This RSS feed URL is deprecated

योगी सरकार के काम पर है पैनी नजरः अखिलेश यादव - नवभारत टाइम्स

लखनऊ यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव, योगी आदित्यनाथ सरकार के कामकाज पर नजर बनाए हुए हैं। अखिलेश ने शनिवार को कहा कि यह सरकार अपनी परीक्षा में पास होती है या फेल हम उसका इंतजार कर रहे हैं। अखिलेश ने साथ ही एकबार फिर ईवीएम का मुद्दा भी उठाया। उन्होंने कहा, 'विश्व के सबसे शक्तिशाली देश भी ईवीएम का इस्तेमाल नहीं करते।' उन्होंने आगे कहा, 'विपक्षी पार्टियों ने चुनाव आयोग, राष्ट्रपति से मुलाकात की है। चुनाव आयोग ने कहा है कि इस मसले पर सर्वदलीय बैठक बुलाई जाएगी।' टॉप कॉमेंट. अपने पांच साल के कार्यकाल मे तो कुछ कर नही पाये और अब दूसरो पर नज़र रख रहे है की वोह कुछ महीनो मे ...और अधिक »

शिवपाल को पार्टी संविधान की जानकारी नहीं, दे रहे फिजूल बयान: रामगोपाल - नवभारत टाइम्स

इटावा समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव ने एसपी अध्यक्ष अखिलेश यादव के प्रतिद्वंद्वी चाचा शिवपाल सिंह यादव पर हमला करते हुए कहा कि पार्टी संविधान की जानकारी नहीं होने के कारण ही वह अखिलेश से एसपी अध्यक्ष पद छोड़ने के फिजूल बयान दे रहे हैं। यादव ने कहा कि शिवपाल लगातार कह रहे हैं कि अखिलेश को अपने वादे के मुताबिक पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद छोड़ देना चाहिए। इसकी वजह यह है कि उन्होंने शायद पार्टी का संविधान नहीं पढ़ा है। टॉप कॉमेंट. Ek kahawat hai ki yadavo ki buddhi 12 baje khulti hai,lekin ab to lagta hai ki inki buddhi hi fail ho gayi hai aur enke chehre par hamesha 12 baje ...और अधिक »

रामगोपाल का शिवपाल को जवाब- राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद स्वयं अखिलेश भी किसी को नहीं दे सकते - News18 इंडिया

शिवपाल सिंह यादव द्वारा अखिलेश को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद छोड़ने पर रामगोपाल यादव ने इटावा में जवाब दिया है कि शायद उन्होंने समाजवादी पार्टी का संविधान नही पढ़ा है. ETV UP/Uttarakhand Updated: April 30, 2017, 4:04 PM IST. Play Video. Play. Play. Mute. Mute. Current Time 0:00. /. Duration Time 0:00. Loaded: 0%. Progress: 0%. Stream TypeLIVE. Remaining Time -0:00. Playback Rate. 1. Chapters. Chapters. descriptions off, selected. Descriptions. subtitles off, selected. Subtitles. captions settings, opens captions settings dialog; captions off, selected. Captions. Full screen. Full screen. This is a modal window. Foreground. ---, White, Black, Red, Green, Blue, Yellow, Magenta, Cyan. ---, Opaque, Semi- ...और अधिक »

शिवपाल को अखिलेश की दो-टूक, इस्तीफा मांगने से पहले पार्टी का संविधान जान लें - अमर उजाला

फिरोजाबाद के राजा के ताल पर शनिवार देर शाम एक सपा नेता की बेटी के शादी समारोह में पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने हाल ही में चाचा शिवपाल यादव के उनके इस्तीफे की बात पर परोक्ष रूप से जवाब दिया है। पत्रकार वार्ता के दौरान अखिलेश यादव के इस्तीफे को लेकर पूछे गए सवाल पर कहा कि हमसे इस्तीफा मांगने वालों को पहले समाजवादी पार्टी का संविधान जान लेना चा‌हिए। चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों के लिए जो व्यवस्‍था की है उसे जान लें। उन्होंने प्रदेश की योगी सरकार को हर मोर्चे पर फेल बताया। कहा कि भाजपा को जनता ने बड़ी जिम्मेदारी दी है। भाजपा सरकार को चाहिए कि वह जनता की ...और अधिक »

रामगोपाल ने लगा दी मुहर, अखिलेश ही रहेंगे सपा के अध्यक्ष - दैनिक जागरण

इटावा (जेएनएन)। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में तगड़ा झटका झेलने वाली समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष को लेकर चल रही बातों को खारिज कर आज पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव प्रोफेसर रामगोपाल यादव ने मुहर लगा दी। रामगोपाल यादव ने इटावा में समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने के बाद कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। रामगोपाल यादव ने कहा कि इसमें कोई संदेश नहीं है, अब अखिलेश यादव ही समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष है, और आगे भी वही पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहेंगे। पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ महासचिव रामगोपाल यादव भी आज इटावा में ही हैं। यह भी पढ़ें: ...और अधिक »

अखिलेश के चाचा ने मुलायम की उम्मीदों पर लगाया फुलस्टॉप, दिया बड़ा बयान - Patrika

अखिलेश के चाचा ने मुलायम सिंह यादव को करारा जवाब दिया है। related story. दर्दनाक : बाप बेटे गए थे खेत में काम करने अचानक कड़की बिजली और फिर .. अब योगी जी का नंबर है, केजरीवाल से भी कुछ सीखें, इसमें कोई बुराई नहीं ! लखनऊ. सपा दो फाड़ हो चुकी है, यह तो सभी को पता है। वहीं दो गुट में बट चुकी पार्टी का एक होना मुश्किल ही मालूम पड़ रहा। यूपी विधान सभा चुनाव 2017 में हार के बाद पार्टी के सभी दिग्गज सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पर जमकर वार कर रहे हैं। साथ ही वे अखिलेश यादव पर ये पद छोड़ने का दबाव भी डाल रहे हैं। चौतरफा वार झेल रहे अखिलेश ने इसका अभी तक कोई जवाब नहीं दिया, लेकिन उनके ...और अधिक »