सुर्खियां

भारत-चीन बार्डर पर तनातनी, PM नरेंद्र मोदी ने 'जेम्स बांड' को शांतिदूत बनाकर भेजा बीजिंग - NDTV Khabar;

भारत-चीन बार्डर पर तनातनी, PM नरेंद्र मोदी ने 'जेम्स बांड' को शांतिदूत बनाकर भेजा बीजिंग - NDTV Khabar

NDTV Khabarभारत-चीन बार्डर पर तनातनी, PM नरेंद्र मोदी ने 'जेम्स बांड' को शांतिदूत बनाकर भेजा बीजिंगNDTV Khabarतनातनी के माहौल में बीजिंग में ब्रिक्स देशों के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की बैठक होनी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल को इस सम्मेलन में भेजा है. Written by: अभिषेक कुमार, Updated: 23 जुलाई, 2017 2:26 PM. Share. ईमेल करें. टिप्पणियां. भारत-चीन बार्डर पर तनातनी, PM नरेंद्र मोदी ने 'जेम्स बांड' को. भारत-चीन बॉर्डर पर जारी तनाव पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गंभीरता से नजरें गड़ाए हुए हैं. खास बातें. भारत-चीन बॉर्डर पर एक फिर से उभर आया है सीमा विवाद; चीनी सेना और मीडिया लगातार भारत को उकसा रही है; तनातनी के बीच बीजिंग जाएंगे सुरक्षा सलाहकार ...और अधिक »

भारत-चीन सीमा विवाद पर बोला अमेरिका, जानिए पूरा मामला... - Sanjeevni Today;

भारत-चीन सीमा विवाद पर बोला अमेरिका, जानिए पूरा मामला... - Sanjeevni Today

Sanjeevni Todayभारत-चीन सीमा विवाद पर बोला अमेरिका, जानिए पूरा मामला...Sanjeevni Todayनई दिल्ली। सिक्किम में भारत-चीन विवाद लगातार बढ़ता ही जा रहा है। चीन ने एक बार फिर भारत को युद्ध की धमकी देते हुए सेना को डोकलाम से पीछे हटाने की चेतावनी दे दी है। चीनी अखबार के मुताबिक भारत को लग रहा है कि यदि चीन ने भारत पर हमला कर दिया तो अमेरिका और जापान उसकी सहायता के लिए आ जाएंगे लेकिन ऐसा कुछ नहीं होगा। भारत-चीन बॉर्डर विवाद में अमेरिका आगे दरअसल चीन के साथ चल रहे सीमा विवाद को लेकर उठीं सरगरमियां अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी गूंजने लगी है और अब चीन की आशाओं पर पानी फेरते हुए भारत-चीन बॉर्डर विवाद में अब अमेरिका भी कूद पड़ा है। अमेरिका के पेंटागन ने कहा कि ...और अधिक »

डोकलाम विवाद दूर करने में NSA डोभाल का चीन दौरा अहम: चीनी विशेषज्ञ - अमर उजाला;

डोकलाम विवाद दूर करने में NSA डोभाल का चीन दौरा अहम: चीनी विशेषज्ञ - अमर उजाला

अमर उजालाडोकलाम विवाद दूर करने में NSA डोभाल का चीन दौरा अहम: चीनी विशेषज्ञअमर उजालाचीनी विशेषज्ञों का मानना है कि भारतीय राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल के चीन दौरे से सिक्किम गतिरोध से उपजे तनाव के कम होने की उम्मीद है। डोभाल ब्रिक्स देशों के एनएसए की 27-28 जुलाई को बीजिंग में होने वाली बैठक में हिस्सा लेने जा रहे हैं। बैठक की मेजबानी डोभाल के चीनी समकक्ष और स्टेट काउंसलर यांग जाइची करेंगे। ब्रिक्स देशों के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की यह बैठक इन देशों के अधिकारियों की होने वाली सिलसिलेवार बैठक का हिस्सा है। चीन रिफॉर्म फोरम थिंकटैंक की रिसर्च फेलो मा जियाली ने कहा डोभाल का यह दौरा महत्वपूर्ण है और यह भारत-चीन के ...और अधिक »

चीनी विश्लेषक ने कहा- डोवाल के आने से डोकलाम पर हालात हो सकते हैं सामान्य - Oneindia Hindi;

चीनी विश्लेषक ने कहा- डोवाल के आने से डोकलाम पर हालात हो सकते हैं सामान्य - Oneindia Hindi

