केजरीवाल सरकार और DERC ने दिल्ली की जनता के साथ धोखा किया: मनोज तिवारी - नवभारत टाइम्स

प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने आरोप लगाया है कि केजरीवाल सरकार और डीईआरसी ने दिल्ली की जनता के साथ विश्वासघात किया है। सीधे तौर पर तो बिजली की दरों में कोई बढ़ोतरी नहीं दर्शाई गई है, लेकिन फिक्स्ड सरचार्ज की दरों में बदलावों से बिजली कंपनियों को 35 से 40 करोड़ का फायदा पहुंचेगा। तिवारी ने आरोप लगाया कि पिछले 31 महीनों में केजरीवाल सरकार ने दिल्ली में बिजली की दरें घटाने के लिए कोई कोशिश नहीं की, उल्टे बिजली कंपनियों के खातों की जांच के नाम पर छलावा किया गया। बीजेपी नेता ने कहा कि केजरीवाल सरकार चाहती तो केवल रिटर्न ऑन इक्विटी को मौजूदा बैंक ...

केजरीवाल व सत्येंद्र जैन ने दिया झूठा भरोसा, जेब पर पड़ेगा एक हजार करोड़ का भार! - देशबन्धु

दिल्ली विधानसभा में नेता विपक्ष विजेन्द्र गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल सरकार चुनावी वायदों और निरन्तर आश्वासनों के बावजूद भी कल से दिल्ली वासियों के बिजली के बिल बढऩे जा रहे हैं... एजेंसी. September 1,2017 12:05. Share: केजरीवाल व सत्येंद्र जैन ने दिया झूठा भरोसा, जेब पर पड़ेगा एक हजार करोड़ का. Kejrival. Follow @deshbandhunews. हाइलाइट्स. कैसे बढ़ा बिल. नई दिल्ली। दिल्ली की रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशंस की संस्था यूनाइटेड रेजीडेंट ऑफ दिल्ली के महासचिव व बिजली मामले में डीईआरसी में पेश हुए सौरभ गांधी ने कहा कि उपभोक्ताओं से अधिक पैसे वसूले जाएंगे और बिजली के दाम कम करने में ...

सरचार्ज व निर्धारित शुल्क से बढ़ेगा बिजली का बिल, दरों में नहीं की वृद्धि - देशबन्धु

नई दिल्ली। दिल्लीवासियों की जेब पर बिजली के दाम में मामूली बढ़ोत्तरी का भार पड़ेगा। दरअसल बिजली कंपनियों ने सीधे बिजली के दाम न बढ़ाकर निर्धारित शुल्कमें बदलाव के जरिए दिल्लीवासियों की जेब से पैसे निकालने की योजना का ऐलान किया है। दिल्ली विद्युत विनियामक आयोग ने आज नई दरों में कहा कि बिजली के दाम में कोई बदलाव नहीं किया गया है। लेकिन सरचार्ज जरूर बढ़ा दिया गया है और इससे बिल में बढ़ोत्तरी जरूर होगी। हालांकि एक किलोवाट के कनेक्शन वाले उपभोक्ताओं को राहत मिली है व उन्हें 40 रूपए के स्थान पर 20 रुपए देने होंगे। जबकि तीन से पांच किलोवाट तक के कनेक्शन वाले ...

दिल्लीवालों को 'बिजली का झटका', पॉकेट पर पड़ेगी मार - आज तक

दिल्ली में बिजली के दामों में डीईआरसी ने कोई बड़ी बढ़ोतरी नहीं की है, इसके बावजूद दिल्लीवालों पर महंगी बिजली का बोझ पड़ेगा. दिल्ली विद्युत नियामक आयोग ने फिक्स चार्ज में बदलाव किया है. साथ ही जिस पेंशन ट्रस्ट के लिए पहले बिजली कंपनियां 694 करोड़ रुपये देती थी, उसे अब 3.70% के सरचार्ज के साथ आम लोगों से वसूला जाएगा. बिजली के नए दामों में आंकड़ों की बाजीगरी से केजरीवाल सरकार बेशक वाहवाही लूट रही है, लेकिन आम आदमी को महंगाई का थोड़ा झटका लगा है. नए पावर टैरिफ में प्रति यूनिट बिजली की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया गया है, लेकिन फिर भी 2 किलोवाट के कनेक्शन पर ...

