Shop With US Online NewsJS

This RSS feed URL is deprecated

GST लागू होने के बाद कारोबार पर पड़ेगा ये 11 असर - आज तक

केन्द्र सरकार 1 जुलाई से वन टैक्स वन नेशन की योजना पर काम करते हुए पूरे देश में GST लागू करने जा रही है. इससे पूरे देश में कारोबार करने के लिए एक जैसा टैक्स ढांचा मिल जाएगा और आर्थिक गतिविधियां मजबूत होने के साथ-साथ तेज हो जाएगी. इंडिया टुडे के संपादक अंशुमान तिवारी के मुताबिक पूरे देश में जीएसटी लागू होने के बाद मध्यम और लंबी अवधि में देश की अर्थव्यवस्था पर ये 11 असर पड़ेंगे. 1. महंगाई नहीं बढ़ेगी या बेहद मामूली बढ़ो‍तरी होगी. 2. कर ढांचा यथावत है इसलिए मांग भी नहीं बढ़ेगी. 3. जीएसटी के चलते अगले दो साल में जीडीपी में किसी खास तेजी की उम्मीद नहीं है. 4. केंद्र या ...और अधिक »

जीएसटी देगा देगा बड़ा तोहफा, कम हो जाएगा आपका बिल - Patrika

हो जाइए तैयार, बहुत कम होने वाला है आपका बिजली का बिल. लखनऊ. पूरे देश को एक बाजार बनाने वाली कर व्यवस्था वस्तु व सेवा कर यानी जीएसटी लागू होने पर बिजली की दरें सस्ती हो सकती हैं। परिषद द्वारा कोयले पर कर की दर पांच फीसदी रखे जाने पर साफ है कि थर्मल एनर्जी का खर्च कम होगा तो बिजली की दरों पर भी उसका असर होगा। बता दें कि कोयले पर वर्तमान में ११.६९ फीसदी की दर से कर लगता था जो घटाकर 5 फीसदी हो जाएगा। वहीं सरकार का दावा है कि जीएसटी लागू होने के बाद महंगाई बढ़ने के बजाए घट सकती है। इसके चलते जिसका महंगा होना लगभग तय है वो है सर्विसेज। यानी मोबाइल फोन का बिल, क्रेडिट कार्ड का ...और अधिक »

दिल्ली विधानसभा ने पारित किया जीएसटी बिल, केजरीवाल ने टैक्स सीमा 10% तक करने को कहा - Zee News हिन्दी

नई दिल्ली: दिल्ली माल एवं सेवा कर (जीएसटी) विधेयक को राज्य विधानसभा ने बुधवार (31 मई) को सर्वसम्मति से पारित कर दिया. दिल्ली के वित्त एवं राजस्व मंत्री मनीष सिसोदिया द्वारा सदन पटल पर पेश किये गये दिल्ली जीएसटी विधेयक को सत्तारूढ़ आप और विपक्षी दल भाजपा के समर्थन से सदन ने पारित कर दिया. इससे पहले विधेयक पर चर्चा में हिस्सा लेते हुये आप विधायक सोमनाथ भारती, अलका लांबा और राजेश गुप्ता के अलावा नेता प्रतिपक्ष विजेन्द्र गुप्ता ने विधेयक को दिल्ली के लिये लाभप्रद बताते हुये इसके लागू होने से दिल्ली की जनता और अर्थव्यवस्था का लाभ होने की बात कही. मुख्यमंत्री ...और अधिक »

GST लागू करने के तरीके से सहमत नहीं केजरीवाल सरकार, सिसोदिया बोले- इससे दिल्ली में बढ़ेगी मंहगाई - एनडीटीवी खबर

नई दिल्‍ली: दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) प्रणाली को लागू करने की प्रक्रिया को दोषपूर्ण बताया और इससे राष्ट्रीय राजधानी में मंहगाई बढ़ने का दावा किया है. सिसोदिया ने जीएसटी की पिछली बैठक में उपभोक्ता वस्तुओं पर तय दरों का हवाला देते हुए कहा कि सैद्धांतिक तौर पर दिल्ली सरकार जीएसटी के पक्ष में है, लेकिन इसे लागू करने के दोषपूर्ण तरीके को देखते हुए महंगाई बढ़ना तय है. सिसोदिया ने मंगलवार को दिल्ली के 30 से अधिक व्यापारी संगठनों के प्रतिनिधियों से मुलाकात के बाद यह बात कही. उन्होंने कहा कि आजादी के बाद अप्रत्यक्ष कर ...और अधिक »

जीएसटी की टैक्स दरों को लेकर मनीष सिसोदिया ने जताई आपत्ति - आज तक

देश के सबसे बड़े टैक्स रिफार्म यानी जीएसटी को लेकर दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री एवं वित्तमंत्री मनीष सिसोदिया दिल्ली के व्यापारियों से मिले और उसके बाद मीडिया के सामने अलग-अलग चीजों पर लगने वाले टैक्स को लेकर आपत्तियां जताईं. मनीष सिसोदिया ने बताया कि जीएसटी एक्ट अपने आप में बहुत अच्छा कांसेप्ट है. हमारी सरकार कल विधानसभा का सत्र बुलाकर इस एक्ट को पास भी करेगी. लेकिन उन्होंने जीएसटी के प्रोसीजर पर सवाल उठाते हुए कहा कि जीएसटी आपाधापी में जनता पर थोपा नहीं जाना चाहिए. ट्रेड विंग्स से मीटिंग के बाद मनीष सिसोदिया ने कई चीजों जैसे ब्रांडेड आंटे पर बढ़ने वाले ...और अधिक »

