श्रीलंका: बाढ़ ने तोड़ा 14 सालों को रिकॉर्ड, भारत ने भेजी मदद - Hari Boomi (कटूपहास) (प्रेस विज्ञप्ति)

श्रीलंका में भारी बारिश और इसके कारण आई बाढ़ के कारण मरने वालों की संख्या 100 हो गई है। प्रशासन ने चेतावनी जारी की है कि निचले इलाकों में अभी और पानी भर सकता है। इन आपातकालीन स्थितियों के मद्देनजर भारत ने भी श्रीलंका के लिए मदद भेजी है। भारत की ओर से भेजी गई मेडिकल और इमर्जेंसी टीम शनिवार को श्रीलंका पहुंच गई। भारत की ओर से भेजा गया मेडिकल सप्लाइ से भरा एक जहाज कोलंबो पहुंच गया है। श्रीलंका में रिकॉर्ड बारिश के कारण पश्चिमी और दक्षिणी हिस्सों में बाढ़ आ गई है। बाढ़ ने यहां पिछले 14 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। आधिकारिक आपदा प्रबंधन केंद्र (डीएमसी) ने ...

श्रीलंका बाढ़: भारत ने राहत सामग्री भेजी, करीब 120 लोगों की मौत - नवभारत टाइम्स

श्रीलंका में आई भीषण बाढ़ के दौरान सहायता के लिए भारत राहत सामग्री भेजी है और बचावकर्मी वहां राहत कार्यों में जुट चुके हैं। अभी तक बाढ़ में करीब 120 लोगों की मौत हुई है और करीब पांच लाख लोग विस्थापित हुए हैं। वर्ष 2003 के बाद श्रीलंका में आई यह सबसे भीषण बाढ़ है। आपदा प्रबंधन केंद्र ने केलानी नदी के किनारे और कोल्लोनावा, कादुवेला, वेल्लामपीटिया, केलानिया, बियागामा, सेदावत्ते, डोम्पे, हनवेला, पादुक्का और अविस्सावेला संभागीय सचिवालय में रहने वाले लोगों को तुरंत सुरक्षित स्थान पर जाने की चेतावनी दी है। स्वास्थ्य मंत्री राजीथा सेनारत्ने ने कहा कि बाढ़ और ...

श्रीलंका में बाढ़, भारत ने भेजे जहाज - Dainiktribune

श्रीलंका के कालुतारा जिले में बाढ़ से हालात बदतर हैं। यहां बोद्ध मठों में पानी भर गया है। बोद्ध की प्रतिमा तक पहुंचा बाढ़ का पानी। -एएफपी. कोलंबो/नई दिल्ली, 27 मई (एजेंसी) श्रीलंका वर्ष 2003 से लेकर अब तक की सबसे भयंकर बाढ़ से जूझ रहा है। बाढ़ में मरने वालों की संख्या 100 से पार पहुंच गयी है। अधिकारियों ने और अधिक बारिश आने की चेतावनी दी है। इसके बाद कुछ और स्थानों से लोगों को निकाला जा रहा है। शनिवार सुबह तक 2,937 परिवारों के 12,007 लोगों को 69 सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है। श्रीलंका के तीनोें बलों के जवानों समेत एक हजार से ज्यादा सेना के जवान राहत एवं बचाव अभियान ...

श्रीलंका में बाढ़-भूस्खलन से 119 मौतें, मदद को भारत ने भेजे तीन जहाज - खास खबर

कोलंबो। श्रीलंका में जबरदस्त बारिश के चलते आई भारी बाढ़ और भूस्खलन से 119 लोगों की मौत हो गई हैं जबकि 150 लोग लापता बताए जा रहे हैं। 1970 के दशक के बाद यह सबसे भारी बारिश है। इस बारिश से सात जिलों में 20 हजार से अधिक लोग विस्थापित हुए हैं। दक्षिण पश्चिम मानसून ने यह तबाही मचाई है, जिसमें सैकड़ों मकान नष्ट हो गए हैं और कई सडक़ें टूट गई हैं। भारतीय नौसेना के तीन जहाज राहत सामग्री लेकर श्रीलंका गए हैं। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर श्रीलंका में इस आपदा पर दुख जताया है। साथ ही उन्होंने श्रीलंका सरकार को हर संभव मदद का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा कि जो ...

