This RSS feed URL is deprecated

'मोदी सुई' के डर से राजस्थान के मेवात इलाके में बच्चे स्कूल छोड़ कर भागे - आज तक

राजस्थान के अलवर-भरतपुर जिलों के मेवात इलाके में इन दिनों बच्चे स्कूलों में पढ़ने नही आ रहे हैं. दरअसल सरकारी टीकाकरण की वजह से अफवाह फैल गई है कि सरकार मुस्लिम इलाकों में बंध्याकरण की सुई दे रहे ही है. इसकी वजह से पूरे इलाके के स्कूलों में दहशत है. दहशत का आलम यह है कि जब आजतक की टीम एक स्कूल में इस अफवाह की सच्चाई जानने पहुंची तो स्कूल में भगदड़ मच गई, इस अफवाह के साथ कि बांझ करने की सुई लगाने वाले आ गए. कक्षा में बैठे छात्र और छात्राएं स्कूल की बाउंड्रीवाल कूद-कूद कर भागने लगे. स्कूलों में या तो सन्नाटा पसरा है या जो बच्चे आते हैं, उनके चहरों पर खौफ चस्पां है. अफवाह का कोई आधार नही है, लेकिन जैसे ही कोई वाहन गांव और स्कूल में दाखिल होता है तो भगदड़ मच जाती है और ...और अधिक »

बच्चों के दिलों में बैठा 'मोदी सूई' का डर, स्कूल छोड़ कर भागे - पंजाब केसरी

जयपुर: नरेंद्र मोदी की छवि ऐसे पीएम की जिनसे बड़े से लेकर बच्चे तक बेझिझक अपनी बात कहते हैं लेकिन इन दिनों राजस्थान के अलवर-भरतपुर जिलों के मेवात इलाके के बच्चे मोदी के नाम से इतने डर गए हैं कि वे स्कूल तक जाने से मना कर रहे हैं। दरअसल सरकारी टीकाकरण की वजह से अफवाह फैल गई है कि सरकार मुस्लिम इलाकों में बंध्याकरण की सूई दे रहे ही है। इसकी वजह से पूरे इलाके के स्कूलों में दहशत है। दहशत का आलम इतना ही कि जब मीडिया के कुछ कर्मी इसकी सच्चाई जानने स्कूल पहुंचे तो बच्चों में भगदड़ मच गई। सभी तरफ शोर पड़ गया कि बांझ करने की सूई लगाने वाले आ गए हैं। बच्चों के चेहरे पर खौफ साफ झलक रहा था। हालांकि इस अफवाह का कोई आधार नहीं है। जिले के उपमुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. छबील कुमार के ...और अधिक »

अफवाह: मोदी ने मुसलमानों के बच्चों के बच्चों को खत्म करने वाली सुई भेजी है - The Lallantop

अफवाहों का कोई आधार नहीं होता, वो आपके डर को कुरेद कर बढ़ावा पाती है. फाइल फोटो: सद्भावना उपवास, गुजरात. राजस्थान की तरफ मुस्लिम बहुल मेवात इलाके में इस वक्त खतरनाक अफवाह फैली हुई है. सरकारी स्कूलों में टीकाकरण चल रहा है, बच्चों को न्यूट्रीशन की दवाइयां दी जा रही हैं. अफवाह उड़ा दी गई है कि ये सुईयां मोदी ने भिजवाई हैं. जिसका मकसद मुसलमान लड़के-लड़कियों के संतान पैदा करने की क्षमता को खत्म कर देना है. इसी डर से मेवात इलाके के स्कूलों में बहुत से बच्चे पढ़ने नही आ रहे हैं. स्कूलों में या तो सन्नाटा पसरा है या जो बच्चे आते है उनके चेहरे खौफज़दा हैं. दहशत का आलम ये है कि जब न्यूज चैनल वाले एक स्कूल में इस अफवाह की सच्चाई जानने पहुंचे तो स्कूल में भगदड़ मच गई. शोर ...और अधिक »

मेवात में फैली अफवाह, स्कूलों में बच्चों की संख्या घटकर रह गई आधी - Rajasthan Patrika

जिले के मेवात क्षेत्र में स्कूली बच्चों के पेट में टीके लगाने की फैलती जा रही अफवाह ने बच्चों के भविष्य पर संकट खड़ा कर दिया है। अफवाह के चलते अभिभावकों ने बच्चों को. जिले के मेवात क्षेत्र में स्कूली बच्चों के पेट में टीके लगाने की फैलती जा रही अफवाह ने बच्चों के भविष्य पर संकट खड़ा कर दिया है। अफवाह के चलते अभिभावकों ने बच्चों को. स्कूल भेजना ही बंद कर दिया है, जिससे शिक्षा विभाग भी गहरी चिंता में डूब गया है। प्रशासनिक मशीनरी लोगों को अफवाह से दूर रखने और व्यापक स्तर पर प्रचार करने में विफल साबित हो रही है। एक पखवाड़े से चल रही अफवाह का दुष्प्रभाव यह हो चला है कि कामां, नगर तथा पहाड़ी ब्लॉक के सरकारी स्कूलों में बच्चों की संख्या घटकर 50 फीसदी से भी कम रह गई ...और अधिक »