जीएसटी बदल देगा मप्र की सूरत, टैक्स में वृद्धि, महंगाई पर होगा ऐसे काबू - Patrika

यह कहना है वित्त मंत्री जयंत मलैया का। वे भोपाल के रविन्द्र भवन में आयोजित जीएसटी सेमिनार में बोल रहे थे...आप भी जानें GST के ये फायदे... related story. 250 से ज्यादा वाहनों और दुकानों में तोडफ़ोड़, भारी पुलिस बल तैनात · भोपाल में लौटा अमन, मुख्यमंत्री और नायब काजी ने की अपील · ऐसे बिगड़ी थी भोपाल की फिजा, लौट आया अमन. +14 · ऐसे बिगड़ी थी भोपाल की फिजा, लौट आया अमन. भोपाल। 'जीएसटी लागू हुआ तो मप्र को मिलने वाले टैक्स में तेजी से वृद्धि होगी, क्योंकि एमपी एक कंज्यूमर स्टेट है, यहां यहां प्रोडक्शन कम होता है, खपत ज्यादा होती है।' यह कहना है वित्त मंत्री जयंत मलैया का।और अधिक »

जीएसटी: बिजली होगी सस्ती, मुनाफाखोरों पर रहेगी नजर - दैनिक भास्कर

जीएसटी लागू होने के बाद बिजली की दरें सस्ती हो सकती हैं। इसमें प्रावधान है कि कोयले पर लगने वाला टैक्स 11.7 प्रतिशत से घटकर 5 प्रतिशत हो जाएगा। मनीष दीक्षित | Last Modified - Jun 01, 2017, 05:18 AM IST. जीएसटी: बिजली होगी सस्ती, मुनाफाखोरों पर रहेगी नजर. भोपाल/नई दिल्ली.जीएसटी लागू होने के बाद बिजली की दरें सस्ती हो सकती हैं। इसमें प्राेविजन है कि कोयले पर लगने वाला टैक्स 11.7% से घटकर 5% हो जाएगा। साफ है कि थर्मल एनर्जी का खर्च कम होगा तो बिजली की दरों पर भी उसका असर होगा। आगे जाकर बिजली सस्ती होगी। जीएसटी लागू होने से आम आदमी और कारोबारियों पर क्या फर्क पड़ेगा? इसे लेकर ...और अधिक »

दिल्ली विधानसभा में जीएसटी बिल पास, 1 जुलाई से लागू होगी नई टैक्स नीति - मनी भास्कर

नई दिल्‍ली। गुड्स एंड सर्विस टैक्‍स (जीएसटी) बिल बुधवार को दिल्‍ली विधानसभा में पास हो गया। दिल्‍ली को मिलाकर अब तक 12 राज्‍यों ने इस बिल को मंजूरी दे दी है। केंद्र सरकार 1 जुलाई से जीएसटी को लागू करने की तैयारी कर रही है। यूपी-आंध्र प्रदेश भी दे चुके हैं मंजूरी. उत्तर प्रदेश और आंध्र प्रदेश भी गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (जीएसटी) बिल को मंजूरी दे चुके हैं। इसके साथ ही जीएसटी बिल को 11 राज्यों से मंजूरी मिल गई है। अब 18 राज्यों से इसको मंजूरी मिलनी बाकी है। केंद्र सरकार की जीएसटी बिल को 1 जुलाई से देश भर में लागू करने की योजना है। हो चुकी है टैक्‍स दरों की घोषणा. इससे पहले जीएसटी ...और अधिक »

GST लागू करने के तरीके से सहमत नहीं दिल्ली सरकार,कहा-मंहगाई बढ़ेगी - Quint Hindi

दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने GST को लागू करने की प्रक्रिया को दोषपूर्ण बताया है. सिसोदिया ने दावा किया है कि इससे दिल्ली में मंहगाई बढ़ जाएगी. सिसोदिया ने GST की पिछली बैठक में उपभोक्ता वस्तुओं पर तय टैक्स का हवाला देते हुए कहा कि सैद्धांतिक तौर पर दिल्ली सरकार जीएसटी के पक्ष में हैं, लेकिन इसे लागू करने के तरीकों को देखते हुए महंगाई बढ़ना तय है. सिसोदिया ने मंगलवार को दिल्ली के 30 से अधिक व्यापारी संगठनों के प्रतिनिधियों से मुलाकात के बाद ये बात कही. उन्होंने कहा कि आजादी के बाद अप्रत्यक्ष टैक्स प्रणाली में ये सबसे बड़ा बदलाव है, लेकिन इसमें ...और अधिक »

दिल्ली विधानसभा ने GST बिल को दी मंजूरी, सत्ता पक्ष और विपक्ष ने रखे सुझाव - दैनिक जागरण

नई दिल्ली, राज्य ब्यूरो। दिल्ली विधानसभा ने बुधवार को ध्वनिमत से वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) बिल 2017 को मंजूरी दे दी। बिल को उपमुख्यमंत्री व वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने पटल पर रखा था। जिस पर सत्ता पक्ष और विपक्ष ने विस्तार से अपने सुझाव रखे। अधिकतर विधायकों ने 28 फीसद तक बढ़ाए जा रहे टैक्स को लेकर चिंता व्यक्त की। बाद में दिल्ली विधानसभा ने सत्ता पक्ष के विधायक विशेष रवि द्वारा लाए गए संकल्प प्रस्ताव के साथ बिल को मंजूरी दे दी। संकल्प प्रस्ताव में कहा गया है कि जीएसटी में टैक्स की बढ़ोतरी अधिक से अधिक 10 फीसद ही की जाए। इसमें से 5 फीसद दिल्ली सरकार और 5 फीसद ...और अधिक »