This RSS feed URL is deprecated

केदारनाथ और बद्रीनाथ के कपाट बंद करने का निकला मुहूर्त - नवभारत टाइम्स

विजयदशमी के शुभ अवसर पर बद्रीनाथ मंदिर के मुख्य पुजारी ईश्वरी प्रसाद ने बद्रीनाथ और केदारनाथ के कपाट बंद होने की घोषणा कर दी। मंदिर के धर्माधिकारी भुवनचंद्र उनियाल और वेदपाठियों ने बद्रीनाथ के कपाट बंद होने का मुहूर्त निकाला। इस मुहूर्त के अनुसार बद्रीनाथ के कपाट 19 नवम्बर की शाम 7:28 मिनट पर बंद होंगे। केदारनाथ के कपाट 21 अक्टूबर को बंद हो जाऐंगे। शनिवार को मंदिर के कपाट बंद होने का मुहूर्त निकालते वक्त मंदिर के सभी पुजारी मौजूद थे। मंदिर के कपाट बंद होने के बाद छह महीने तक भगवान बद्रीनाथ की पूजा नृसिंह मंदिर जोशीमठ में होगी। पुजारी ने बताया कि भगवान केदारनाथ धाम के कपाट शीतकाल के लिए 21 अक्टूबर सुबह आठ बजे वृषभ लग्न में बंद होंगे। कपाट बंद होने के बाद ...और अधिक »

बद्रीनाथ के कपाट 19 नवंबर को होंगे बंद, सर्दियों में नहीं होंगे दर्शन - NDTV Khabar

केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट हर साल सर्दियों के लिए अक्तूबर नवंबर में बंद कर दिए जाते हैं क्योंकि वहां बर्फबारी होती है और वहां जाना दुर्गम हो जाता है. Reported by: भाषा, Updated: 1 अक्टूबर, 2017 9:49 AM. 10 Shares. ईमेल करें. टिप्पणियां. बद्रीनाथ के कपाट 19 नवंबर को होंगे बंद, सर्दियों में नहीं होंगे दर्शन. खास बातें. कपाट हर साल सर्दियों में बंद कर दिए जाते हैं. बर्फबारी के कारण चारों धाम जाना दुर्गम हो जाता है. उत्तराखंड में स्थित चारों धाम- केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री. बद्रीनाथ मंदिर के कपाट सर्दियों के लिए इस साल 19 नवंबर को बंद हो जाएंगे और इसके साथ ही वार्षिक चारधाम यात्रा पूरी हो जाएगी. विजयादशमी के मौके पर ...और अधिक »

केदारनाथ के 21 अक्टूबर और बदरीनाथ के कापाट 19 नवंबर को होंगे बंद - दैनिक जागरण

विजयादशमी के शुभ अवसर पर बदरीनाथ के कपाट बंद होने की तिथि घोषित की गई। बदरीनाथ के कपाट 19 नवंबर को शाम 7:28 मिनट पर बंद होंगे। देहरादून, [जेएनएन]: विजयदशमी के पावन पर्व पर बदरीनाथ, केदारनाथ और यमुनोत्री धाम के कपाट बंद करने के शुभ मुहूर्त निकाले गए। इसके तहत बदरीनाथ धाम के कपाट शीतकाल के लिए 19 नवंबर को शाम 7.28 मिनट पर बंद किए जाएंगे। इसके अलावा केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट बंद करने की तिथि पहले ही घोषित की जा चुकी है। इसके तहत केदारनाथ और यमुनोत्री धाम के कपाट 21 अक्टूबर, जबकि गंगोत्री धाम के कपाट 20 अक्टूबर को बंद किए जाएंगे। शनिवार को बदरीनाथ के रावल ईश्वरी प्रसाद नंबूदरी की अध्यक्षता में मंदिर परिक्रमा परिसर में धर्माधिकारी भुवन चंद्र ...और अधिक »

