2019 में वीवीपैट मशीनों से लैस ईवीएम से होगा मतदान, 3100 करोड़ मंजूर - Nai Dunia

नई दिल्ली। अगले लोकसभा चुनाव में जब आप इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन यानी ईवीएम का बटन दबाएंगे तो इसके साथ ही एक पर्ची भी निकलेगी। बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय कैबिनेट ने ईवीएम के साथ पर्ची निकालने वाली मशीनों के लिए 3,173.74 करोड़ रुपये के बजट को मंजूरी दी दी है। इस रकम से 16.5 लाख वोटर वेरिफायबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपैट) मशीनें खरीदी जा सकेंगी। केंद्रीय चुनाव आयोग ने कहा है कि इस रकम को मंजूरी के बाद वह अगले चुनाव तक इस व्यवस्था को देश भर में लागू करने के सुप्रीम कोर्ट के आदेश को पूरा कर सकेगा। आयोग ने कहा है कि इन मशीनों का निर्माण ...

पर्ची वाली EVM से होंगे 2019 के चुनाव, मशीनों के लिए 3000 करोड़ मंजूर - आज तक

सरकार ने ईवीएम मशीन पर सवाल उठाने वाले नेताओं की बोलती बंद करने वाला कदम उठा लिया है. वर्ष 2019 में होने वाला देश का अगला लोकसभा चुनाव पूरी तरह वीवीपैट (Voter Vefiable Paper Audit Trail) मशीनों के जरिए ही होगा. वीवीपैट मशीन से वोटर खुद ही यह देख सकेगा कि उसने जिसको वोट दिया था उसी को वोट मिला या नहीं. जरूरत होने पर वोट डालते समय निकले वाली पर्ची से दोबारा गिनती करके उसे ईवीएम के नतीजे से मिलाया भी जा सकेगा. आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने बुधवार को वीवीपैट मशीनों की खरीद के लिए 3,174 करोड़ रुपए के फंड को मंजूरी दे दी है. कैबिनेट की बैठक में सरकार ने ये फैसला किया कि 16 लाख 15 ...

2019 लोकसभा चुनाव: EVM में लगेगी पेपर ट्रेल मशीन, केंद्र ने दी मंजूरी - Hindustan हिंदी

चुनाव में उपयोग के लिए पेपर ट्रेल मशीनों की खरीद के चुनाव आयोग के प्रस्ताव को बुधवार को केंद्रीय कैबिनेट ने मंजूरी प्रदान कर दी। आयोग ने देश के सभी मतदान केंद्रों के लिए 16,15,000 वोटर वैरीफिएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपीएटी) मशीनें खरीदने के लिए सरकार से 3,174 करोड़ रुपये की मांग की थी। सरकार ने यह फैसला ऐसे समय में लिया है जब विपक्षी दलों द्वारा आने वाले सभी चुनाव में ईवीएम के साथ पेपर ट्रेल मशीन के उपयोग की मांग तेज हो रही है। सोलह राजनीतिक दलों ने हाल ही में चुनाव आयोग के समक्ष अपने ज्ञापन में पारदर्शिता के लिए पेपर बैलेट प्रणाली लागू करने को कहा था। बीएसपी, आप और ...

जानिए क्या है VVPAT मशीन और क्या है इसकी खासियत - Bharat Khabar

नई दिल्ली। पांच राज्यों में संपन्न विधान सभा चुनावों के बाद ईवीएम मशीन को लेकर विपक्षी दलों की ओर से जिस तरह सवाल उठाए गए और पेपर ट्रेल मशीन (वीवीपीएटी) के उपयोग की मांग की गई उसके मद्देनजर केंद्र सरकार ने एक अहम फैसला लिया है। इसके तहत आगामी चुनावों के लिए पेपर ट्रेल मशीनों की खरीद के चुनाव आयोग के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। मंत्रिमंडल ने नए इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों की खरीद के लिए अब तक दो किस्तों में 1,009 करोड़ रूपये और 9,200 करोड़ रूपये को मंजूरी प्रदान कर चुकी है। जानिए क्या है VVPAT मशीन:- इस मशीन का पूरा नाम है वोटर वेरीफाइड पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपीएटी) इस मशीन ...