बिजली दरें नहीं बढ़ी मगर फि क्स्ड चार्ज बढ़ा - Business Standard Hindi

दिल्ली विद्युत विनियामक आयोग ने लगातार तीसरे साल बिजली दरों में बढ़ातरी नहीं किया लेकिन 2 किलोवॉट से अधिक लोड पर फिक्स्ड चार्ज बढ़ाने की मंजूरी दी है। इससे लोगों के बिजली बिल में थोड़ा इजाफा होगा। 3 से 5 किलोवॉट लोड वाले उपभोक्ताओं का बिल फिक्स्ड चार्ज बढऩे से 5 से 75 रुपये प्रति माह बढ़ेगा जबकि 5 किलोवॉट से अधिक लोड पर 150 से 2,000 रुपये प्रति माह की वृद्घि होगी। हालांकि 1 किलोवॉट के लिए यह चार्ज 20 घटने से 11.72 लाख घरेलू उपभोक्ताओं का बिल 20 रुपये कम आएगा। 5 किलोवॉट तक छोटे वाणिज्यिक प्रतिष्ठïानों को पहले 400 यूनिट खपत पर घरेलू श्रेणी में माना जाता था ...

निजी बिजली कंपनियों को फायदा पहुंचा रही है सरकार : भाजपा - दैनिक जागरण

दिल्ली विद्युत विनियामक आयोग (डीईआरसी) द्वारा घोषित बिजली की दरों का भाजपा ने विरोध किया है। भाजपा का कहना है कि निर्धारित शुल्क बढ़ाकर और अधिभार लगाकर उपभोक्ताओं के साथ अन्याय किया गया है। इससे उपभोक्ताओं को ज्यादा बिजली बिल चुकाना होगा। दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी का कहना है कि निजी बिजली वितरण कंपनियों (डिस्कॉम) को फायदा पहुंचाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार ने बिजली की दरें घटाने के लिए कोई प्रयास नहीं किया। बिजली कंपनियों के खातों की जाच के नाम पर भी केवल छलावा किया गया। उन्होंने कहा कि बिजली कंपनियों द्वारा ...

उपभोक्ताओं को चुकाना होगा ज्यादा बिजली बिल - दैनिक जागरण

राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली : दिल्ली में बिजली की दरें नहीं बढ़ाई गई है। इसके बावजूद उपभोक्ताओं को ज. राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली : दिल्ली में बिजली की दरें नहीं बढ़ाई गई है। इसके बावजूद उपभोक्ताओं को ज्यादा भुगतान करना पड़ेगा, क्योंकि तीन किलोवाट से पांच किलोवाट स्वीकृत लोड के लिए उपभोक्ताओं को प्रतिमाह पांच रुपये से 75 रुपये तक ज्यादा निर्धारित शुल्क का भुगतान करना होगा। इसी तरह से पेंशन ट्रस्ट के लिए उपभोक्ताओं से बिल पर 3.70 फीसद अधिभारभी वसूला जाएगा। बिजली बिल में यह बदलाव एक सितंबर से लागू होगा। दिल्ली विद्युत विनियामक आयोग (डीईआरसी) ने बृहस्पतिवार को वर्ष ...

