सुर्खियां

राम मंदिर मुद्दे पर जल्द सुनवाई नहीं - Hindustan हिंदी;

राम मंदिर मुद्दे पर जल्द सुनवाई नहीं - Hindustan हिंदी

Hindustan हिंदीराम मंदिर मुद्दे पर जल्द सुनवाई नहींHindustan हिंदीसुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी की अयोध्या मामले पर जल्द सुनवाई की अर्जी को खारिज कर दिया। इसके साथ ही इस मामले में कोर्ट से बाहर समझौते की संभावनाओं पर भी विराम लग गया है। जस्टिस जेएस खेहर और जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ की पीठ ने सुनवाई के दौरान सुब्रमण्यम स्वामी से कहा, हमें मीडिया से पता लगा है कि आप इस मामले में पक्ष नहीं हैं। स्वामी ने जवाब में कहा, मैं इसमें हस्तक्षेपकर्ता हूं, मेरा अयोध्या विवाद से कोई संबंध नहीं है। मैं अपने पूजा करने के संवैधानिक हक के लिए कोर्ट आया हूं। विवादित जमीन कोई भी ले, मुझे पूजा करने का हक चाहिए। इसके लिए ...और अधिक »

SC राम मंदिर मामले में समय देना चाहती है तो सुब्रमण्यम स्वामी को जल्दी क्यों ? - inKhabar;

SC राम मंदिर मामले में समय देना चाहती है तो सुब्रमण्यम स्वामी को जल्दी क्यों ? - inKhabar

inKhabarSC राम मंदिर मामले में समय देना चाहती है तो सुब्रमण्यम स्वामी को जल्दी क्यों ?inKhabarनई दिल्ली: आस्था से जुड़े राम मंदिर के मुद्दे पर तमाम पक्षकारों को आपसी बातचीत के जरिए हल खोजने के लिए कोर्ट ने एक हफ्ते का समय दिया था. इस दिशा में ज्यादा कुछ तो हुआ नहीं लेकिन सुब्रमण्यम स्वामी इस मामले में जल्द से जल्द निपटारा चाहते थे. मामला संवेदनशील है और स्वामी पक्षकार नहीं इसीलिए माननीय सुप्रीम कोर्ट ने स्वामी की याचिका पर जल्द सुनवाई से इनकार कर दिया. सुप्रीम कोर्ट ने स्वामी से पूछा कि मामले में सुब्रमण्यम स्वामी किस अधिकार से अदालत के समक्ष उपस्थित हुए ? दूसरे पक्ष के वकीलों ने स्वामी की मांग पर ये कहते हुए भी एतराज जताया कि स्वामी इस मामले के ...और अधिक »

राम जन्मभूमि-बाबरी विवाद पर SC का जल्द सुनवाई से इन्कार, स्वामी से कहा- आप पक्षकार नहीं - Nai Dunia;

राम जन्मभूमि-बाबरी विवाद पर SC का जल्द सुनवाई से इन्कार, स्वामी से कहा- आप पक्षकार नहीं - Nai Dunia

Nai Duniaराम जन्मभूमि-बाबरी विवाद पर SC का जल्द सुनवाई से इन्कार, स्वामी से कहा- आप पक्षकार नहींNai Duniaनई दिल्ली। दस दिन पहले अयोध्या मामले के निपटारे का जो रास्ता दिखा था वह फिर से धूमिल होने लगा है। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले की शीघ्र सुनवाई की भाजपा नेता सुब्रह्माण्यम स्वामी की मांग ठुकरा दी है। कोर्ट ने स्वामी से कहा कि उन्हें नहीं मालूम था कि वह मामले में पक्षकार नहीं हैं। फिलहाल कोर्ट के पास उन्हें सुनने का समय नहीं है। मालूम हो कि 21 मार्च को कोर्ट ने स्वामी की याचिका पर ही अयोध्या मसले को बातचीत के जरिये कोर्ट के बाहर सुलझाने का सुझाव दिया था। साथ ही कोर्ट ने स्वामी को 31 मार्च को फिर से मामले को उठाने की छूट दी थी। उस दिन कोर्ट की टिप्पणियां भले ही ...और अधिक »

