This RSS feed URL is deprecated

विज्ञापन, प्रचार और एटीएम से 16500 करोड़ कमाएगी रेल - दैनिक जागरण

इन नॉन फेयर तरीकों से दस सालों में साढ़े सोलह हजार करोड़ रुपये की आय प्राप्त करने का मंत्रालय का इरादा है। जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। किराया-भाड़ा बढ़ाने के बावजूद कमाई के मोर्चे पर मात खा रही रेलवे अब अपनी आमदनी बढ़ाने के दूसरे तरीके तलाश रही है। इसके लिए ट्रेनों की ब्रांडिंग के अलावा 3000 स्टेशनों पर डिस्प्ले नेटवर्क खड़ा किया जाएगा तथा प्लेटफार्मो पर एटीएम लगाए जाएंगे। यही नहीं, विज्ञापन और प्रचार से कमाई की इस मुहिम में रेल रेडियो का सहारा भी लिया जाएगा। राजस्व के इन नॉन फेयर तरीकों से दस सालों में साढ़े सोलह हजार करोड़ रुपये की आय प्राप्त करने का मंत्रालय का इरादा है। नॉन फेयर रेवेन्यू स्कीम में भागीदारी की इच्छुक निजी व सार्वजनिक क्षेत्र की ...और अधिक »

किराए-भाड़े से नहीं बल्कि विज्ञापन, प्रचार और ATM के जरिए रेलवे कमाएगा 16500 करोड़ - IndiaTV Paisa

रेलवे ने निर्णय किया है कि वह गैर-किराया राजस्‍व के लिए विज्ञापन और प्रचार का सहारा लेगा। ट्रेनों की ब्रांडिंग के अलावा प्लेटफॉर्मों पर ATM भी लगाएगा। Manish Mishra [Published on:11 Jan 2017, 8:48 AM IST]. Innovative Idea : किराए-भाड़े से नहीं बल्कि विज्ञापन, प्रचार और ATM के जरिए रेलवे कमाएगा 16,500 करोड़. नई दिल्‍ली। किराया-भाड़ा में बढ़ोतरी करने के बावजूद कमाई के मोर्चे पर मात खा रहा रेलवे अब अपनी आमदनी बढ़ाने के दूसरे तरीके तलाश रहा है। रेलवे ने निर्णय किया है कि वह गैर-किराया राजस्‍व के लिए ट्रेनों की ब्रांडिंग के अलावा 3,000 स्टेशनों पर डिस्प्ले नेटवर्क खड़ा करेगा। साथ ही प्लेटफॉर्मों पर ATM भी लगाए जाएंगे। विज्ञापन और प्रचार से कमाई के इस अभियान में रेल ...और अधिक »

रेलवे की नई पॉलिसी, होगी 16500 करोड़ रुपए की आमदनी - पंजाब केसरी

नई दिल्लीः रेलवे अपनी आय बढ़ाने के लिए नए-नए रास्ते तलाशने की कोशिश कर रही है। रेलवे ने माल भाड़ा और यात्री किराए के आलावा आमदनी के दूसरे स्त्रोत पर केंद्रित करना शुरू करना कर दिया है। इसके लिए रेलवे ने गैर किराया राजस्व के लिए अपनी नई पॉलिसी तैयार की है। नई नीति के तहत रेलवे ने अनुमान लगाया है कि वह सालाना 16,500 करोड़ रुपए की अतिरिक्त आमदनी कर सकती है। क्या है ये नई पॉलिसी बता दें कि रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने राजधानी दिल्ली में रेलवे की गैर किराया राजस्व पॉलिसी को हरी झंडी दिखा दी है। इस नई रेल किराया राजस्व पॉलिसी के तहत देशभर में चलने वाली सभी ट्रेनों को विनायल रैपिंग एडवरटाइजिंग के लिए ई-नीलामी करके बेचा जाने वाला है। इस पॉलिसी के तहत ...और अधिक »