Oneindia Hindiचीनी विश्लेषक ने कहा- डोवाल के आने से डोकलाम पर हालात हो सकते हैं सामान्यOneindia Hindiनई दिल्ली। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोवाल की बीजिंग यात्रा के कुछ दिन पहले, एक चीनी विश्लेषक ने कहा कि यह दौरा भारत के बीच डोकलाम के संबंध में तनाव कम करने में महत्वपूर्ण कदम साबित हो सकता है। डोवाल, जो 27-28 जुलाई को चीन की यात्रा करने वाले हैं, बीजिंग में ब्रिक्स देशों से एनएसएए की एक बैठक में शामिल होंगे, जो कि उनके चीनी समकक्ष और राज्य के काउंसिलर यांग जीईकी द्वारा आयोजित की गई है। चीनी विश्लेषक ने कहा- डोवाल के आने से डोकलाम पर हालात हो सकते हैं सामान्य. द ग्लोबल टाइम्स में प्रकाशित एक लेख के मुताबिक, चीन रिफॉर्म फोरम थिंकटैंक में शोधकर्ता मा ...और अधिक »

भारत और चीन को ताकत के बजाय बातचीत से विवाद हल करना चाहिए : अमेरिका - सत्याग्रह;

भारत और चीन को ताकत के बजाय बातचीत से विवाद हल करना चाहिए : अमेरिका - सत्याग्रह

सत्याग्रहभारत और चीन को ताकत के बजाय बातचीत से विवाद हल करना चाहिए : अमेरिकासत्याग्रहभारत और चीन के बीच सीमा पर जारी तनाव को लेकर अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन ने शनिवार को कहा कि दोनों देशों को बिना ताकत का इस्तेमाल किए सीधी बातचीत का रास्ता अपनाना चाहिए. पेंटागन के प्रवक्ता गैरी रॉस ने इस मुद्दे पर कहा, 'हम तनाव घटाने के लिए दोनों देशों की सीधी बातचीत के पक्ष में हैं.' द टाइम्स आॅफ इंडिया के अनुसार, अमेरिका ने हालांकि इस मसले पर किसी का पक्ष लेने से इनकार कर दिया. वहीं दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ने की आशंका पर उन्होंने कहा, 'हम ऐसे मसलों पर कोई अनुमान नहीं लगाना चाहते.' पिछले हफ्ते अमेरिकी संसद के उच्च सदन सीनेट ने भी इसी तरह का वक्तव्य जारी ...और अधिक »

डोभाल की बीजिंग विजिट से सुलझ सकता है सिक्किम विवाद: चीन एनालिस्ट - दैनिक भास्कर;

डोभाल की बीजिंग विजिट से सुलझ सकता है सिक्किम विवाद: चीन एनालिस्ट - दैनिक भास्कर

दैनिक भास्करडोभाल की बीजिंग विजिट से सुलझ सकता है सिक्किम विवाद: चीन एनालिस्टदैनिक भास्करनेशनल सिक्युरिटी एडवाइजर अजित डोभाल BRICS देशों के NSAs की मीटिंग में शामिल होने 27-28 जुलाई को बीजिंग जाएंगे। Replay. Prev; |; View Again. डोभाल की बीजिंग विजिट से सुलझ सकता है सिक्किम विवाद: चीन एनालिस्ट, national news. +3और स्लाइड देखें. अजित डोभाल 27-28 जुलाई को NSAs की मीटिंग में हिस्सा लेने बीजिंग जाएंगे। (फाइल). बीजिंग. नेशनल सिक्युरिटी एडवाइजर अजित डोभाल BRICS देशों के NSAs की मीटिंग में शामिल होने 27-28 जुलाई को बीजिंग जाएंगे। चीनी एनालिस्ट मानते हैं कि सिक्किम में चीन और भारत के बीच जारी बॉर्डर विवाद के सुलझने का रास्ता इस विजिट के दौरान निकल सकता है।और अधिक »

डोकलाम गतिरोध पर चीन और भारत में हो सीधी वार्ता: अमेरिका - News18 इंडिया;

