This RSS feed URL is deprecated

सरकार ने घटाई स्माल सेविंग स्कीम की ब्याज दर, जानिए आपके लिए कौन सी योजना बेहतर - दैनिक जागरण

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने छोटी बचत योजनाओ को लेकर आज एक बड़ा फैसला किया है। सरकार ने इन योजनाओ पर मिलने वाली ब्याज दर को 0.1 फीसद घटा दिया है। छोटी बचत योजनाओं में सुकन्या समृद्धि योजना, लोक भविष्य निधि (पीपीएफ), वरिष्ठ नागरिक जमा बचत योजना और किसान विकास पत्र आते हैं। आज हम आपको अपनी खबर के माध्यम से इन सभी के बारे में बताने की कोशिश करेंगे, आप खुद तय करें कि आपके लिए इनमें से किस योजना में निवेश करना बेहतर रहेगा। सुकन्या समृद्धि योजना: वित्त वर्ष 2017-18 की अप्रैल-जून तिमाही के लिए सुकन्या समृद्धि योजना समेत तमाम लघु बचत योजनाओं पर ब्याज दर में 0.1 फीसद की ...और अधिक »

बड़ी खबर : पीपीएफ और छोटी बचत जमा योजनाओं पर ब्याज दरों में कटौती का ऐलान, 1 अप्रैल से लागू - एनडीटीवी खबर

नई दिल्ली: नए वित्त वर्ष की शुरुआत कुछ सख्त तरीके से होती लग रही है. सरकार ने लोक भविष्य निधि (पीपीएफ) समेत लघु बचत जमा योजनाओं पर ब्याज दर 0.1 प्रतिशत घटा दी है. नई दरें एक अप्रैल से प्रभावी होने जा रही हैं. इसका सीधा सा अर्थ यह हुआ कि आपको अपने निम्नलिखित खातों व योजनाओं में जमा रकम पर 1 अप्रैल 2017 से कम ब्याज मिलेगा. न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (पीपीएफ), किसान विकास पत्र, सुकन्या समृद्धि खाता और सीनियर सिटीजन्स सेविंग्स स्कीम की मौजूदा ब्याज दरों पर यह कटौती लागू होगी. इस नए नियम के मुताबिक, पीपीएफ पर 7.9 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा, ...और अधिक »

पीपीएफ समेत कई छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में कटौती, नई दरें एक अप्रैल से - Zee News हिन्दी

नई दिल्ली : केंद्र सरकार ने लोक भविष्य निधि (पीपीएफ), किसान विकास पत्र और सुकन्या समृद्धि योजना जैसी लघु बचत योजनाओं पर ब्याज दर में 0.1 प्रतिशत की कटौती की है. यह कटौती वित्त वर्ष 2017-18 की अप्रैल-जून तिमाही के लिये की गयी है. इससे बैंक जमा दरों में कटौती कर सकते हैं. जनवरी-मार्च तिमाही के मुकाबले अप्रैल-जून अवधि के लिये इन बचत योजनाओं पर ब्याज दर में 0.1 प्रतिशत की कटौती की गयी है. हालांकि बचत जमा पर सालाना 4 प्रतिशत ब्याज दर को बरकरार रखा गया है. पिछले साल अप्रैल से लघु बचत योजनाओं पर ब्याज दर में तिमाही आधार पर ब्याज दर में बदलाव किया जा रहा है. वित्त मंत्रालय की ...और अधिक »

अप्रैल-जून तिमाही के लिए सरकार ने पीपीएफ, छोटी जमा बचत पर ब्याज दर घटाई - नवभारत टाइम्स

नई दिल्ली केंद्र सरकार ने शुक्रवार को छोटी जमा बचत पर ब्याज दरों में कटौती कर दी है। सरकार ने पीपीएफ समेत स्मॉल सेविंग्स डिपॉजिट्स की ब्याज दर 0.1 फीसदी घटा दी है। नई दरें एक अप्रैल से लागू होंगी। लेटेस्ट कॉमेंट. ए गलत है. Rakesh Kumar. सभी कॉमेंट्स देखैं. कॉमेंट लिखें. सरकार ने किसान विकास पत्र पर ब्याज घटाकर 7.6% कर दिया वहीं वरिष्ठ नागरिकों की सेविंग्स पर दर 0.1% घटाकर 8.4% कर दिया। इसी तरह अप्रैल-जून तिमाही के लिए पीपीएफ पर ब्याज दर घटाकर 7.9% कर दी गई। नैशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट पर दर घटने के बाद 7.9% और किसान विकास पत्र पर 7.6% की दर से ब्याज दिया जाएगा। Government has lowered ...और अधिक »

पीपीएफ सहित कई स्कीम की ब्याज दरों में कटौती - BBC हिंदी'

सरकार ने छोटे बचत स्कीमों की ब्याज दरों में कटौती कर दी है. ये स्कीम हैं- पीपीएफ (पब्लिक प्रोविडेंट फंड), किसान विकास पत्र, सुकन्या समृद्धि खाता और वरिष्ठ नागरिक बचत. वित्त मंत्रालय की अधिसूचना के मुताबिक़ अप्रैल-जून तिमाही से इन स्कीमों की ब्याज दरों में 0.1 फ़ीसदी की कटौती की गई है. सुकन्या समृद्धि स्कीम बच्चियों के लिए है, जिस पर 8.4 फ़ीसदी वार्षिक ब्याज दर है. वित्त मंत्रालय ने कहा है कि नई ब्याज दर 2016-17 की चौथी तिमाही के लिए है जो एक अप्रैल 2017 से शुरू होगा. वित्त मंत्री जेटली के आम बजट की मुख्य बातें. इसी तरह किसान विकास पत्र पर ब्याज दर 7.6 फ़ीसदी हो जाएगी.और अधिक »

