अनियमित समायोजन रोकने की मांग सौपा ज्ञापन - अमर उजाला

महराजगंज। शुक्रवार को पूर्व माध्यमिक शिक्षक संघ जिला इकाई ने एडीएम को सात सूत्री ज्ञापन देकर बेसिक शिक्षकों के अनियमित समायोजन पर रोक लगाने की मांग की है। जिलाध्यक्ष संजय मणि त्रिपाठी ने पिछले वर्ष की तरह समायोजन की मांग की। उन्होंने विज्ञान-गणित के शिक्षकों के संबंध में दिशा निर्देश जारी करने की मांग की। कहा कि जारी शासनादेश के अनुसार कहीं ज्यादा तो कहीं कम शिक्षक हो गए। शिक्षा अधिकार अधिनियम 2009 के अनुसार शिक्षकों की तैनाती की जानी चाहिए। अंतरजनपदीय स्थानांतरण ले चुके शिक्षकों का भी स्थानांतरण किया जाए और उनको प्रतिबंध से मुक्त किया जाए।

समायोजन नीति को लेकर डीएम को ज्ञापन सौंपा - दैनिक जागरण

संतकबीर नगर : प्रदेश में किए जा रहे बेसिक शिक्षकों के समायोजन के लिए जारी शासनादेश को त्रूटिपूर्ण बताते हुए शुक्रवार को जूनियर हाई स्कूल शिक्षक संघ पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा। शिक्षकों ने नीति से सुधार के बजाय शिक्षकों के सामने परेशानी खड़ी होने की बात कही। सभी ने समायोजन नीति में सुधार होने तक समायोजन की प्रक्रिया रोकने की मांग की। जूनियर हाई स्कूल शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष अशोक कुमार गुप्त के नेतृत्व में संगठन पदाधिकारियों ने जिलाधिकारी से मिलकर समायोजन नीति के खामियों के बारे में बताया। शिक्षकों ...

समायोजन - अमर उजाला

बहराइच। उत्तर प्रदेशीय जूनियर हाईस्कूल (पूर्व माध्यमिक) शिक्षक संघ के पदाधिकारियों ने बेसिक शिक्षकों के अनियमित समायोजनों पर रोक लगाने की मांग की है। शिक्षक संघ ने डीएम और बीएसए को ज्ञापन सौंपकर नीति में संशोधन करते हुए कार्रवाई की मांग की है। जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ के अध्यक्ष वसी अहमद खां की अगुवाई में शिक्षकों ने जिलाधिकारी अजयदीप सिंह और जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ. अमरकांत सिंह को ज्ञापन सौंपा। शिक्षक नेताओं ने कहा कि बेसिक शिक्षा विभाग के अधीन जूनियर हाईस्कूल शिक्षकों के अनियमित समायोजन पर तत्काल रोक लगाई जाए। अंतरजनपदीय स्थानांतरण ...

पदोन्नति के बाद ही शिक्षकों के अतिशेष समायोजन की मांग - Nai Dunia

संयुक्त शिक्षाकर्मी संघ कुरुद ब्लॉक के सदस्यों ने जिला प्रशासन एवं शिक्षा विभाग से सबसे पहले शिक्षक पचांयतो का व्याख्याता पंचायत एवं सहायक शिक्षक पंचायतों का शिक्षक पंचायत के पद पर पदोन्नति देने और उसके बाद शिक्षकों का अतिशेष समायोजन करने की मांग की है। संघ का कहना है कि शासन की गलत नितियों के कारण शिक्षक पंचायत संवर्ग के शिक्षक अतिशेष के नाम पर आर्थिक, पारिवारिक, मानसिक रूप से परेशान हैं। हाईकोर्ट बिलासपुर के नियम को गलत बताकर मूल शाला में उन्हें पुनः भेजा गया। संघ की मांग है कि पदोन्नति के बाद अतिशेष समायोजन संकुल या ब्लॉक स्तर पर किया जाए। मांग पूरी ...