सुर्खियां

शोधकर्ताओं का दावा, चांद पर पानी की पर्याप्त मात्रा में होने के संकेत - Zee News हिन्दी;

शोधकर्ताओं का दावा, चांद पर पानी की पर्याप्त मात्रा में होने के संकेत - Zee News हिन्दी

Zee News हिन्दीशोधकर्ताओं का दावा, चांद पर पानी की पर्याप्त मात्रा में होने के संकेतZee News हिन्दीचंद्रमा की ऊपरी सतह और अंदरूनी हिस्से के बीच में पर्याप्त मात्रा में पानी है. (FILE PHOTO). न्यूयॉर्क: शोधकर्ताओं का कहना है कि चांद की सतह के नीच अंदरूनी हिस्से में बड़ी मात्रा में पानी हो सकता है. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, उपग्रह से मिले आंकड़ों के विश्लेषण से अमेरिका के ब्राउन विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने ज्वालामुखी संग्रहों में या प्राचीन ज्वालामुखी के कारण चंद्रमा की सतह पर फैली चट्टानों के अंदरूनी स्तरों में प्राकृतिक रूप से पानी की पर्याप्त मात्रा होने का पता लगाया है. पत्रिका जियोसाइंस में प्रकाशित शोध में कहा गया है कि यह बताता है कि ...और अधिक »

चांद की सतह के नीचे हो सकता है पानी का विशाल भंडार - Firstpost Hindi;

चांद की सतह के नीचे हो सकता है पानी का विशाल भंडार - Firstpost Hindi

Firstpost Hindiचांद की सतह के नीचे हो सकता है पानी का विशाल भंडारFirstpost Hindiवैज्ञानिकों के मुताबिक चांद की सतह के नीचे के नीचे जलाशय है. यह भंडार 'वॉलकैनिक ग्लास बीड्स' के रूप में वह मौजूद है. इन बीड्स से भविष्य में पानी निकाला जा सकता है और इस पानी का इस्तेमाल एस्ट्रोनॉट्स द्वारा भविष्य में चांद पर बसने के लिए किया जा सकता है. सैटलाइट से मिले डाटा के मुताबिक सतह के नीचे ज्वालामुखी के कई डिपॉजिट हैं जिनके बीच भारी मात्रा में पानी छुपा हुआ है. वैज्ञानिक कई सालो से चांद के सतह के नीचे पर पानी होने की बात कर रहे है. 2008 की एक रिसर्च के मुताबिक अपोलो 15 और 17 के मिशन में लाए गए वॉलकैनिक ग्लास बीड्स में पानी की मात्रा पाई गई थी. 2011 में छोटे ...और अधिक »

चंद्रमा की सतह के नीचे पानी का विशाल भंडार, चांद पर इंसानी बस्तियां बसाने में मिलेगी मदद - नवभारत टाइम्स;

चंद्रमा की सतह के नीचे पानी का विशाल भंडार, चांद पर इंसानी बस्तियां बसाने में मिलेगी मदद - नवभारत टाइम्स

नवभारत टाइम्सचंद्रमा की सतह के नीचे पानी का विशाल भंडार, चांद पर इंसानी बस्तियां बसाने में मिलेगी मददनवभारत टाइम्सपहले ऐसा माना जाता था कि चंद्रमा के दोनों ध्रुवीय क्षेत्रों पर ही थोड़ा पानी हो... न्यू यॉर्क चांद पर भेजे गए अपोलो मून मिशन के दौरान चंद्रमा से जमा किए गए खनिज पदार्थों की दोबारा की गई जांच से कई चौंकाने वाली नई जानकारियां सामने आई हैं। वैज्ञानिकों का कहना है कि चांद से लाए गए खनिजों की फिर से जांच करने से वहां बड़ी मात्रा में पानी मौजूद होने की बात सामने आई है। वैज्ञानिकों का मानना है कि चांद की सतह के नीचे बहुत बड़ी मात्रा में पानी का भंडार है। इस नई खोज के बाद चांद पर भेजे जाने वाले मानव मिशन पहले की तुलना में ज्यादा आसान साबित हो सकते हैं। पहले ऐसा माना ...और अधिक »