सुर्खियां

बुलंदशहर गैंगरेप मामला: बढ़ सकती हैं आज़म की मुसीबतें - पंजाब केसरी;

बुलंदशहर गैंगरेप मामला: बढ़ सकती हैं आज़म की मुसीबतें - पंजाब केसरी

पंजाब केसरीबुलंदशहर गैंगरेप मामला: बढ़ सकती हैं आज़म की मुसीबतेंपंजाब केसरीनई दिल्ली\लखनऊ: बुलंदशहर सामूहिक बलात्कार मामले में विवादित बयान को लेकर समाजवादी पार्टी के नेता आज़म खान के खिलाफ दोबारा मामला खुल सकता है, क्योंकि पूर्व मंत्री को इस मामले में मिली माफी का एटर्नी जनरल के. के. वेणुगोपाल ने विरोध किया है। न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा और न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर की पीठ के समक्ष वेणुगोपाल ने दलील दी कि खान के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराना चाहिए था, क्योंकि यह न्यायिक काम में दखलअंदाजी का मामला है। उन्होंने दलील दी कि इस तरह से मामले को बंद नहीं किया जा सकता। जिस शख्स को माफी मिली है वह कई मामलों में ऐसे बयान देता रहा है।और अधिक »

बुलदंशहर गैंगरेप: विवादित बयान के कारण बढ़ सकती हैं आजम की मुसीबतें - Dainik Savera (प्रेस विज्ञप्ति);

बुलदंशहर गैंगरेप: विवादित बयान के कारण बढ़ सकती हैं आजम की मुसीबतें - Dainik Savera (प्रेस विज्ञप्ति)

Dainik Savera (प्रेस विज्ञप्ति)बुलदंशहर गैंगरेप: विवादित बयान के कारण बढ़ सकती हैं आजम की मुसीबतेंDainik Savera (प्रेस विज्ञप्ति)नई दिल्लीः बुलंदशहर सामूहिक बलात्कार मामले में विवादित बयान को लेकर समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान के खिलाफ दोबारा मामला खुल सकता है, क्योंकि पूर्व मंत्री को इस मामले में मिली माफी का एटर्नी जनरल के. के. वेणुगोपाल ने विरोध किया है। न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा और न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर की पीठ के समक्ष वेणुगोपाल ने आज दलील दी कि खान के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराना चाहिए था, क्योंकि यह न्यायिक काम में दखलंदाजी का मामला है। उन्होंने दलील दी, 'इस तरह से मामले को बंद नहीं किया जा सकता। जिस शख्स को माफ़ी मिली है वह कई मामलों में ऐसे बयान देता रहा है।' गौरतलब है ...और अधिक »

बुलदंशहर गैंगरेप मामले में बढ़ सकती हैं आजम खान की मुसीबतें - Legend News;

बुलदंशहर गैंगरेप मामले में बढ़ सकती हैं आजम खान की मुसीबतें - Legend News

Legend Newsबुलदंशहर गैंगरेप मामले में बढ़ सकती हैं आजम खान की मुसीबतेंLegend Newsनई दिल्ली। बुलंदशहर गैंगरेप मामले में विवादित बयान को लेकर समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान के खिलाफ दोबारा मामला खुल सकता है, क्योंकि पूर्व मंत्री को इस मामले में मिली माफी का एटर्नी जनरल के. के. वेणुगोपाल ने विरोध किया है। न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा और न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर की पीठ के समक्ष श्री वेणुगोपाल ने आज दलील दी कि श्री खान के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराना चाहिए था, क्योंकि यह न्यायिक काम में दखलंदाजी का मामला है। उन्होंने दलील दी, “इस तरह से मामले को बंद नहीं किया जा सकता। जिस शख्स को माफ़ी मिली है वह कई मामलों में ऐसे बयान देता रहा है।” गौरतलब है ...और अधिक »