हथनीकुंड से छोड़ा गया 94 हजार क्यूसेक पानी, बाढ़ की आंशका बढ़ी - अमर उजाला

पहाड़ों पर बारिश के चलते यमुना नदी एक बार फिर उफन आई है। सोमवार दोपहर हथिनीकुंड बैराज से 94 हजार क्यूसेक पानी यमुना नदी में छोड़ा गया। सिंचाई विभाग के अफसरों ने वेस्ट यूपी के शामली, सहारनपुर, बागपत, गाजियाबाद और राजधानी दिल्ली को अलर्ट कर दिया है। हथिनीकुंड बैराज से छोड़े गए पानी का असर मंगलवार की सुबह तक शामली जिले में दिखाई देना शुरू हो जाएगा। पिछले 15 दिनों में यमुना का जलस्तर घट बढ़ रहा था। दो दिनों से पहाड़ो पर बारिश होने से सोमवार की सुबह छह बजे से यमुना का जलस्तर बढ़ना शुरू हो गया था। सुबह छह बजे यमुना का जलस्तर 25 हजार क्यूसेक रिकार्ड किया गया था। दोपहर दो ...

यमुना में छोड़ा गया 1.41 लाख क्यूसेक पानी, जलस्तर बढ़ा - दैनिक जागरण

कैराना : पहाड़ों पर लगातार बारिश के चलते एक बार फिर हथिनीकुंड बैराज से यमुना में पानी छोड़ा जाना शुरू हो गया है। सोमवार को यमुना में एक लाख 42 हजार से अधिक क्यूसेक पानी छोड़ा गया। इससे यमुना के जलस्तर में तो बढ़ोत्तरी हो रही है। फिलहाल बाढ़ का खतरा नहीं है। पिछले कई दिन से पहाड़ों पर रुक-रुककर हो रही बारिश के चलते हथिनीकुंड बैराज से यमुना में पानी छोड़ा गया है। ड्रेनेज विभाग के मुताबिक सोमवार को सुबह छह बजे हथिनीकुंड बैराज से यमुना में 47,252 क्यूसेक पानी छोड़ा गया। इसे बाद दोपहर में दो बजे 94,210 क्यूसेक पानी छोड़ा गया। कुल मिलाकर पूरे दिन में 1,41,462 क्यूसेक पानी ...

पहाड़ी क्षेत्र में भारी बारिश से उफान पर यमुना, हरियाणा में अलर्ट - दैनिक जागरण

पहाड़ी क्षेत्रों में भारी बाऱिश से यमुना नदी उफान पर है। हथनीकुंड बैराज पर जलस्तर 94 हजार क्यूसेक पर पहुंच चुका है। बाढ़ जैसे हालात बने हुए हैं। जेएनएन, यमुनानगर । पहाड़ों में सोमवार को मूसलाधार बारिश के कारण यमुना उफान पर आ गई है। जलस्तर बढऩे से नदी के आसपास के क्षेत्र में बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं। इस दौरान हथनीकुंड बैराज पर नदी का जलस्तर 94 हजार क्यूसेक को पार कर गया। इस कारण बैराज से निकलने वाली उत्तर प्रदेश व हरियाणा की नहरों की जलापूर्ति रोक दी गई है। वहीं, हाइडल लिंक चैनल के बंद हो जाने से हाइडल प्रोजेक्ट पर बिजली उत्पादन भी ठप हो गया है। 72 घंटे में दिल्ली ...

हथिनीकुंड बैराज से छोड़ा पानी, दिल्ली में बाढ़ का खतरा - पंजाब केसरी

यमुनानगर (सुमित ओबरॉय):पहाड़ी क्षेत्रों में लगातार हो रही बारिश ने तबाही मचा दी है, जिसके चलते यमुना नदी का जलस्तर बढ़ गया है। बढ़ते जलस्तर से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इससे पहले कोई अनहोनी हो यमुना से स्ट्टे इलाकों में प्रशासन ने अलर्ट जारी कर दिया है। यमुनानगर के हथिनीकुंड बैराज से 87580 क्यूसिक पानी रिलीज किया गया है। इस पानी को दिल्ली के निचले हिस्सों से निकाला जाएगा। बताया जा रहा है कि इन इलाकों में पानी तबाही भी मचा सकता है।