दिल्ली में अब इस वजह से बढ़ेंगे बिजली के दाम - NDTV Khabar

दिल्ली में बिजली के दाम नहीं बढ़ाए गए हैं लेकिन सरचार्ज जरूर बढ़ा दिया गया है. इससे आपके बिल में बढ़ोत्तरी जरूर होगी. Reported by: रवीश रंजन शुक्ला, Edited by: परिणय कुमार, Updated: 31 अगस्त, 2017 7:12 PM. Share. ईमेल करें. टिप्पणियां. दिल्ली में अब इस वजह से बढ़ेंगे बिजली के दाम. प्रतीकात्मक फोटो. खास बातें. सरचार्ज बढ़ने से बिल में होगी बढ़ोतरी; 1 किलोवाट कनेक्शन वाले को थोड़ी राहत; कृषि के लिए सैंक्शन लोड बढ़ाया गया. नई दिल्ली: दिल्ली में बिजली के दाम नहीं बढ़ाए गए हैं लेकिन सरचार्ज जरूर बढ़ा दिया गया है. इससे आपके बिल में बढ़ोत्तरी जरूर होगी. हालांकि 1 किलोवाट के कनेक्शन ...

दिल्ली में बढ़े बिजली के दाम, भाजपा ने बोला केजरीवाल सरकार पर हमला - दैनिक जागरण

दिल्ली से सांसद मनोज तिवारी ने कहा है कि अरविंद केजरीवाल सरकार और डीईआरसी ने दिल्ली की जनता के साथ विश्वासघात किया है। नई दिल्ली (जेएनएन)। दिल्ली में बिजली वृद्धि को लेकर राजनीति शुरू हो गई है। दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि यदि केजरीवाल सरकार चाहती तो केवल रिटर्न आॅन इक्विटी को वर्तमान बैंक दरों के हिसाब से घटाकर बिजली दरों में 10 से 15 फीसद की कटौती कर सकती थी, लेकिन सरकार ने निजी कंपनियों से मिलीभगत करना जनता को लाभ देने से बेहतर समझा है। दिल्ली से सांसद मनोज ...

दिल्ली में बिजली के दाम बढ़ाने की तैयारी - Firstpost Hindi

2014 के बाद आज गुरुवार को एक बार फिर बिजली दिल्लीवासियों को झटका दे सकती है. दिल्ली में आज बिजली के दाम बढ़ने की उम्मीद है. शाम को दिल्ली विद्युत नियामक आयोग (डीईआरसी) की इस संबंध में एक बैठक होने जा रही है. बैठक में खपत के हिसाब से बिजली यूनिट के रेट बढ़ाए जा सकते हैं. मौजूदा वक्त में 200 यूनिट तक 4 रुपये प्रति यूनिट चार्ज लिया जाता है. वहीं 201 से 400 यूनिट के 5.95 रुपये प्रति यूनिट, 401 से 800 के 7.30 रुपये प्रति यूनिट, 801 से 1200 के 8.10 रुपये प्रति यूनिट और 1200 यूनिट से अधिक पर 8.75 रुपये प्रति यूनिट चार्ज लिया जाता है. लेकिन खास बात ये है कि दिल्ली सरकार 400 यूनिट खपत तक ...

डीईआरसी की बैठक आज, बढ़ सकती हैं दिल्ली में बिजली की दरें - NDTV Khabar

इसकी मांग बिजली कंपनियां काफी दिनों से कर रही थीं. बताया जा रहा है कि प्राधिकरण 5 से 10 फीसद तक बिजली की दरें बढ़ाने का ऐलान कर सकता है. Reported by NDTVindia, Updated: 31 अगस्त, 2017 12:38 PM. Share. ईमेल करें. टिप्पणियां. डीईआरसी की बैठक आज, बढ़ सकती हैं दिल्ली में बिजली की दरें. खास बातें. डीआईआरसी की बैठक आज; दिल्लीवासियों को लग सकता है झटका; बढ़ सकती हैं बिजली की दरें. नई दिल्ली: आज दिल्ली बिजली नियामक प्राधिकरण यानी डीआईआरसी की बैठक है. सूत्रों के हवाले से मिल रही जानकारी के मुताबिक इस बैठक में दिल्ली में बिजली में बिजली की दरें बढ़ाई जा सकती हैं. इसकी मांग ...