अयोध्या मामले में जल्द सुनवाई से इनकार - देशबन्धु;

अयोध्या मामले में जल्द सुनवाई से इनकार - देशबन्धु

देशबन्धुअयोध्या मामले में जल्द सुनवाई से इनकारदेशबन्धुनई दिल्ली ! सर्वोच्च न्यायालय ने शुक्रवार को विवादित रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद स्थल पर अधिकार के मुकदमे पर इलाहाबाद उच्च न्यायालय के 2010 के फैसले को चुनौती देने वाली याचिका पर जल्द सुनवाई से इनकार ... देशबन्धु ब्यूरो. March 31,2017 09:19. अयोध्या मामले में जल्द सुनवाई से इनकार. नई दिल्ली ! सर्वोच्च न्यायालय ने शुक्रवार को विवादित रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद स्थल पर अधिकार के मुकदमे पर इलाहाबाद उच्च न्यायालय के 2010 के फैसले को चुनौती देने वाली याचिका पर जल्द सुनवाई से इनकार कर दिया। प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति जगदीश सिंह खेहर की अगुवाई वाली पीठ ने भाजपा नेता ...और अधिक »

ट्रिपल तलाकः सुप्रीम कोर्ट ने कहा, यह गंभीर मसला है, इसे सुने जाने की जरूरत - haribhoomi;

ट्रिपल तलाकः सुप्रीम कोर्ट ने कहा, यह गंभीर मसला है, इसे सुने जाने की जरूरत - haribhoomi

haribhoomiट्रिपल तलाकः सुप्रीम कोर्ट ने कहा, यह गंभीर मसला है, इसे सुने जाने की जरूरतharibhoomiनई दिल्ली. पिछले कुछ सालों से विरोध के केंद्र में रहे ट्रिपल तलाक के मुद्दे पर गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को ट्रिपल तलाक मामले में सुनवाई के दौरान कहा कि यह एक बहुत ही गंभीर मुद्दा है और इसे सुने जाने की जरूरत है। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने संबंधित पार्टियों को अपना पक्ष लिखित में अटार्नी जनरल के पास 30 मार्च तक जमा कराने को कहा है। गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में मुद्दे तय करने थे कि आगे सुनवाई किस आधार पर होगी। मंगलवार को हुई सुनवाई के दौरान कोर्ट ने सभी पक्षों को आपसी सहमति के साथ तैयार होकर आने को कहा था। इसे भी ...और अधिक »

'राम' पर शत्रुघ्न सिन्हा के बोल- मंदिर पर इतनी जल्दबाजी क्यों, सब सुख शांति से तो चल रहा है! - Jansatta;

'राम' पर शत्रुघ्न सिन्हा के बोल- मंदिर पर इतनी जल्दबाजी क्यों, सब सुख शांति से तो चल रहा है! - Jansatta

Jansatta'राम' पर शत्रुघ्न सिन्हा के बोल- मंदिर पर इतनी जल्दबाजी क्यों, सब सुख शांति से तो चल रहा है!Jansattaमुखपृष्ठ · राष्ट्रीय; 'राम' पर शत्रुघ्न सिन्हा के बोल- मंदिर पर इतनी जल्दबाजी क्यों, सब सुख शांति से तो चल रहा है! 'राम' पर शत्रुघ्न सिन्हा के बोल- मंदिर पर इतनी जल्दबाजी क्यों, सब सुख शांति से तो चल रहा है! बीजेपी सांसद का कहना है कि राम मंदिर निर्माण को लेकर इतनी जल्दबाजी किस बात की है अभी सब कुछ सुख शांति से चल रहा है। Author जनसत्ता ऑनलाइन March 31, 2017 19:50 pm. 4.9K. Shares. Facebook · Twitter · Google Plus · Whatsapp. भाजपा सासंद शत्रुघ्न सिन्हा। (पीटीआई फाइल फोटो). शॉटगन के नाम से फेमस बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा एक बार फिर से पार्टी लाइन से हटकर बयान दिया है। बीजेपी के कुछ नेता ...और अधिक »