श्रीलंका में बाढ़-भूस्खलन से 91 लोगों की मौत, मदद के लिए आई भारतीय नौसेना - पलपल इंडिया

कोलंबो. श्रीलंका में बाढ़ और भूस्खलन से मृतकों की संख्या बढ़कर 91 हो गई है. शुक्रवार शाम तक बाढ़ और भूस्खलन से मरने वालों की संख्या बढ़कर 91 हो गई है जबकि 110 लापता हैं, वहीं 52,000 लोगों को विस्थापित होना पड़ा है. मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में और बारिश होने की चेतावनी दी है. भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट कर गहरा शोक जताया है और हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया है. पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा, 'भारत श्रीलंका में बाढ़ और भूस्खलन से हुए जान-माल की हानि पर शोक प्रकट करता है. हम श्रीलंकाई भाइयों और बहनों के साथ हैं. हमारे जहाज राहत सामग्रियों के भेजे जा रहे ...

श्रीलंका में बाढ़ से मरने वालों की संख्या 100 हुई, 99 लोग लापता - Khabar IndiaTV

श्रीलंका में बाढ़ और भूस्खलन से मरने वालों की संख्या बढ़कर 100 हो गई है, जबकि 99 लोग लापता हैं। आपदा प्रबंधन केंद्र की ओर से शनिवार को जारी रिपोर्ट के मुताबिक, बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों से लगभग 12,000 लोगों को सुरक्षित निकाला... IANS [Published on:27 May 2017, 8:18 PM]. श्रीलंका में बाढ़ से मरने वालों की संख्या 100 हुई, 99 लोग लापता - India. ×. कोलंबो: श्रीलंका में बाढ़ और भूस्खलन से मरने वालों की संख्या बढ़कर 100 हो गई है, जबकि 99 लोग लापता हैं। आपदा प्रबंधन केंद्र की ओर से शनिवार को जारी रिपोर्ट के मुताबिक, बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों से लगभग 12,000 लोगों को सुरक्षित निकाला गया है, ...

श्रीलंका बाढ़ : मृतकों की संख्या 100 के पार, भारत ने राहत सामग्री भेजी - एनडीटीवी खबर

श्रीलंका में साल 2003 के बाद यह सबसे भीषण बाढ़ है. राहत एवं बचाव अभियान में श्रीलंका की तीनों सेनाओं के जवान जुटे हुए हैं. भाषा, अंतिम अपडेट: शनिवार मई 27, 2017 07:53 PM IST. ईमेल करें. टिप्पणियां. श्रीलंका बाढ़ : मृतकों की संख्या 100 के पार, भारत ने राहत सामग्री भेजी. श्रीलंका में भीषण बाढ़ में मृतकों की संख्या बढ़कर 100 हो गई है, जबकि 99 अन्य लापता हैं. कोलंबो: श्रीलंका में आई भीषण बाढ़ के दौरान सहायता के लिए भारत ने बचावकर्मियों सहित राहत सामग्री भी भेजी है. अभी तक बाढ़ में 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. वहां अभी और बारिश होने की चेतावनी जारी की गई है. गौरतलब ...