डोकलाम गतिरोध पर चीन और भारत में हो सीधी वार्ता: अमेरिका - News18 इंडिया

News18 इंडियाडोकलाम गतिरोध पर चीन और भारत में हो सीधी वार्ता: अमेरिकाNews18 इंडियाअमेरिका ने कहा है कि डोकलाम में सैन्य गतिरोध को घटाने के लिए किसी तरह के बल प्रयोग के बजाय भारत एवं चीन को सीधी वार्ता करनी चाहिए. चीनी और भारतीय सैनिक, तिब्बत के सुदूरवर्ती दक्षिणी हिस्से के डोकलाम में उस क्षेत्र में आमने-सामने हैं जिस पर भारत का सहयोगी भूटान भी दावा करता है. विवादित क्षेत्र में भारतीय सैनिकों ने चीनी सेना को सड़क बनाने से रोका था. रक्षा विभाग के प्रवक्ता गैरी रोस ने कहा, 'हम भारत एवं चीन को तनाव घटाने की ख़ातिर प्रत्यक्ष वार्ता करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं जिसमें किसी प्रकार का बल प्रयोग ना हो.' रोस ने इस मामले में किसी का पक्ष लेने से ...और अधिक »

भारत-चीन तनाव पर अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन की सलाह - News Trend India (प्रेस विज्ञप्ति);

भारत-चीन तनाव पर अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन की सलाह - News Trend India (प्रेस विज्ञप्ति)

News Trend India (प्रेस विज्ञप्ति)भारत-चीन तनाव पर अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन की सलाहNews Trend India (प्रेस विज्ञप्ति)नई दिल्ली: अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन ने भारत और चीन को बातचीत से तनाव कम करने की सलाह दी है। पेंटागन के प्रवक्ता गैरी रोस ने कहा हम भारत चीन को तनाव घटाने की खातिर सीधी बात करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। उन दोनों के बीच की इस बातचीत में कोई जोर जबरदस्ती नहीं होगी। अमेरिकी विदेश मंत्रालय की तरफ से भी भारत-चीन को बातचीत के लिए आगे आने की बात कही गई थी। पेंटागन में इस मामले में किसी का पक्ष लेने से इनकार कर दिया। दरअसल डोकलाम को लेकर चीन कई बार लड़ाई और हमले की धमकी दे चुका है। पिछले दिनों विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने राज्य सभा में दिये अपने बयान में साफ कर ...और अधिक »

डोकलाम विवादः भारत का पक्ष नहीं लेगा अमेरिका, बोला- दोनों देश सीधी वार्ता करें - India.com हिंदी;

डोकलाम विवादः भारत का पक्ष नहीं लेगा अमेरिका, बोला- दोनों देश सीधी वार्ता करें - India.com हिंदी

India.com हिंदीडोकलाम विवादः भारत का पक्ष नहीं लेगा अमेरिका, बोला- दोनों देश सीधी वार्ता करेंIndia.com हिंदीवाशिंगटन। चीन के साथ डोकलाम पठार पर मौजूदा गतिरोध के बीच अमेरिका ने किसी का भी पक्ष लेने से इनकार कर दिया है. अमेरिका ने कहा कि डोकलाम सैन्य गतिरोध पर तनाव कम करने के लिए किसी तरह बल प्रयोग करने की बजाय भारत और चीन को सीधी वार्ता करनी चाहिए. गौरतलब है कि भारतीय सैनिकों ने तिब्बत के सुदूरवर्ती दक्षिणी हिस्से डोकलाम में चीनी सेना को सड़क बनाने से रोक दिया था. जिसके बाद दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने हैं और तनाव गहराता जा रहा है. अमेरिकी रक्षा विभाग के प्रवक्ता गैरी रोस ने समाचार एजेंसी 'पीटीआई' से बात करते हुए कहा'हम भारत एवं चीन को तनाव घटाने की खातिर ...और अधिक »

चीन के तेवर में नरमी, डोभाल की यात्रा से विवाद सुलझने की बढ़ी उम्मीद - दैनिक जागरण;

चीन के तेवर में नरमी, डोभाल की यात्रा से विवाद सुलझने की बढ़ी उम्मीद - दैनिक जागरण

