आपको महंगा पड़ेगा परिवार के साथ हवाई सफर, चुकाने होंगे ज्यादा पैसा - दैनिक जागरण

नई दिल्ली: सीट सिलेक्शन फी या फैमिली फी के नाम पर एयरलाइंस कंपनियों ने ऐसे लोगों के जरिए अपना रेवेन्यू बढ़ाने की आजमाइश शुरु की है जो परिवार के साथ हवाई सफर करना पसंद करते हैं। हालांकि यह अवधारणा 8 साल पहले की है, लेकिन भारत में इस साल ही शुरू हुई है। मई में एयर इंडिया ने यह फी लागू की तो हाल ही में जेट एयरवेज ने भी सीट सेलेक्शन फी रिवाइज की है। मौजूदा समय में मुंबई से लंदन जाने के लिए तीन सदस्यों के एक परिवार को साथ बैठना है तो एयर एशिया में कुल 9,000 रुपए ज्यादा देने होंगे, वहीं जेट एयरवेज इनसे 4,500 रुपए ज्यादा वसूलेगा। लेकिन अगर, परिवार को आगे की सीट पर बैठना हो तो उसे ...

हवाई सफर मंहगा, पसंदीदा सीट के नाम पर होगी वसूली! - मनी कॉंट्रोल

एयरलाइन कंपनियां भले ही सेल लगा लगा कर सस्ते टिकट बेच रही हो लेकिन वो दूसरे रास्ते से लगातार आपकी जेब काटने की कोशिश में भी रहती हैं। ऐसा ही एक उदाहरण है पसंदीदा सीट का, अगर अपनी पसंद की सीट चाहिए तो ज्यादा पैसे लाइये। पूरे परिवार को साथ बैठना है, अब तो न चाहते हुए भी ज्यादा पैसे देने ही होंगे और ये कोई छोटी मोटी रकम नहीं है अगर आप अंतरराष्ट्रीय सफर कर रहे हैं तो आपसे सीट के लिए 3500 रुपये तक देने होंगे। कितना जायज है ये सीट सिलेक्शन चार्च परिवार के साथ बैठने में आखरी अलग से पैसे क्यों। बता दें कि सीट सेलेक्शन के लिए एयरलाइन के ज्यादा चार्ज लगा रही है। वहीं पसंदीदा सीट ...

परिवार के साथ हवाई सफर हुआ महंगा - मनी कॉंट्रोल

अब आपके काम की दो जरूरी खबर, एक राहत और दूसरी आफत। पासपोर्ट बनवाने में कुछ राहत मिली है तो वहीं एयरलाइंस कंपनियों फैमिली टिकट के चार्ज को महंगा कर दिया है। पहले शुरू फ्लाइट्स में एक्स्ट्रा चार्ज की मार की खबर की बात करते हैं। फ्लाइट्स में परिवार के साथ बैठना चाहते हैं तो आपको अपनी जेब ज्यादा ढीली करनी होगी। एयरलाइंस ने एक साथ सीट देने के एवज ज्यादा चार्ज कर कमाई की नई तरकीब निकाली है। जेट एयरवेज ने ट्रैवल एजेंट्स को चिठ्टी लिख कर पसंदीदा सीट्स लेने की नई दरें बताई। इसी साल एयर इंडिया ने भी सीट सेलेक्शन पर ज्यादा चार्ज लेना शुरू किया था। बता दें कि सीट सेलेक्शन के ...

फ्लाइट में फैमिली के साथ चाहिए मनपसंद सीट तो देना होगा अधिक किराया - Live हिन्दुस्तान

अगर आप अपने परिवार के साथ या दोस्तों के पास वाली सीट पर बैठकर यात्रा करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको अतरिक्त पैसा चुकाना होगा। दुनियाभर में एयरलाइंस कंपनियां सीट सिलेक्शन फीस या फैमिली फीस के नाम से इनसे ज्यादा पैसे वसूलती रहीं हैं। लेकिन अब ये फीस भारत में इस साल से शुरू होने वाली है। मई में एयर इंडिया ने यह फीस लागू की थी इसके बाद अब जेट एयरवेज ने भी सीट सेलेक्शन फीस की शुरूआत कर दी है। टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक, एयरइंडिया में वर्तमान में, तीन लोगों के एक परिवार को मुंबई से लंदन की एकतरफा यात्रा में एक साथ बैठने के लिए 9,000 रुपए अतिरिक्त देने होते ...