श्रीलंका: बाढ़ में फंसे लोगों की मदद कर रही भारतीय सेना, पीएम ने दिए निर्देश - EenaduIndia Hindi

नई दिल्ली। श्रीलंका में भारी बारिश व बाढ़ से हुई तबाही के बाद राहत सामग्री के साथ भारत का एक जहाज शनिवार को वहां पहुंच गया। जहाज में बचाव व चिकित्सा दल के सदस्य भी हैं। श्रीलंका में वर्ष 2003 से लेकर अब तक की सबसे भयंकर बाढ़ में मृतकों की संख्या बढ़कर 100 पर पहुंच गई तथा अधिकारियों ने और अधिक बारिश आने की चेतावनी दी है। पीएम मोदी के निर्देश पर मदद कोलंबो स्थित भारतीय उच्चायोग ने ट्वीट कर बताया, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर राहत सामग्री और बचाव एवं चिकित्सा टीम के साथ पिछली रात (शुक्रवार) रवाना हुआ आईएनएस किर्च आज (शनिवार) सुबह श्रीलंका पहुंच गया।

भयंकर बाढ़ से जूझ रहे श्रीलंका की मदद को केंद्र सरकार ने भेजा जहाज, विदेश मंत्री बोले- हम भारत के आभारी - Jansatta

आईएनएस किर्च को बाढ़ राहत अभियान में आपात सहायता देने के लिए कोलंबो भेजा गया और वह आज कोलंबो बंदरगाह पर पहुंच गया। Author भाषा May 27, 2017 18:35 pm. 3.3K. Shares. Facebook · Twitter · Google Plus · Whatsapp. कालूतारा के बुलाथसिंहला गांव की बाढ़ग्रस्‍त सड़क पर डूबा बौद्ध मंदिर। (REUTERS/Dinuka Liyanawatte). भारतीय नौसेना का एक जहाज राहत सामग्री के साथ आज कोलंबो पहुंच गया। श्रीलंका में वर्ष 2003 से लेकर अब तक की सबसे भयंकर बाढ़ में मृतकों की संख्या बढ़कर 100 पर पहुंच गई तथा अधिकारियों ने और अधिक बारिश आने की चेतावनी दी है। आपदा प्रबंधन केंद्र ने केलानी नदी के किनारे और कोल्लोनावा, ...

श्रीलंका में बाढ़ ने मचाई तबाही, 100 की गई जान - दैनिक जागरण

भारत ने नौसेना के तीन जहाज राहत सामग्री के साथ श्रीलंका के लिए रवाना किये हैं। आइएनएस किर्च कोलंबो पहुंच चुका है। कोलंबो / नई दिल्ली, प्रेट्र। श्रीलंका में हुई मूसलाधार बारिश से आई बाढ़ व भूस्खलन से मरने वालों की संख्या बढ़कर 100 हो गई है। 99 लोग लापता हैं। मौसम विभाग ने अगले कुछ दिनों तक बारिश होते रहने की चेतावनी जारी की है। बाढ़ से 14 जिलों के 52 हजार से अधिक परिवारों के करीबन दो लाख लोग प्रभावित हुए हैं। 12 हजार लोग सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाये गये हैं। राहत कार्य में सेना के एक हजार से अधिक जवान भी लगे हैं। गाले के नेलुवा जिले में राहत सामग्री पहुंचाते श्रीलंका ...

बाढ़ व भूस्खलन से श्रीलंका में 100 लोगों की मौत, भारत ने पहुंचाई मदद - aapkisaheli.com

कोलंबो। पड़ोसी देश श्रीलंका में भारी बारिश के बाद आई बाढ़ और भूस्खलन से करीब 100 लोगों की मौत हो गई वहीं 110 लोग लापता बताए जा रहे हैं। बारिश के बाद यहां हालात बदत्तर हो गए हैं। दक्षिण पश्चिम मानसून ने यह तबाही मचाई है, जिसमें सैकड़ों मकान नष्ट हो गए वहीं कई सडक़ें भी टूट गई हैं। टूटी सड़कों के चलते बाढ से प्रभावित पीड़ितों के पास राहत सामग्री पहुंचानें में भी प्रशासन को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। इस बारिश से 7 जिलों में 20 हजार से ज्यादा लोग विस्थापित हो गए हैं। श्रीलंका की इस आपदा पर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर दुख जताया है। साथ ही ...