दैनिक जागरणचीन के तेवर में नरमी, डोभाल की यात्रा से विवाद सुलझने की बढ़ी उम्मीददैनिक जागरणडोकलाम में सड़क बनाने को लेकर भारत और चीन की सेनाएं आमने-सामने हैं। डोभाल अपने चीनी समकक्ष और स्टेट काउंसलर यांग जेईची से भी मुलाकात करेंगे। बीजिंग, प्रेट्र। भारत के खिलाफ हमलावर चीन की सरकारी मीडिया के सुर में कुछ नरमी आई है। कल तक युद्ध की धमकी दे रहे चीनी विशेषज्ञों ने भारत के सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल की चीन यात्रा से मौजूदा विवाद के सुलझने की उम्मीद जताई है। डोभाल ब्रिक्स देशों (ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका) के एनएसए की बैठक में हिस्सा लेने के लिए 27-28 जुलाई को चीन में रहेंगे। डोकलाम में सड़क बनाने को लेकर भारत और चीन की सेनाएं ...और अधिक »

सिक्किम गतिरोध कम करने में डोभाल की यात्रा अहम: चीनी विश्लेषक - News18 इंडिया;

सिक्किम गतिरोध कम करने में डोभाल की यात्रा अहम: चीनी विश्लेषक - News18 इंडिया

News18 इंडियासिक्किम गतिरोध कम करने में डोभाल की यात्रा अहम: चीनी विश्लेषकNews18 इंडियाएक चीनी विश्लेषक के मुताबिक, ब्रिक्स राष्ट्रों के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की बैठक के सिलसिले में अजीत डोभाल की बीजिंग यात्रा भारत और चीन के बीच डोकलाम में जारी सैन्य गतिरोध को कम करने में महत्वपूर्ण हो सकता है. डोभाल को इस बैठक के लिए 27-28 जुलाई को चीन आना है. बैठक की मेज़बानी उनके चीनी समकक्ष एवं स्टेट काउंसलर यांग जीइची करेंगे. ये बैठक ब्रिक्स देशों ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका- के सितंबर में शियामेन शहर में प्रस्तावित शिखर सम्मेलन से पहले अधिकारियों की बैठकों की श्रृंखला का एक हिस्सा है. शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ...और अधिक »

बॉर्डर तनाव को लेकर अमरीका की अपील- भारत और चीन सीधी वार्ता के जरिए निकालें रास्ता - Rajasthan Patrika;

बॉर्डर तनाव को लेकर अमरीका की अपील- भारत और चीन सीधी वार्ता के जरिए निकालें रास्ता - Rajasthan Patrika

Rajasthan Patrikaबॉर्डर तनाव को लेकर अमरीका की अपील- भारत और चीन सीधी वार्ता के जरिए निकालें रास्ताRajasthan Patrikaअमरीकी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता गैरी ने कहा कि हम भारत और चीन को सीमा पर उत्पन्न हुए तनाव को कम करने के लिए सीधी वार्ता के लिए प्रोत्साहित करते हैं। Related News. बैंक की तिजोरी से परेशान हुए चोर, नहीं खुली तो सामान बिखेर कर चले गये · PHOTOS: जल्दी में है तो एक मिनट में पढ़ें आज की टॉप टेन शेेखावाटी न्यूज... कश्मीर हस्तक्षेप वाले बयान पर महबूबा का पलटवार, कहा- अमरीका और चीन को उनका काम संभालनें दें फारुख अब्दुल्ला... वाशिंगटन। सिक्किम बॉर्डर पर चीन के साथ सीमा विवाद पर जारी गतिरोध का मामला अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी सुनाई देने लगा है। जिसके बाद अब मामले को लेकर ...और अधिक »

क्या अपने बुने जाल में ही फंस गया है चीन? - BBC हिंदी;

क्या अपने बुने जाल में ही फंस गया है चीन? - BBC हिंदी

BBC हिंदीक्या अपने बुने जाल में ही फंस गया है चीन?BBC हिंदीचीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) की 90वीं वर्षगांठ मनाए जाने से पहले महज 10 दिन बचे हैं. सैन्य क्षेत्र में कम्युनिस्ट पार्टी के दबदबे को फिर से दिखाने के लिए, उम्मीद है कि इस मौके पर विशाल समारोह का आयोजन किया जाएगा. कमांड के स्तर पर अभी चीनी सेना में काफ़ी बुनियादी बदलाव हुए हैं. सैन्य समाधान की तरफ़ बढ़े तो भारत को हार का सामना करना पड़ेगा: चीनी मीडिया · क्या चीन भूटान को अगला तिब्बत बनाना चाहता है? लेकिन इस आयोजन में पीएलए की कुछ सैन्य टुकड़ियां हिस्सा नहीं ले पाएंगी, जो भारत के साथ तनाव के कारण सीमा पर तैनात हैं. बातचीत के लिए 26-27 जुलाई को भारत के ...और अधिक »