पेपर ट्रेल मशीन की खरीद के लिए चुनाव आयोग को कोष मिला - नवभारत टाइम्स

नयी दिल्ली, 19 अप्रैल :भाषा: केंद्रीय मंत्रिमंडल ने आने वाले चुनाव मंंे उपयोग के लिए पेपर ट्रेल मशीनों की खरीद के लिए 3,174 करोड़ रूपये को मंजूरी दे दी जिसका प्रस्ताव चुनाव आयोग ने किया था। इस उद्देश्य से सभी मतदान केंद्रों के लिए कुल 16,15,000 वोटर वेरिफाइएबल पेपर आडिट ट्रायल :वीवीपीएटी: मशीन की खरीद की जायेगी । यह निर्णय ऐसे समय में किया गया है जब विपक्षी दलों की ओर से आने वाले सभी चुनाव में ईवीएम के साथ पेपर ट्रेल मशीन के उपयोग की मांग तेज हो रही है ताकि इस बारे में संदेह को दूर किया जा सके । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्ष में हुई कैबिनेट की बैठक में संक्षिप्त ...

VVPAT मशीन संबंधी EC के प्रस्ताव को मोदी कैबिनेट ने दी मंजूरी - Zee News हिन्दी

नई दिल्लीः केंद्रीय मंत्रिमंडल ने आने वाले चुनाव में उपयोग के लिए पेपर ट्रेल मशीनों की खरीद के चुनाव आयोग के प्रस्ताव को आज मंजूरी दे दी. यह निर्णय ऐसे समय में किया गया है जब विपक्षी दलों की ओर से आने वाले सभी चुनाव में ईवीएम के साथ पेपर ट्रेल मशीन के उपयोग की मांग तेज हो रही है ताकि इस बारे में संदेह को दूर किया जा सके. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्ष में हुई कैबिनेट की बैठक में संक्षिप्त चर्चा के बाद वीवीपीएटी यूनिटों की खरीद के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की. चुनाव आयोग ने देश के सभी मतदान केंद्रों के लिए 16 लाख से अधिक पेपर ट्रेल मशीनों की खरीद के लिए 3,174 ...

VVPAT: 2019 के चुनाव में आप जब वोट देंगे तो निकलेगी पर्ची - ABP News

नई दिल्ली: केंद्रीय कैबिनेट ने ने आने वाले चुनाव लिए पेपर ट्रेल मशीनों की खरीद के चुनाव आयोग के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी. इस फैसले के बाद अब तय हो गय है कि 2019 का लोकसभा चुनाव ईवीएम के साख वीवीपीएटी लगी मशीनों के साथ ही होगा. सरकार का यह फैसला ऐसे समय में आया है विपक्ष ईवीएम के साथ पेपर ट्रेल मशीन के इस्तेमाल की मांग कर रहा है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्ष में हुई कैबिनेट की बैठक में चर्चा के बाद 16 लाख वीवीपीएटी मशीनों की खरीद के लिए 3,174 करोड़ रूपये की मंजूरी दे दी गई. चुनाव को यह रकम दो किस्तों 1,009 करोड़ रूपये और 9,200 करोड़ रूपये में दी जाएगी. जून 2014 के ...

जानिए क्या है नई वीवीपीएटी मशीन - Webdunia Hindi

नई दिल्ली। कैबिनेट बैठक के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने घोषणा की कि सरकार 16 लाख से ज्यादा वीवीपीएटी मशीनें खरीदेगी। कैबिनेट ने 3,000 करोड़ रुपए नई ईवीएम मशीनों की खरीद को मंजूरी दे दी है। यह निर्णय विपक्षी दलों द्वारा लगातार ईवीएम मशीन पर संदेह और भविष्य में होने वाले चुनावों में वीवीपीएटी मशीन के प्रयोग की मांग पर लिया गया है। चुनाव आयोग 2014 से अब तक 11 बार सरकार को वीवीपीटी मशीनों के लिए कह चुका था। विधानसभा चुनावों में भाजपा की जीत के बाद विरोधी पार्टियों ने ईवीएम में गड़बड़ी होने की बात कही थी। यह भी मांग की गई थी कि आगामी चुनावों में वीपीपीएटी का ...

इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों की खरीद के प्रस्ताव को मिली मंजूरी - देशबन्धु

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को निर्वाचन आयोग (ईसी) के कागज रसीद वाली इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों की खरीद के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी... देशबन्धु ब्यूरो. April 19,2017 05:10. Share: इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों की खरीद के प्रस्ताव को मिली मंजूरी. Electronic Voting Machine. Follow @deshbandhunews. नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को निर्वाचन आयोग (ईसी) के कागज रसीद वाली इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों की खरीद के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। मंत्रिमंडल की बैठक के बाद केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने संवाददाताओं से कहा कि निर्वाचन आयोग के आकलन के अनुसार इलेक्ट्रॉनिक ...

2019 के चुनाव में पर्ची से जान सकेंगे किसको दिया वोट, नई EVM के लिए 3000 करोड़ मंजूर - नवभारत टाइम्स

EVM पर जारी बहस के बीच केंद्रीय मंत्रिमंडल ने आने वाले चुनाव में उपयोग के लिए पेपर ट्रेल मशीनों की खरीद के चुनाव आयोग के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। अगर सितंबर 2018 तक ये सारी EVM बनकर तैयार हो जाएंगी तो 2019 के लोकसभा चुनाव में हर कोई आश्वस्त हो सकेगा कि उसने किसको वोट दिया है। यह निर्णय ऐसे समय में किया गया है जब विपक्षी दलों की ओर से चुनाव में EVM के साथ पेपर ट्रेल मशीन के उपयोग की मांग तेज हो रही है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में छोटी सी चर्चा के बाद मतदाता सत्यापन की पर्ची दिखाने वाली मशीन (VVPAT) के खरीद के प्रस्ताव को मंजूरी ...

अब EVM से छेड़छाड़ होगी असंभव, सरकार ने VVPAT मशीनों को दी मंजूरी - Khabar NonStop

नई दिल्ली। EVM से छेड़छाड़ के लग रहे आरोपों के बीच आज सरकार ने बड़ा फैसला किया है। बता दें कि सरकार ने सभी EVM मशीनों में VVPAT मशीन लगाने की मंजूरी दे दी है। यही नहीं सरकार ने इसके लिए फंड भी जारी कर दिया है। सरकार ने VVPAT मशीन लगाने के लिए चुनाव आयोग को दो किस्तों में पैसा भी जारी कर दिया है। गौरतलब है कि सरकार ने 1009 करोड़ और 9200 करोड़ रुपए की दो किस्त भी इसके लिए जारी कर दी हैं। साल 2014 से मांग कर रहा था चुनाव आयोग. चुनाव आयोग द्वारा VVPAT मशीन लगाने की मांग साल 2014 से ही कर रहा था। बताया जा रहा है कि इसके लिए चुनाव आयोग सरकार को करीब 11 बार अर्जियां भेज चुका ...

क्या होती है VVPAT और कैसे करती है काम? - Oneindia Hindi

VVPAT का फायदा यह होता है कि जब कोई भी शख्स ईवीएम का इस्तेमाल करते अपना वोट देता है तो इस मशीन में वह उस प्रत्याशी का नाम भी देख सकता है, जिसे उसने वोट दिया है। By: Anujkumar Maurya. Published: Wednesday, April 19, 2017, 16:05 [IST]. Subscribe to Oneindia Hindi. नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनर निर्वाचन आयोग ने नई पहल शुरू कर दी है। इस पहल का नाम VVPAT है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कैबिनेट के फैसलों की जानकारी देते हुए कहा कि अगस्त 2018 तक 16 लाख 15 हजार वीवीपीएटी मशीनों की खरीद की जाएगी। आइए जानते हैं क्या होता है VVPAT और कैसे काम करती है ये मशीन? ये भी पढ़ें- ...