श्रीलंका : बाढ़ ने मचाई तबाही, 100 की गई जान, कई लापता - Nai Dunia

कोलंबो/नई दिल्ली। श्रीलंका में हुई मूसलाधार बारिश से आई बाढ़ व भूस्खलन से मरने वालों की संख्या बढ़कर 100 हो गई है। 99 लोग लापता हैं। मौसम विभाग ने अगले कुछ दिनों तक बारिश होते रहने की चेतावनी जारी की है। बाढ़ से 14 जिलों के 52 हजार से अधिक परिवारों के करीबन दो लाख लोग प्रभावित हुए हैं। 12 हजार लोग सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाये गये हैं। राहत कार्य में सेना के एक हजार से अधिक जवान भी लगे हैं। गाले के नेलुवा जिले में राहत सामग्री पहुंचाते श्रीलंका वायु सेना के एयरमैन की हेलीकॉप्टर से गिरकर मौत हो गई। श्रीलंकाई विदेश मंत्रालय ने संयुक्त राष्ट्र समेत पड़ोसी देशों से खोज ...

श्रीलंका: बाढ़ और भूस्खलन की चपेट में आए 90 लोगों की मौत, मदद के लिए भारतीय सेना रवाना - Rajasthan Patrika

राहत और बचाव कार्य में जुटे श्रीलंका के वायुसेना और नौसेना के अधिकारी युद्ध स्तर पर लोगों को मदद पहुंचाने के काम में जुटे हुए हैं। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में और बारिश होने की चेतावनी दी है। Related News. मोदी सरकार ने मारने के लिए मवेशियों की खरीद-फरोख्त पर लगार्इ रोक, भाकपा ने बताया- हिन्दू राष्ट्र बनाने की कोशिश · असम में बोले पीएम मोदी- हमारी सरकार के लिए देश का हर कोना दिल्ली के बराबर · सेना में भर्ती होने के लिए ये किया कारनामा, तीन युवक पुलिस की गिरफ्त में. कोलंबो। श्रीलंका में जबरदस्त बारिश के कारण आई बाढ़ और भूस्खलन से 90 से अधिक लोगों की मौत हो गई है।

श्रीलंका की मदद के लिए भारतीय नौसेना की जहाज हुई रवाना - Khabar NonStop

श्रीलंका में भारी बारिश के बाद बाढ़ और भूस्खलन के कारण यहां तबाही मची हुई है। यहां कई लोगों की जानें चली गई हैं। इस दौरान भारत ने श्रीलंका की मदद करन के लिए बचाव और राहत सामग्री के साथ नौसेना जहाजों को श्रीलंका रवाना किया गया है। भारतीय जहाज राहत सामग्री लेकर हुए रवाना. बंगाल की दक्षिण खाड़ी में तैनात आईएनएस किर्च को बाढ़ राहत अभियान में सहयोग के लिए कोलंबो रवाना किया गया है। इसके अलावा आईएनएस जलाश्वन को शनिवार विशाखापट्टनम् से राहत सामग्री के साथ रवाना किया गया है। राहत सामग्री में खाने के सामान, दवाई और कपड़े शामिल हैं। यह भी सूचना है कि जहाज के साथ ...

भारत ने बाढ़ प्रभावित श्रीलंका के लिए राहत सामग्री भेजी - Webdunia Hindi

नई दिल्ली। श्रीलंका में भयावह बाढ़ और भूस्खलन को देखते हुए भारत ने राहत सामग्री के साथ नौसेना के पोतों को रवाना किया है। भारत का एक पोत शनिवार सुबह श्रीलंका पहुंच गया और दूसरा रविवार को पहुंचेगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार रात कई ट्वीट कर श्रीलंका में बाढ़ और भूस्खलन की वजह से हुई भारी तबाही पर दुख प्रकट किया और कहा कि भारत इस मौके पर श्रीलंका के लोगों के साथ खड़ा है तथा राहत सामग्री के साथ पोतों को भेजा जा रहा है। मोदी ने श्रीलंका में मूसलधार बारिश के बाद आई बाढ़ और भूस्खलन के कारण 90 से अधिक लोगों की मौत पर दुख जताते ट्वीट किया कि हम जरूरत की इस ...