पेंटागन बोला, भारत-चीन विवाद को आपसी बातचीत के जरिए सुलझाए - खास खबर

पेंटागन बोला, भारत-चीन विवाद को आपसी बातचीत के जरिए सुलझाएखास खबरवाशिंगटन। सीमा विवाद पर भारत और चीन के बीच बढते तनाव पर अमेरिका के पेंटागन ने वार्ता के जरिए इस मुद्दे को सुलझाने की अपील की है। ज्ञातव्य है कि सिक्किम में डोकलाम को लेकर भारत और चीन के बीच विवाद जारी है। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता गैरी रोस ने कहा कि हम भारत एवं चीन के तनाव को घटाने की खातिर प्रत्यक्ष वार्ता करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। ज्ञातव्य है कि पेंटागन का बयान उस समय आया जब डोकलाम को लेकर अन्य पडोसी देश बीजिंग पर सीमा विवादों के समाधान के लिए बल प्रयोग करने की रणनीति अपनाने का आरोप लगा रहे हैं। ब्रिक्स बैठक में भाग लेंगे एनएसए अजीत डोभाल: ज्ञातव्य है ...और अधिक »

भारत-चीन बॉर्डर विवाद में कूदा US, बोला- बातचीत से निकालें रास्ता - अमर उजाला;

भारत-चीन बॉर्डर विवाद में कूदा US, बोला- बातचीत से निकालें रास्ता - अमर उजाला

अमर उजालाभारत-चीन बॉर्डर विवाद में कूदा US, बोला- बातचीत से निकालें रास्ताअमर उजालाचीन के साथ चल रहे सीमा विवाद को लेकर उठीं सरगरमियां अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी गूंजने लगी है। अमेरिका के पेंटागन ने भारत और चीन को सलाह दी है कि वे सीधी वार्ता करके इस मसले को सुलझाने की कोशिश करें। अमेरिकी रक्षा विभाग के प्रवक्ता गैरी रोस ने कहा कि बॉर्डर पर तनाव खत्म करने के लिए डायरेक्ट डायलॉग को हम बढ़ावा देते हैं। हालांकि, उन्होंने ये भी साफ कर दिया है कि इसमें कोई जबरदस्ती नहीं है। अमेरिका की ओर से ये सुझाव उस वक्त सामने आया है, जब राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अगले महीने होने वाली ब्रिक्स मीटिंग के लिए चीन जाएंगे। सूत्रों की माने तो डोभाल चीन से बॉर्डर विवाद पर ...और अधिक »

पेंटागन ने भारत, चीन से की अपील : प्रत्यक्ष वार्ता के जरिए घटाएं तनाव - Bhasha-PTI

पेंटागन ने भारत, चीन से की अपील : प्रत्यक्ष वार्ता के जरिए घटाएं तनावBhasha-PTI(ललित के झा) वाशिंगटन, 22 जुलाई (भाषा) पेंटागन ने भारत एवं चीन से सीधी वार्ता करने की अपील की है। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता गैरी रोस ने 'पीटीआई भाषा' से कहा, ''हम भारत एवं चीन को तनाव घटाने की खातिर प्रत्यक्ष वार्ता करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं जिसमें किसी प्रकार की जोर जबरदस्ती नहीं हो।'' अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने भी पिछले सप्ताह इसी प्रकार के बयान दिए थे। पेंटागन ने यह बयान ऐसे समय में दिया है जब पिछले कुछ वर्षों में चीन के लगभग सभी पड़ोसी बीजिंग पर सीमा विवादों के समाधान के लिए बल प्रयोग करने की रणनीति अपनाने का आरोप लगा रहे हैं। सिक्किम सेक्टर में महीने ...और अधिक »

पेंटागन की हिदायत, भारत चीन ताकत नहीं आपसी बातचीत से मसले तय करें - News State;