'हमारे पास राम जन्मभूमि केस पर जल्द सुनवाई करने का वक्त नहीं' : SC - इंडिलिंक्स;

'हमारे पास राम जन्मभूमि केस पर जल्द सुनवाई करने का वक्त नहीं' : SC - इंडिलिंक्स

इंडिलिंक्स'हमारे पास राम जन्मभूमि केस पर जल्द सुनवाई करने का वक्त नहीं' : SCइंडिलिंक्सनई दिल्ली. राम जन्मभूमि पर आज सुप्रीम कोर्ट को अहम फैसला देना था कि इस मामले पर जल्द व रोज सुनवाई हो। सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुनाते हुए रोज सुनवाई करने से इनकार कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा, “हमारे पास इस केस पर जल्द सुनवाई करने का वक्त नहीं है।” बता दें, इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने इस विवाद पर आपसी सहमति कर फैसला निकालने का आदेश दिया था। गौरतलब है कि बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने इस मामले में जल्द सुनवाई की अर्जी दी थी। वकील जफरयाब जिलानी ने कहा कि सुब्रह्मण्यम स्वामी इस केस में पार्टी नहीं है, किसी तीसरे व्यक्ति के कहने पर जल्द सुनवाई नहीं हो सकती।और अधिक »

राम मंदिर मामले पर बोले शत्रुघ्न- सुनवाई की नहीं कोई जल्दी - पंजाब केसरी;

राम मंदिर मामले पर बोले शत्रुघ्न- सुनवाई की नहीं कोई जल्दी - पंजाब केसरी

पंजाब केसरीराम मंदिर मामले पर बोले शत्रुघ्न- सुनवाई की नहीं कोई जल्दीपंजाब केसरीनई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी के नेता और बिहार के पटना साहिब से सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने भी राम मंदिर पर शॉट मारा है। हालांकि हर बार की तरह इस बार भी वो अपनी पार्टी के नेताओं के भावनाओं के परे ही जाते दिख रहे हैं। राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट की ओर से जल्द सुनवाई करने से मना कर से जुड़े सवाल पर शुत्रुघ्न ने कहा ऐसी क्या जल्दी है? उन्होंने कहा कि अभी सब कुछ आराम से चल रहा है, सुख शांति है। राम मंदिर मामले की सुनवाई कर रही बेंच ने कहा कि अभी इसकी सुनवाई के लिए वक्त नहीं है। साथ ही कोर्ट ने फिलहाल इसके लिए आगे की कोई तारीख देने से भी इनकार कर दिया है। राज्यसभा सांसद ...और अधिक »

स्वामी बोले- अयोध्या मामले में बुनियादी हक है मेरा कानूनी अधिकार - आज तक;

स्वामी बोले- अयोध्या मामले में बुनियादी हक है मेरा कानूनी अधिकार - आज तक

आज तकस्वामी बोले- अयोध्या मामले में बुनियादी हक है मेरा कानूनी अधिकारआज तकअयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सुब्रमण्यन स्वामी से कोर्ट ने इस मामले में उनके पेश होने का कानूनी अधिकार यानी लोकस स्टैंडाई पूछा. आजतक से बातचीत में स्वामी ने कहा कि इस मामले में उनका बुनियादी हक ही उनका लोकस स्टैंडाई है. कोर्ट ने इस मामले की जल्दी सुनवाई की स्वामी की अपील खारिज कर दी. कोर्ट ने ये कहा कि अभी प्राथमिकता के आधार पर और भी कई मामले सुनने हैं, लिहाजा इस मामले की जल्दी सुनवाई फिलहाल मुमकिन नहीं है. स्वामी के लोकस स्टैंडाई पर कोर्ट ने वक्फ बोर्ड की अपील पर सवाल उठाया, लेकिन बाद में यह भी कहा कि भविष्य में अगर स्वामी इस मामले में कुछ मेंशन ...और अधिक »