श्रीलंका में बाढ़ से तबाही पर मोदी ने जताया शोक - राष्ट्रीय खबर

नयी दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने श्रीलंका में बाढ़ और भूस्खलन में कई लोगों के मारे जाने पर गहरा शोक व्यक्त किया है।श्री मोदी ने आज यहां अपने शोक संदेश में कहा “श्रीलंका में भूस्खलन तथा बाढ़ के कारण हुए जान माल के नुकसान पर भारत शोक व्यक्त करता है। संकट की इस घड़ी में भारत के लोग श्रीलंका के अपने भाई और बहनों के साथ हैं।” प्रधानमंत्री ने कहा कि बचाव और राहत कार्यों के लिए भारत की तरफ से सहायता सामग्री भेजी जा रही है। राहत सामग्री लेकर जाने वाला पहला जहाज शनिवार तथा दूसरो रविवार को कोलम्बो पहुंच जाएगा। floodModiSri Lankaबाढ़मोदीश्रीलंका. Share. 0 148 ...

जरूरत की इस घड़ी में भारत, श्रीलंका के साथ है: पीएम मोदी - ROYAL BULLETIN

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को श्रीलंका में बाढ़ और भूस्खलन की वजह से हुई भारी तबाही पर दुख प्रकट किया है। पीएम मोदी ने कहा है कि भारत इस मौके पर श्रीलंका के लोगों के साथ खड़ा है और राहत सामाग्री के साथ पोतों को भी भेजा जा रहा है। पीएम मोदी ने श्रीलंका में मूसलाधार बारिश के बाद आई बाढ़ और भूस्खलन की वजह से 90 से अधिक लोगों की मौत पर दुख जताया है। उन्होंने संदेश जारी कर कहा कि हम जरूरत की इस घड़ी में श्रीलंका के अपने भाइयों और बहनों के साथ खड़े हैं। ईवीएम से छेड़छाड़ की चुनौती में भाग नहीं लेने पर दिल्ली भाजपा ने सीएम केजरीवाल को बताया ...

श्रीलंका : बाढ़ और भूस्खलन में 90 लोगों की मौत, 110 लापता - दैनिक भास्कर

आपदाप्रबंधन केंद्र ने लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी है। लोगों को जल-स्तर पर नजर बनाए रखने को कहा गया है। अगले 24 घंटे में बारिश जारी रहने पर उन्हें निचले इलाकों से सुरक्षित स्थानों पर जाने की सलाह दी गई है। श्रीलंका में खेती के लिए वनों को काफी ज्यादा नष्ट किया गया है। मानसून के दौरान वहां अक्सर भूस्खलन होता है। पिछले साल हुए एक बड़े भूस्खलन में 100 से ज्यादा लोग मारे गए थे। कोलंबो | श्रीलंकामें 1970 के दशक के बाद हुई सबसे भयंकर बारिश में 90 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है और 110 लापता हैं। अधिकारियों ने मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका जताई है। कुछ इलाकों में 600 ...

श्रीलंका में बाढ़-भूस्खलन से 100 मौतें, मदद को पहुंची भारतीय नौसेना - खास खबर

कोलंबो। श्रीलंका में जबरदस्त बारिश के चलते आई भारी बाढ़ और भूस्खलन से 90 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई हैं जबकि 110 लोग लापता बताए जा रहे हैं। 1970 के दशक के बाद यह सबसे भारी बारिश है। इस बारिश से सात जिलों में 20 हजार से अधिक लोग विस्थापित हुए हैं। दक्षिण पश्चिम मानसून ने यह तबाही मचाई है, जिसमें सैकड़ों मकान नष्ट हो गए हैं और कई सडक़ें टूट गई हैं। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर श्रीलंका में इस आपदा पर दुख जताया है। साथ ही उन्होंने श्रीलंका सरकार को हर संभव मदद का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा कि जो हमसे बन पड़ेगा, वह हम करेंगे। राहत सामग्रियों के हमारे ...