अब फ्लाइट में परिवार संग बैठने हुअा मंहगा - पंजाब केसरी

मुंबईः विमान में अपने रिश्तेदारों और परिवार के सदस्यों के बगल में बैठने के लिए अब आपको टिकट बुक कराते समय अतिरिक्त राशि का भुगतान करना पड़ेगा। एयर इंडिया ने यह प्रक्रिया मई माह में शुरु की थी लेकिन अब जेट एयरवेज ने भी सीट चयन का विकल्प शुरु कर दिया है। अभी तक परिवार के तीन सदस्यों को एक साथ सफर करते समय अतिरिक्त भुगतान करना होगा। उदाहरण के तौर पर अगर अगर आप तीन लोगों के साथ मुंबई से लंदन जा रहे हैं तो एयर इंडिया में आपको 9000 रुपए अतिरिक्त देना होगा जबकि जेट एयरवेज में आपको 4500 रुपए अतिरिक्त देना होगा। लेकिन अगर आपको दरवाजे के पास अतिरिक्त लेग रूम चाहिए तो इसके लिए ...

परिवार के साथ बैठकर हवाई यात्रा करना पड़ेगा महंगा - Patrika

अगर आप भी अपने पूरे परिवार के साथ हवाई यात्रा पर जाते हैं तो आपके लिए एक बुरी खबर है। नई दिल्ली। अगर आप भी अपने पूरे परिवार के साथ हवाई यात्रा पर जाते हैं तो आपके लिए एक बुरी खबर है। एयरलाइन कंपनियां परिवारों के बीच भावनात्मक लगाव को भी कैश करना चाहती हैं। एयरलाइन्स को सबसे ज्यादा कमाई साथ में छुट्टियों पर जाने वाले परिवार ही दे रहे हैं। परिवार के सदस्यों को साथ बैठने के लिए देने होगा अतिरिक्त चार्ज. अब इसके लिए एक अलग नियम निकाला गया है। अगर पूरे परिवार ने हवाई यात्रा करने के लिए टिकट बुक कराई है तो आपको अपने परिवार के सदस्यों के साथ वाली सीटों के लिए ज्यादा पैसे भरने ...

प्लेन में परिवार के साथ बैठना है तो देना होगा अतिरिक्त चार्ज - Jansatta

फैमिली फी कहा जाने वाला यह चार्ज दुनियाभर में तो आठ साल पहले से लागू है, लेकिन अब इसने भारत में भी दस्तक दे दी है। Author जनसत्ता ऑनलाइन December 22, 2016 12:30 pm. एयरलाइंस कंपनियों के विज्ञापन में भले ही परिवार को खास अहमियत दी जाती हो, लेकिन अब इन कंपनियों ने परिवारों के जरिए ही अपनी कमाई में और इजाफा करने का रास्ता खोज लिया है। एयरलाइंस इंडस्ट्री अब एक साथ बैठने की इच्छा रखने वाले परिवार के सदस्यों से पैसे वसूलना शुरू करने वाली है। सीट सिलेक्शन फी या फैमिली फी कहा जाने वाला यह चार्ज दुनियाभर में तो आठ साल पहले से लागू है, लेकिन अब इसने भारत में भी दस्तक दे दी है।

फ्लाइट में अपनों के पास बैठने के लिए देने होंगे अधिक पैसे - Nai Dunia

मुंबई। सगे-संबंधियों के साथ एयरलाइन का विज्ञापन लुभावना दिखता है, लेकिन एयरलाइन के बोर्डरूम ने परिवारों के लोगों के साथ बैठने से भी पैसे कमाने का इंतजाम कर लिया है। राजस्व पैदा करने की नई स्कीम के तहत परिवार के लोगों को एक साथ बैठने के लिए उनसे अतिरिक्त भुगतान लिया जाएगा। दुनिया भर में विभिन्न एयरलाइन्स इसे 'सीट सेलेक्शन फीस' या 'फैमिली फीस' कहती हैं। इसकी शुरुआत आठ साल पहले हुई थी, लेकिन भारत में इस सेवा को इस वर्ष ही शुरू किया गया है। एयर इंडिया ने मई से इस शुल्क को लगाना शुरू किया था। वहीं, निजी एयरलाइंस जेट एयरवेज ने हाल ही में अपनी सीट चयन शुल्क को संशोधित ...