होम न्यूज़ राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट ने किया जल्द सुनवाई से... - Newsaura Hindi;

होम न्यूज़ राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट ने किया जल्द सुनवाई से... - Newsaura Hindi

Newsaura Hindiहोम न्यूज़ राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट ने किया जल्द सुनवाई से...Newsaura Hindiसुप्रीम कोर्ट की ताज़ा सुनवाई के दौरान प्रधान न्यायाधीश ने इस मामले पर जल्द सुनवाई से इनकार कर सुब्रमनियम स्वामी को फटकार भी लगायी है। द्वारा Sarvesh Bhatt -. March 31, 2017. 0 · फेसबुक पर शेयर करें · ट्विटर पर ट्वीट करें · tweet. Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins. सर्वोच्च न्यायालय ने शुक्रवार को विवादित रामजन्मभूमि बाबरी मस्जिद स्थल पर अधिकार के मुकदमे पर इलाहाबाद उच्च न्यायालय के 2010 के फैसले को चुनौती देने वाली याचिका पर जल्द सुनवाई से इनकार किया है। प्रधान न्यायाधीश जगदीश सिंह खेहर की अगुवाई वाली पीठ ने कहा कि अभी इस याचिका पर सुनवाई करने के लिए उसके पास ...और अधिक »

सुप्रीमकोर्ट ने सुब्रमणियम स्वामी को फटकारा 'आप पक्षकार नही तो किस अधिकार से आ रहे हैं' - लोकभारत न्यूज़;

सुप्रीमकोर्ट ने सुब्रमणियम स्वामी को फटकारा 'आप पक्षकार नही तो किस अधिकार से आ रहे हैं' - लोकभारत न्यूज़

लोकभारत न्यूज़सुप्रीमकोर्ट ने सुब्रमणियम स्वामी को फटकारा 'आप पक्षकार नही तो किस अधिकार से आ रहे हैं'लोकभारत न्यूज़नई दिल्ली । अयोध्या में राम जन्म भूमि – बाबरी मस्जिद विवाद की जल्द सुनवाई से सुप्रीमकोर्ट ने इनकार कर दिया है। इसके अलावा सुप्रीप कोर्ट ने बीजेपी नेता सुब्रमणियम स्वामी को बड़ा झटका देते हुए कहा कि इस मामले में बीजेपी नेता पक्षकार नही हैं। कोर्ट ने सुब्रह्मण्यम स्वामी से पूछा कि आप इस मामले में पार्टी नहीं हैं तो फिर आप अदालत के बीच में किस अधिकार से आ रहे हैं? कोर्ट ने कहा कि इस केस की सुनवाई जल्द नहीं की जा सकती। इस केस में आपका लोकस स्टैंडी क्या है। हमारे पास आपकी बात सुनने का वक्त नहीं है। गौरतलब है कि इस मामले में जल्दी निपटारे के लिए बीजेपी नेता ...और अधिक »

अयोध्या पर जल्द सुनवाई से सुप्रीम कोर्ट का इनकार - मनी कॉंट्रोल (प्रेस विज्ञप्ति);

अयोध्या पर जल्द सुनवाई से सुप्रीम कोर्ट का इनकार - मनी कॉंट्रोल (प्रेस विज्ञप्ति)

