100 से अधिक झोलाछाप डॉक्टरों के क्लिनिक लेकिन मात्र दो पर की जांच - Nai Dunia

विकासखंड क्षेत्र में 100 से अधिक झोलाछाप डॉक्टरों द्वारा क्लीनिक का संचालन जिम्मेदारों की नाक के नीचे किया जा रहा है। लेकिन विकासखंड मुख्यालय पर नियुक्त जिम्मेदार अधिकारियों द्वारा स्टाफ की कमी का बहाना बनाकर कोई ठोस कार्रवाई नहीं की जा रही है। मात्र दिखावे के लिए बुधवार को बीएमओ ने नगर के गीता भवन मार्केट के समीप और नगर पंचायत चौराहा पर मात्र दो चिकित्सकों के क्लीनिक पर टीम के साथ पहुंच निरीक्षण की कार्रवाई कर अपने कर्तव्य की इतिश्री कर ली गई है। जानकारी के मुताबिक नगर में करीब 15 से 20 स्थानों पर चिकित्सकों द्वारा क्लीनिक खोलकर आयुर्वेदिक और ...

प्रदर्शन से हेल्थ डिपार्टमेंट बैकफुट पर नियम तोड़ने वालों की चौखट से भी दूरी - दैनिक भास्कर

पैरामेडिकल सह चिकित्सक संघ ने बुधवार को मुंडन कराकर राज्य सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। संघ लगाकर प्रदर्शन कर शासन और प्रशासन पर दबाव बना रहा है। इसी का नतीजा है कि सील क्लीनिक को खोलकर इलाज करने वाले डॉक्टरों पर स्वास्थ्य विभाग कार्रवाई करने से परहेज करता दिख रहा है। चिखली के डॉ. अरूण देवांगन ने सील तोड़कर क्लीनिक शुरू कर दी थी और डॉ. अरूण वर्मा की क्लीनिक पर किसी दूसरे डॉक्टर का बोर्ड लगाकर काम चल रहा था। विभागीय अधिकारियों को इसकी भनक ही नहीं लगी। भास्कर की टीम ने जब इसका खुलासा किया तो अधिकारी अब कार्रवाई नहीं कर रहे हैं। राजनीतिक पार्टियां भी साथ, उठे ...

बिना डिग्री गुप्तरोग विशेषज्ञ बताने वाले तीन झोलाछाप डाक्टरों के क्लीनिक में लगा ताला - Patrika

झोला छाप डॉक्टरी के संदेह पर हाईकोर्ट के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए जा रहे जांच में कथित डॉक्टरों और उनके डिग्रियों के बारे में चौकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। दुर्ग. झोला छाप डॉक्टरी के संदेह पर हाईकोर्ट के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए जा रहे जांच में कथित डॉक्टरों और उनके डिग्रियों के बारे में चौकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। बुधवार को विभाग के अफसरों ने शहर के छह डॉक्टरों के क्लीनिकों में दबिश देकर जांच की। तीन डॉक्टरों के क्लीनिक सील. इसमें अल्टरनेटिव का सर्टिफिकेट रखकर खुद को गुप्तरोग एक्सपर्ट बताकर डॉक्टरी चलाने के मामले सामने आए।

दो झोलाछाप डॉक्टरों के क्लीनिक सील - अमर उजाला

सीएम विंडो में दर्ज कराई गई शिकायत के आधार पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने झोलाछाप डॉक्टरों की दो दुकानों पर छापा मारकर उन्हें सील कर दिया। सूचना मिलते ही दोनों झोलाछाप दुकान को खुला छोड़कर मौके से फरार हो गए। छापेमारी की सूचना शहर में आग की तरह फैल गई और झोलाछाप डॉक्टरों में हड़कंप मच गया। स्वास्थ्य विभाग ने दोनों फरार हुए झोलाछाप डॉक्टरों के खिलाफ पुलिस को शिकायत दे दी है। स्वास्थ्य विभाग के एसएमओ डॉ. विपिन कुमार ने बताया कि किसी ने सीएम विंडो में शिकायत देकर बताया कि कच्चा तालाब व नया नगला रोड पर बगैर डिग्री के डॉक्टर की दुकान खोलकर लोगों के जीवन के ...

दो झोलाछाप डॉक्टरों के क्लीनिक किए सील - दैनिक जागरण

संवाद सहयोगी, होडल: सीएम ¨वडो पर की गई शिकायत के बाद स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने मंगलवार को शहर में दो स्थानों पर चलाए जा रहे झोलाछाप डॉक्टरों के क्लीनिकों को सील कर दिया। दोनों झोलाछाप डॉक्टरों को एक सप्ताह में अपना पक्ष रखने का समय दिया अन्यथा उसके बाद विभाग द्वारा थाना पुलिस में कार्रवाई की जाएगी। वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डॉ. विपिन कुमार ने बताया कि कच्चा तालाब व नया नगला रोड पर बिना डिग्री के डॉक्टरों द्वारा निजी क्लीनिक चलाकर लोगों के स्वास्थ के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है, जिसकी शिकायत सीएम ¨वडो पर की गई थी। शिकायत के आधार पर जिला ...