क्या अब नहीं करेगा विपक्ष ईवीएम पर बवाल, केंद्र ने दी VVPAT मशीनों को मंजूरी - इंडिया संवाद

चुनाव आयोग ने 13 वें खत के बाद आखिरकार केंद्र सरकार ने ईवीएम के लिए वेरीफिएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपीएटी) खरीदने पर मुहर लगा दी है। क्या अब नहीं करेगा विपक्ष ईवीएम पर बवाल, केंद्र ने दी VVPAT मशीनों को मंजूरी. 19 April 03:58 2017. Share: 0 comments 0 share. इंडिया संवाद ब्यूरो. नई दिल्ली : चुनाव आयोग के 13वें खत के बाद आखिरकार केंद्र सरकार ने ईवीएम के लिए वेरीफिएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपीएटी) खरीदने पर मुहर लगा दी है। यह फैसला बुधवार को कैबिनेट की बैठक में लिया गया। चुनाव आयोग लम्बे समय से केंद्र सरकार को वीवीपीएटी खरीदने के लिए पैसे की मांग कर रहा था। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ...

EVM विवाद पर लगाम, केन्द्र ने VVPAT मशीन खरीद को दी मंजूरी - Patrika

ईवीएम में गड़बड़ी की आरोप को लेकर जारी विवाद पर लगाम लगाने के लिए केन्द्र सरकार ने बुधवार को बड़ा फैसला लिया। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने चुनाव में इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के साथ लगने वाली वोटर वेरिफियएबल पेपर ऑडिट ट्रायल सिस्टम ( वीवीपैट) की खरीद को बुधवार को मंजूरी दे दी । नई दिल्ली. ईवीएम में गड़बड़ी की आरोप को लेकर जारी विवाद पर लगाम लगाने के लिए केन्द्र सरकार ने बुधवार को बड़ा फैसला लिया। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने चुनाव में इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के साथ लगने वाली वोटर वेरिफियएबल पेपर ऑडिट ट्रायल सिस्टम ( वीवीपैट) की खरीद को बुधवार को मंजूरी दे दी ...

कैबिनेट के इस फैसले के बाद अब ईवीएम की विश्वसनीयता पर सवाल उठाना आसान नहीं होगा - सत्याग्रह

केंद्र सरकार ने चुनाव आयोग के प्रस्ताव को स्वीकार करते हुए वोटर वेरीफिएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपीएटी) मशीनों को खरीदने की मंजूरी दे दी है. केंद्रीय कैबिनेट ने यह फैसला बुधवार की बैठक में लिया. इससे पहले चुनाव आयोग ने 2019 के लोकसभा चुनाव को वीवीपीएटी युक्त इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) से कराने के लिए 16 लाख वीवीपीएटी मशीनों की जरूरत बताई थी और सरकार से इसके खरीद प्रस्ताव को मंजूरी देने की मांग की थी. वीवीपीएटी एक तरह का प्रिंटर होता है, जिसे ईवीएम से जोड़ा जाता है. इससे मतदान के बाद संबंधित पार्टी के चुनाव चिह्न की एक पर्ची निकलती है, जिसे देखकर मतदाता यह ...

मोदी कैबिनेट ने दी VVPAT खरीद को हरी झंड़ी - Hari Bhoomi (कटूपहास) (प्रेस विज्ञप्ति) (सदस्यता) (ब्लॉग)

मोदी कैबिनेट ने बुधवार को इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन यानी ईवीएम में लगाई जानेवाली VVPAT की खरीद के चुनाव आयोग के प्रस्ताव को हरी झंड़ी दे दी है। चुनाव आयोग इन मशीनों को अगले लोक सभा चुनाव में इस्तेमाल करेगी। आयोग 16 लाख VVPAT मशीन खरेदगी जिसमें 3174 करोड़ का खर्च आएगा। हालांकि ये अबी साप नहीं हुआ है कि ये राशि एक साथ दी जाएगी या किश्तों में जारी होगी। Cabinet clears EC's proposal of VVPAT machines https://t.co/XDiDZgSyoQ pic.twitter.com/SJVzKAl61x. — ANI Digital (@ani_digital) April 19, 2017. इसे भी पढ़ें: भारत को फिर वापस मिला यो बड़ा दर्जा. उल्लेखनीय है कि ईवीएम मशीनों की खरीददारी के लिए ...