मनी कॉंट्रोल (प्रेस विज्ञप्ति)अयोध्या पर जल्द सुनवाई से सुप्रीम कोर्ट का इनकारमनी कॉंट्रोल (प्रेस विज्ञप्ति)अयोध्या मामले में जल्दी सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट तैयार नहीं है। कोर्ट ने सुब्रमनियम स्वामी की याचिका पर जल्द सुनवाई से इनकार करते हुए कहा कि वो नहीं जानते थे कि स्वामी भी इस मामले मे एक पक्ष हैं। सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने स्वामी से पूछा कि आप किस अधिकार से अदालत के समक्ष उपस्थित हुए हैं, अभी कोर्ट के पास आपको सुनने के लिए समय नहीं है। वहीं सुन्नी वक्फ बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि स्वामी ने बातचीत के जरिए अयोध्या विवाद को सुलझाने पर कोई पहल नहीं की है। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने दोनों पक्षों को कोर्ट के बाहर बातचीत से मसले को सुलझाने की सलाह दी थी।और अधिक »

अयोध्या मुद्दे पर SC से मिले झटके के बाद, स्वामी ने ट्वीट कर कही ये बातें - पंजाब केसरी;

अयोध्या मुद्दे पर SC से मिले झटके के बाद, स्वामी ने ट्वीट कर कही ये बातें - पंजाब केसरी

पंजाब केसरीअयोध्या मुद्दे पर SC से मिले झटके के बाद, स्वामी ने ट्वीट कर कही ये बातेंपंजाब केसरीअयोध्याः अयोध्या केस में सुप्रीम कोर्ट ने जल्द सुनवाई से इनकार किया है जो कि बीजेपी नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी के लिए किसी बड़े झटके से कम नहीं है। जिसके बाद स्वामी ने सोशल मीडिया का सहारा लेकर ट्वीट कर अपनी बात रखी है। SC का इनकार स्वानी के लिए बना झटका बता दें कि स्वामी ने सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका लगा कर अयोध्या विवाद के जल्द निपटारे की मांग की थी। जिस पर आज सुनवाई करते हुए अदालत ने कहा कि मामले के पक्षकारों को और वक्त देने की जरूरत है और कोर्ट ने मामले की जल्द सुनवाई से इंकार कर दिया है। स्वामी ने ट्वीच कर कहा- दूसरे रास्ते अपनाऊंगा अदालत से मिले इस झटके ...और अधिक »

राम मंदिर मामले में SC का जल्द सुनवाई से इनकार, स्वामी बोले- दूसरा रास्ता अपनाऊंगा - India.com हिंदी;

राम मंदिर मामले में SC का जल्द सुनवाई से इनकार, स्वामी बोले- दूसरा रास्ता अपनाऊंगा - India.com हिंदी

India.com हिंदीराम मंदिर मामले में SC का जल्द सुनवाई से इनकार, स्वामी बोले- दूसरा रास्ता अपनाऊंगाIndia.com हिंदीनई दिल्ली। अयोध्या राम मंदिर मामले में सुप्रीम कोर्ट ने जल्द सुनवाई से इनकार कर दिया है। बीजेपी सांसद सुब्रमण्यन स्वामी ने जल्द सुनवाई की अर्जी दी थी। कोर्ट ने कहा कि इस मामले में जल्द सुनवाई संभव नहीं है। सभी पक्षों को और समय दिया जाना चाहिए। साथ ही कोर्ट ने स्वामी को झटका देते हुए कहा कि आप तो केस में पार्टी भी नहीं हैं। कोर्ट ने कहा कि आपने हमें नहीं बताया कि आप इस मामले में पक्ष नहीं हैं। हमें इस बारे में प्रेस से पता चला। स्वामी ने जाहिर की निराशा. वहीं, स्वामी ने कहा कि मेरी अर्जी खारिज नहीं हुई है। मैंने कभी नहीं कहा कि मैं पार्टी हूं। मैंने अलग से अर्जी दी ...और अधिक »