मोदी सुई का खौफ, डरकर भागे बच्चे... - Webdunia Hindi

जयपुर। केंद्र सरकार बच्चों की स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए टीकाकरण का अभियान चला रही है। इन टीकों को लेकर तरह-तरह की की अफवाहें भी फैल रही हैं। टीकाकरण को लेकर यह अफवाह फैल रही है कि सरकार मुस्लिम इलाकों में बंध्याकरण की सुई दे रही है। इस कारण इलाकों के स्कूलों में दहशत के कारण बच्चे स्कूल से भाग रहे हैं। कई स्कूलों में तो भगदड़ मच गई। राजस्थान के अलवर-भरतपुर जिलों के मेवात इलाके के बच्चे मोदी के नाम से इतने डर गए हैं कि वे स्कूल तक जाने से मना कर रहे हैं। दरअसल सरकारी टीकाकरण की वजह से अफवाह फैल गई है कि सरकार मुस्लिम इलाकों में बंध्याकरण की सूई दे रहे ही है। इसके कारण पूरे इलाके के स्कूलों में दहशत है। जब इसकी सचाई जानने के लिए जब खबरनवीस स्कूल पहुंचे तो बच्चों में भगदड़ मच गई ...और अधिक »

मेवात की फिजा खराब करने वालों को बख्शेंगे नहीं, बच्चों को स्कूल भेजें : एसपी - खास खबर

मेवात । पुलिस कप्तान कुलदीप सिंह ने कहा कि शुक्रवार को मेवली गांव में तीन बच्चों में से एक को जबरन टीका लगा कर पूरे जिले में भय पैदा करने वाले तीन अज्ञात नकाबपोशो को पकड़ने के लिए दिन रात काम कर रही है। चेहरों पर काला नकाब ढ़का होने से पीड़ित बच्चें उनका चेहरा नहीं बता पा रहे है। जिससे पुलिस के सामने परेशानी पैदा हो गई है। उन्होंने बताया कि जिले में नपुंसक का टीका लगाने के बहाने माहौल खराब करने वालों को पकड़वाने में जनता पुलिस का सहयोग करें,उन्होंने कहा कि इस तरह की धार्मिक रूप से जुडी¸ अफवाह को बड़ी शाजिस करार दिया। पुलिस अधीक्षक कुलदीप सिंह ने बताया कि पिछले 3 मार्च से जिले में नपुंंसक टीका लगाने की अफवाह ने पूरे जिले की शांति व अमन को खतरे में ...और अधिक »

मेवात में नसबंदी की अफवाहों ने रोका टीकाकरण अभियान, अब जागरुकता करेंगे - खास खबर

नूंह। मेवात में नसबंदी और बांझपन के इंजेक्शन लगाने की अफवाहों ने सरकार का टीकाकरण अभियान रोक दिया है। बच्चों में गंभीर बीमारियां दूर करने के लिए लगाए जा रहे इंजेक्शनों से नसबंदी और बांझपन होने की अफवाहों को जिला प्रशासन ने गंभीरता से लिया है। मेवात जिले में पिछले करीब चार दिन से इंजेक्शन की वजह से बांझपन - नपुंसकता को लेकर अफवाहों का दौर चल रहा है। इस कारण गत दिनों एक कर्मचारी की पिटाई तक कर दी गई थी। लगाए जा रहे इंजेक्शन की जो अफवाह चल रही थी , उसे प्रशासन ने गंभीरता से लेना शुरू कर दिया है। मंगलवार को लघुसचिवालय नूंह में स्वास्थ्य विभाग तथा उलेमाओं की बैठक में उपायुक्त मनीराम शर्मा ने फैसला लिया कि सप्ताह भर जिले में किसी प्रकार का भी इंजेक्शन ...और अधिक »

“मोदी” से मुस्लिम इलाकों में दहशत, जानें- पूरा मामला - Khabar NonStop

मेवात। हरियाणा के मुस्लिम बाहुल्य इलाके मेवात में इन दिनों में “मोदी” की दहशत है। इलाके का हर कोई डरा हुआ है। बच्चे जैसे ही बाहरी और बड़ी गाड़ियों को देख रहे हैं तुंरत अपने घरों को बंद कर दे रहे हैं। कोई भी अभिभावक इन बच्चों को स्कूल भेजने में डर रहा है। मेवात में आखिर ये सब क्यों हो रहा है? जानें- पूरा मामला. मेवात इलाके में एक अफवाह फैली है कि मुसलमान बच्चों को एक सुई लगाई जा रही है। जिससे ये बच्चे बांझपन का शिकार हो जाएंगे यानि भविष्य में कभी बच्चे पैदा नहीं कर पाएंगे। इस सुई को “मोदी की सुई” कहा जा रहा है। इस सुई को लेकर लोगों में इतनी दहशत है कि बच्चों को स्कूल तक नहीं भेज रहे हैं। क्या है सच्चाई? दरअसल सरकार द्वारा बच्चों को गंभीर बीमारियों से बचाने ...और अधिक »