वीवीपैट खरीद की मंत्रिमंडल ने दी मंजूरी - Punjab Kesari

नई दिल्ली : केंद्रीय मंत्रिमंडल ने चुनाव में इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के साथ लगने वाली वोटर वेरिफियएबल पेपर ऑडिट ट्रायल सिस्टम ( वीवीपैट) की खरीद को आज मंजूरी दे दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की आज यहां हुई बैठक में इस प्रस्ताव को मंजूरी दी गयी। चुनाव आयोग ने सरकार से वीवीपैट की खरीद के लिए धन जारी करने का अनुरोध किया था। गौरतलब है कि पिछले दिनों पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद विपक्षी दलों ने ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायत की थी और भविष्य में चुनाव बैलेट पेपर से कराने की मांग की थी। कांग्रेस ने इसी सप्ताह ...

मोदी सरकार का बड़ा फैसला, 1 मई के बाद से देश में नहीं चलेंगे लाल बत्ती वाले वाहन - प्रभात खबर

नयी दिल्ली : केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने वीवीआईपी कल्चर पर बड़ा फैसला लिया है. केंद्रीय कैबिनेट ने फैसला लिया है कि देश में 1 मइें के बाद से कोई भी व्यक्ति अपनी गाड़ी पर लाल बत्ती का इस्तेमाल नहीं कर सकता है. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर बताया कि देश में कोई भी व्यक्ति 1 मई से देश में लाल बत्ती वाले वाहन का इस्तेमाल नहीं कर पाएगा, इसके लिए कोई अपवाद भी नहीं है. जेटली ने कहा, नीली बत्ती को लेकर राज्य सरकार फैसला लेती है, लेकिन इस नियम को भी बदला जा रहा. उन्‍होंने बताया कि ऐंबुलेंस, फायर ब्रिगेड जैसी इमरजेंसी वीइकल्स के लिए नीली बत्ती होगी.

केंद्र सरकार खरीदेगी 16 लाख EVM मशीन - News Track

नईदिल्ली। EVM की आपूर्ति को लेकर केंद्रीय वित्त एवं रक्षामंत्री अरूण जेटली ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए कहा कि अभी 16 लाख मशीन और चाहिए। इनकी खरीदी की जाएगी। दरअसल केंद्रीय मंत्री अरूण जेटली ने कैबिनेट की बैठक के बाद इस मामले में उपस्थितों को संबोधित किया। कैबिनेट ने वीवीपैट की खरीदी को स्वीकृति दी। उन्होंने कहा कि सरकार इन ईवीएम मशीनों को खरीदेगी। जिससे देशभर में विभिन्न क्षेत्रों में होने वाली चुनावी प्रक्रिया को गति दी जा सके। गौरतलब है कि हाल ही में ईवीएम में गड़बड़ियों की शिकायत उत्तरप्रदेश और पंजाब विधानसभा चुनाव के बाद बहुजन समाज पार्टी की ...

ईवीएम पर उठ रहे सवालों के बीच सरकार का बड़ा फैसला, वीवीपीएटी मशीनों के लिए जारी किए 3000 करोड़ - India.com हिंदी

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने बुधवार को नई वीवीपीएटी (वोटर वेरिफाइड पेपर ऑडिट ट्रेल) मशीनें खरीदने के चुनाव आयोग के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है. इसके तहत तीन हजार करोड़ रुपये की नई ईवीएम मशीनें खरीदी जाएंगी जिसमें वोट डाले जाने के बाद कागज की रसीद प्रिंट होकर निकलती है. सरकार ने यह फैसला ऐसे समय में किया है जब विपक्षी दलों की ओर से आने वाले सभी चुनाव में ईवीएम के साथ पेपर ट्रेल मशीन के उपयोग की मांग तेज हो रही है ताकि इस बारे में संदेह को दूर किया जा सके. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में चर्चा के बाद वीवीपीएटी यूनिटों की खरीद के ...