सुप्रीम कोर्ट ने किया अयोध्या विवाद में जल्द सुनवाई से इनकार, स्वामी बोले दूसरा रास्ता देखूंगा - Catch Hindi;

सुप्रीम कोर्ट ने किया अयोध्या विवाद में जल्द सुनवाई से इनकार, स्वामी बोले दूसरा रास्ता देखूंगा - Catch Hindi

Catch Hindiसुप्रीम कोर्ट ने किया अयोध्या विवाद में जल्द सुनवाई से इनकार, स्वामी बोले दूसरा रास्ता देखूंगाCatch Hindiराम जन्मभूमि पर मंदिर या बाबरी मस्जिद विवाद को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को जल्द सुनवाई से इनकार कर दिया है. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक कोर्ट की बेंच ने सुब्रह्मण्यम स्वामी की अपील पर जल्द सुनवाई से इनकार कर दिया. कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि हम नहीं जानते की आप इस केस में पार्टी हैं तो आप फिर अदालत के बीच में किस अधिकार से आ रहे हैं? गौरतलब है कि पिछली सुनवाई में सर्वोच्च न्यायालय ने इसे धर्म और आस्था से जुड़ा मामला बताते हुए दोनों पक्षकारों से आपसी बातचीत के जरिए हल खोजने को कहा था. इस मामले में याचिकाकर्ता सुब्रह्मण्यम स्वामी को शुक्रवार को ...और अधिक »

उच्चतम न्यायालय ने अयोध्या भूमि विवाद मामले की शीघ्र सुनवाई से किया इंकार - नवभारत टाइम्स

उच्चतम न्यायालय ने अयोध्या भूमि विवाद मामले की शीघ्र सुनवाई से किया इंकारनवभारत टाइम्स(यह आर्टिकल एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड हुआ है। इसे नवभारतटाइम्स.कॉम की टीम ने एडिट नहीं किया है।) | Updated: Mar 31, 2017, 03.20PM IST. नयी दिल्ली, 31 मार्च :: उच्चतम न्यायालय ने अयोध्या राम मंदिर-बाबरी मस्जिद मामले से जुड़ी दीवानी अपीलों पर शीघ्र सुनवाई करने से आज इंकार कर दिया। प्रधान न्यायाधीश जे एस खेहर की अगुवाई वाली पीठ ने सुनवाई के दौरान भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी से कहा कि न्यायालय को बताया गया था कि वह इस मामले में एक पक्षकार हैंंं। अदालत ने कहा, इसके कारण प्रधान न्यायाधीश ने पक्षकारांे के बीच मध्यस्थता करने की पेशकश की थी। पीठ ने कहा, आपने हमें यह नहीं बताया ...और अधिक »

राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद की नहीं होगी जल्द सुनवाई - अमर उजाला;

राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद की नहीं होगी जल्द सुनवाई - अमर उजाला

अमर उजालाराम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद की नहीं होगी जल्द सुनवाईअमर उजालासुप्रीम कोर्ट ने राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर जल्द सुनवाई से इनकार कर दिया है। सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा कि उसके पास बहुत से दूसरे मामले लंबे समय से लंबित पड़े हैं ऐसे में अयोध्या मामले की जल्द सुनवाई आसान नहीं होगी। LiveConversation. Login to comment. Showing 0 of 0 comments. Also View. देखिए राम जन्मभूमि विवाद की पूरी कहानी. देखिए राम जन्मभूमि विवाद की पूरी कहानी. राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद को आपसी सहमति से सुलझाने की सुप्रीम कोर्ट की सलाह के बाद एक बार फिर ये मुद्दा चर्चा में आ गया है। हम आपको बताते हैं क्या है अयोध्या विवाद का पूरा इतिहास। जानिए मुगलों के ...और अधिक »

राम जन्मभूमि-बाबरी विवाद पर जल्द सुनवाई नहीं, स्वामी को लगा झटका - राष्ट्रीय खबर;

