फंसे लोगों का रेस्क्यू ऑपरेशन जारी. News | Aug 31, 2017 ...

गोरखपुर में लगातार हो रही बच्चों की मौत का जिम्मेदार कौन? - News State

पिछले 48 घंटों में हुई 42 मौतों ने गोरखपुर के बीआरडी हॉस्पिटल की मेडिकल सुविधाओं पर सवाल खड़े कर दिए है। जोधपुर के एक हॉस्पिटल में दो डॉक्टरों की बहस ने एक नवजात की जान ले ली। डॉक्टरों को लोगों ने भगवान का दर्जा दिया है अगर वही उनकी जान की परवाह न करे तो लोग किसके पास जाएं। इसी मुद्दे पर बड़ी बहस। LATEST VIDEO · यूपी सरकार ने 16000 मदरसों को ऑनलाइन करने के दिए आदेश · देश भर में गणेश उत्सव की धूम · आगरा में दो दोस्तो में पैसों को लेकर मारपीट · गाजियाबाद में बोले योगी- केंद्र की तर्ज पर होगा यूपी का विकास. News | Aug 31, 2017. मुंबई में गिरी इमारत में फंसे लोगों का रेस्क्यू ...

गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में अगस्त महीने तक हुई 296 बच्चों की मौत - Zee News हिन्दी

इस माह 28 अगस्त तक एनआईसीयू में 213 और इंसेफेलाइटिस वार्ड में आज तक 83 समेत कुल 296 बच्चों की मौत हुई है. भाषा | अंतिम अपडेट: बुधवार अगस्त 30, 2017 - 08:30 PM IST. कमेंट देखें |. गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में अगस्त महीने तक हुई 296 बच्चों की मौत. इस वर्ष अब तक इंसेफेलाइटिस, एनआईसीयू तथा सामान्य चिल्ड्रेन वार्ड में कुल 1256 बच्चों की मौत हो चुकी है. (फाइल फोटो). गोरखपुर: गोरखपुर स्थित बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज में इस महीने कुल 296 बच्चों की मौत हो चुकी है. अपर स्वास्थ्य निदेशक कार्यालय से प्राप्त आंकड़े बताते हैं कि इस वर्ष जनवरी में एनआईसीयू तथा जनरल चिल्ड्रेन वार्ड में 143 और ...