बड़ी खबर: अब इन छोटी बचत योजनाओं पर कम मिलेगा ब्याज - पंजाब केसरी

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने शुक्रवार को छोटी जमा बचत पर ब्याज दरों में कटौती कर दी है। सरकार ने पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (पीपीएफ) समेत लघु बचत जमा योजनाओं पर ब्याज दर 0.1 प्रतिशत घटा दी है। नई दरें एक अप्रैल से प्रभावी होने जा रही हैं। इसका सीधा सा अर्थ यह हुआ कि आपको अपने निम्नलिखित खातों व योजनाओं में जमा रकम पर 1 अप्रैल 2017 से कम ब्याज मिलेगा। छोटी बचत योजनाओं में क्या कुछ शामिल छोटी बचत योजनाओं में पब्लिक प्रॉविडंट फंड (पीपीएफ),किसान विकास पत्र, नैशनल सेविंग सर्टिफिकेट, पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम, पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाऊंट और सीनियर सिटिजन सेविंग स्कीम आती ...और अधिक »

PPF सहित छोटी बचत स्कीमों पर ब्याज दर घटी - Nai Dunia

नई दिल्ली। सरकार ने पीपीएफ, किसान विकास पत्र और सुकन्या समृद्धि जैसी छोटी बचत स्कीमों पर ब्याज दरें घटा दी हैं। अप्रैल-जून तिमाही के लिए इनमें 0.1 फीसद की कटौती की गई है। यह कदम बैंकों को भी अपनी जमा दरों को घटाने के लिए हवा देगा। फिलहाल सेविंग डिपॉजिट पर चार फीसद ब्याज बना रहेगा। बीते साल अप्रैल से छोटी बचत स्कीमों की ब्याज दरें तिमाही आधार पर संशोधित की जाती हैं। वित्त मंत्रालय की ओर से जारी अधिसूचना के मुताबिक पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (पीपीएफ) स्कीम से अब 7.9 फीसद की दर से ब्याज मिलेगा। यह पांच साल वाले नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (एनएससी) के जितना होगा। दोनों ...और अधिक »

पीपीएफ समेत अन्‍य बचत योजनाओं में पैसा लगाने वालों को झटका, अब कम मिलेगा ब्‍याज - Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। छोटी बचत योजनाओं में पैसा निवेश करने वाले लाखों लोगों को झटका लग गया है क्‍योंकि अगले वित्‍त वर्ष 2017-18 की पहली तिमाही में अप्रैल से जून के बीच पीपीएफ, किसान बचत पत्र, सुकन्‍या समृद्धि योजना की ब्‍याज दरों में कमी कर दी गई हैं। वहीं बचत खाते पर 4 फीसदी ब्‍याज दर को बरकरार रखा गया है। पीपीएफ समेत अन्‍य बचत योजनाओं में पैसा लगाने वालों को झटका, अब कम मिलेगा ब्‍याज. वित्‍त मंत्रालय के नोटिफिकेशन के मुताबिक पीपीएफ पर 7.9 फीसदी, राष्‍ट्रीय बचत पत्र पर भी 7.9 फीसदी ब्‍याज मिलेगा। जोकि पहले से 0.1 फीसदी कम है। वहीं किसान विकास पत्र पर 7.6 फीसदी ब्‍याज मिलेगा। केंद्र ...और अधिक »

केंद्र सरकार ने पीपीएफ और छोटी बचत जमा योजनाओं पर ब्याज दर घटाई - News State

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने पीपीएफ समेत स्मॉल सेविंग्स डिपॉजिट्स की ब्याज दर 0.1 फीसदी कम कर दी है। छोटी जमा बचत पर ब्याज दरों में कटौती की नई दरें एक अप्रैल से लागू होंगी। यानी कि 1 अप्रैल 2017 के बाद से इन खाताधारकों को कम ब्याज मिलेगा। पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (पीपीएफ), किसान विकास पत्र, सुकन्या समृद्धि खाता और सीनियर सिटीजन्स सेविंग्स स्कीम की मौजूदा ब्याज दरों पर यह कटौती लागू होगी। सरकार ने किसान विकास पत्र पर ब्याज घटाकर 7.6% कर दिया वहीं वरिष्ठ नागरिकों की सेविंग्स पर दर 0.1% घटाकर 8.4% कर दिया। ये भी पढ़ें- क्या भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन ब्लास्ट के आरोपी IS ...और अधिक »

लघु बचत योजनाओं के ब्याज दर में कटौती, 1 अप्रैल से होगी लागू - News Track

नई दिल्ली : लघु बचतकर्ताओं के लिए नए वित्त वर्ष की शुरुआत में ही निराश होना पड़ेगा क्योंकि सरकार ने लोक भविष्य निधि (पीपीएफ) समेत लघु बचत जमा योजनाओं पर ब्याज दर में 0.1 प्रतिशत की कटौती कर दी है. नई दरें कल एक अप्रैल से प्रभावी हो जाएंगी. इसका सीधा सा अर्थ यह हुआ कि आपको अपने निम्नलिखित खातों व योजनाओं में जमा रकम पर 1 अप्रैल 2017 से कम ब्याज मिलेगा. मिली जानकारी के अनुसार पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (पीपीएफ), किसान विकास पत्र, सुकन्या समृद्धि खाता और वरिष्ठ नागरिक बचत योजना की मौजूदा ब्याज दरों पर यह कटौती लागू होगी. इस नए नियम के तहत पीपीएफ पर 7.9 फीसदी की दर से ...और अधिक »