राम जन्मभूमि-बाबरी विवाद पर जल्द सुनवाई नहीं, स्वामी को लगा झटका - राष्ट्रीय खबर

राष्ट्रीय खबरराम जन्मभूमि-बाबरी विवाद पर जल्द सुनवाई नहीं, स्वामी को लगा झटकाराष्ट्रीय खबरनई दिल्ली : रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले की जल्द सुनवाई करने की मांग करने वाले भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी को शीर्ष न्यायलय से बड़ा झटका लगा है। उच्चतम न्यायलय ने मामले की जल्द सुनवाई करने से साफ इन्कार कर दिया है। मालूम हो कि भाजपा सांसद ने अदालत में जल्द सुनवाई के लिए 21 मार्च को अर्जी दी थी। शुक्रवार को शीर्ष न्यायलय ने इस मामले पर सुनवाई करते हुए स्वामी को पक्षकार न मानते हुए और वक्त की कमी जाहिर करते हुए जल्द सुनवाई की मांग से इनकार कर दिया। कोर्ट में सुनवाई के दौरान इस मामले के पक्षकारों ने कहा कि स्वामी इस केस में पार्टी नहीं हैं। कोर्ट ने ...और अधिक »

राम जन्मभूमि-बाबरी मामले में जल्द सुनवाई नहीं होगी : सुप्रीम कोर्ट - Samachar Jagat;

राम जन्मभूमि-बाबरी मामले में जल्द सुनवाई नहीं होगी : सुप्रीम कोर्ट - Samachar Jagat

Samachar Jagatराम जन्मभूमि-बाबरी मामले में जल्द सुनवाई नहीं होगी : सुप्रीम कोर्टSamachar Jagatनई दिल्ली। अयोध्या मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने जल्द सुनवाई से इनकार कर दिया है। भाजपा नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने इस बाबत उच्चतम न्यायालय में याचिका दायर की थी। शुक्रवार को उच्चतम न्यायालय ने इस मामले पर सुनवाई करते हुए स्वामी को पक्षकार न मानते हुए और समय की कमी जाहिर करते हुए जल्द सुनवाई की मांग से इनकार कर दिया। उच्चतम न्यायालय में सुनवाई के दौरान इस मामले के पक्षकारों ने कहा कि स्वामी इस केस में पार्टी नहीं हैं। अदालत ने स्वामी से कहा कि आपने हमें बताया नही कि आप मुख्य मामले में पार्टी नहीं हैं। स्वामी से स्वीकार किया कि वे पक्षकार नहीं है, हालांकि उनके ...और अधिक »

अयोध्या विवाद: जल्द सुनवाई से इंकार का मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने किया स्वागत - Firstpost Hindi;

अयोध्या विवाद: जल्द सुनवाई से इंकार का मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने किया स्वागत - Firstpost Hindi

Firstpost Hindiअयोध्या विवाद: जल्द सुनवाई से इंकार का मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने किया स्वागतFirstpost Hindiअयोध्या विवाद के जल्द सुलझने के आसार अब खत्म होते दिख रहे हैं. सुप्रीम कोर्ट ने बीजेपी नेता सुब्रमण्यन स्वामी की उस याचिका को खारिज कर दिया है जिसमें स्वामी ने इस मामले की जल्द सुनवाई की मांग की थी. सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले का मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने स्वागत किया है. बोर्ड के सदस्य कमाल फारुकी ने फ़र्स्टपोस्ट से बातचीत में कहा कि 'सुप्रीम कोर्ट का फैसला स्वाभाविक है. सुब्रमण्यन स्वामी कोर्ट का ध्यान इधर-उधर भटकाने की कोशिश कर रहे हैं.' कमाल फारुकी ने स्वामी पर निशाना साधते हुए कहा कि 'जम्प्स इनटू दे वेल एंड से समथिंग' यही उनका तरीका है. मुस्लिम पर्सनल लॉ ...और अधिक »