पेंटागन की हिदायत, भारत चीन ताकत नहीं आपसी बातचीत से मसले तय करें - News State

News Stateपेंटागन की हिदायत, भारत चीन ताकत नहीं आपसी बातचीत से मसले तय करेंNews Stateभारत और चीन सीमा विवाद को लेकर चिंता जताते हुए अमेरिकी रक्षा मंत्रालय ने दोनों देशों को बातचीत से समाधान निकालने और तनाव कम करने की अपील की है। पेंटागन ने दोनों देशों को ताकत का इस्तेमाल नहीं करने की नसीहत दी है। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता गैरी रॉस ने कहा, 'हम भारत और चीन से सीधे बातचीत की मदद से तनाव कम करने की अपील करते हैं।' गौरतलब है कि सिक्किम के डाकोला इलाके में यथा स्थिति को तोड़ते हुए चीन सड़क बना रहा था, जिसका भारत ने जोरदार विरोध किया है। जून 2017 में शुरू हुआ यह गतिरोध अब एक महीने से ज्यादा लंबा खिंच चुका है। प्रवक्ता ने हालांकि भारत और चीन के बारे ...और अधिक »

चीन और भारत सीधी बातचीत के माध्यम से दूर करें तनावः पेंटागन - Nai Dunia;

चीन और भारत सीधी बातचीत के माध्यम से दूर करें तनावः पेंटागन - Nai Dunia

Nai Duniaचीन और भारत सीधी बातचीत के माध्यम से दूर करें तनावः पेंटागनNai Duniaवॉशिंगटन। अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन चाहता है कि भारत और चीन के बीच तनाव दूर करने के लिए सीधी बातचीत हो। पेंटागन के प्रवक्ता गैरी रोस ने कहा कि हम भारत और चीन को तनाव घटाने की खातिर सीधी बात करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। इसमें कोई जोर जबरदस्ती नहीं होगी। अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने भी पिछले सप्ताह इसी तरह के बयान दिए थे। पेंटागन ने यह बयान ऐसे समय में आया है, जब पिछले कुछ सालों से चीन के लगभग सभी पड़ोसी देश चीन पर आरोप लगा रहे हैं कि वह सीमा विवादों के समाधान के लिए बल प्रयोग करने की रणनीति अपना रहा है। सिक्किम सेक्टर के डोकलाम में महीने भर से चल रहे ...और अधिक »

अमेरिका की भारत-चीन को सलाह : आपस में बातचीत कर घटाएं तनाव - Firstpost Hindi;

अमेरिका की भारत-चीन को सलाह : आपस में बातचीत कर घटाएं तनाव - Firstpost Hindi

Firstpost Hindiअमेरिका की भारत-चीन को सलाह : आपस में बातचीत कर घटाएं तनावFirstpost Hindiसीमा विवाद को लेकर भारत और चीन के बीच बढ़ते तनाव पर अमेरिका ने दोनों देशों से बातचीत कर मसला हल करने की सलाह दी है. रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता गैरी रोस ने 'पीटीआई भाषा' से कहा, 'हम भारत और चीन को तनाव घटाने की खातिर सीधे तौर पर बातचीत करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं जिसमें किसी तरह की जोर-जबरदस्ती नहीं हो.' अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने भी पिछले सप्ताह इसी तरह के बयान दिए थे. पेंटागन ने यह बयान ऐसे समय में दिया है जब पिछले कुछ वर्षों में चीन के लगभग सभी पड़ोसी देशों ने बीजिंग पर सीमा विवादों के हल के लिए ताकत के इस्तेमाल की रणनीति अपनाने का आरोप लगा रहे हैं. सिक्किम ...और अधिक »

डोकलाम मामले में अमेरिका ने किया हस्तक्षेप, कहा भारत - चीन सीधे बातचीत करे - News Track

डोकलाम मामले में अमेरिका ने किया हस्तक्षेप, कहा भारत - चीन सीधे बातचीत करेNews Trackवाशिंगटन : सिक्किम के डोकलाम इलाके में भारत -चीन के बीच बढ़ रहे तनाव को देखते हुए अब अमेरिका ने हस्तक्षेप किया है. पेंटागन ने कहा है कि भारत और चीन ताकत दिखाने के बजाय सीधे बातचीत करके तनाव कम करें. उल्लेखनीय है कि डोकलाम में पिछले 36 दिन से भारत और चीन के सैनिक आमने-सामने हैं.दरअसल ये इलाका एक ट्राई जंक्शन (तीन देशों की सीमाएं मिलने वाली जगह) है. चीन यहां सड़क बनाना चाहता है, लेकिन भारत और भूटान इसका विरोध कर रहे हैं. अब इस मामले ने अमेरिका ने हस्तक्षेप किया है. अमेरिका के रक्षा विभाग के प्रवक्ता गैरी रॉस ने शनिवार को कहा कि हम भारत और चीन की सरकारों को चाहिए कि ...और अधिक »