चारधाम यात्रा : 21 अक्तूबर को बंद होंगे यमुनोत्री धाम के कपाट - Hindustan हिंदी

विश्व प्रसिद्ध यमुनोत्री धाम के कपाट श्रद्धालुओं के लिए 21 अक्तूबर को भाई दूज त्योहार के दिन स्वाति नक्षत्र लाभ योग लगन में बंद होंगे। इसके बाद शीतकाल के छह माह तक मां यमुना के दर्शन उनके मायके खरसाली में होंगे। यमुनोत्री मंदिर समिति के पूर्व उपाध्यक्ष पवन उनियाल ने बताया कि 21 अक्तूबर को दिन में 2 बजकर 15 मिनट पर स्वाति नक्षत्र में लाभ योग लगन पर मां यमुना के कपाट शीतकाल प्रवास छह माह के लिए बंद कर दिए जाएंगे। जबकि इस दिन कपाट बंद से पहले मां यमुना की विधि-विधान से पूजा अर्चना की जाएगी। उनियाल ने बताया कि भाई दूज के त्यौहार की एक अलग ही विशेषता है। जबकि इस दिन यमुनोत्री धाम में दर्शन करने भाई-बहन को सर्वसिद्धि प्राप्त होती है। उनियाल ने बताया कि इसी ...और अधिक »

VIDEO: जानिए शीतकाल के लिए कब बंद हो रहे हैं चार धाम के कपाट - News18 इंडिया

गंगोत्री, यमनोत्री, ब्रदीनाथ और केदारनाथ चारों धामों के कपाट बंद करने की तिथि घोषित कर दी गई है. विजयदशमी को तय हुई तिथियों के अनुसार भैयादूज के पावन पर्व पर यमुनोत्री धाम के कपाट 21 अक्टूबर को दोपहर 2.15 बजे स्वाति नक्षत्र पर शीतकाल के लिए बंद कर दिये जाएंगे. वहीं गंगोत्री धाम के कपाट अन्नकूट के पावन पर्व पर 20 अक्टूबर को बंद होगें. इसके अलावा बद्रीनाथ धाम के कपाट 19 नंवबर को शीतकाल के लिए बंद कर दिए जाएंगे, जबकि केदारनाथ धाम के कपाट 21 अक्टूबर की सुबह आठ बजे बंद कर दिए जाएंगे. ऐसे ही द्वितीय केदार भगवान मद्महेश्वर के कपाट 22 नंवबर को सुबह 8.20 मिनट शीतकाल के लिए बंद तो तृतीय केदार भगवान तुंगनाथ के कपाट 27 अक्टूबर को सुबह 10.30 बजे बंद कर दिये जाएंगे. Sunil ...और अधिक »

चार धाम- कपाट बंद होने की तिथियां घोषित - Inext Live

GARHWAL: उत्तराखंड के चारों हिमालयी धामों के कपाट बंद होने की तिथियां घोषित कर दी गई हैं। शीतकाल के लिए चार धाम के कपाट बंद होने का सिलिसिला गंगोत्री से शुरू होगा। सबसे पहले गंगोत्री धाम के कपाट ख्0 अक्टूबर को बंद किए जाएंगे। इसके बाद अगले दिन ख्क् अक्टूबर को केदारनाथ और यमुनोत्री के कपाट बंद होंगे। आखिर में क्9 नवंबर को बदरीनाथ धाम के कपाट शीतकाल के लिए बंद किए जाएंगे। - - - - - - - -. कपाट बंद होने का मुहूर्त. बदरीनाथ- 7.ख्8 सायं. केदारनाथ- 8.फ्0 सुबह. यमुनोत्री- ख्.क्भ् दोपहर. गंगोत्री- अभी तय नहीं. पंचांग देखकर निकाला मुहूर्त. विजयदशमी के पावन मौके पर शनिवार को चारों धामों के कपाट बंद करने का मुहूर्त निकाला गया। बदरीनाथ धाम के मुख्य पुजारी और रावल ...और अधिक »

बदरीनाथ के कपाट बंद होने की तिथि विजयदशमी पर होगी घोषित - दैनिक जागरण

विजयदशमी के अवसर पर श्री बदरीनाथ धाम के कपाट बंद होने की तिथि तय की जाएगी। बदरीनाथ(चमोली), [जेएनएन]: श्री बदरीनाथ धाम के कपाट बंद होने की तिथि विजय दशमी पर तय की जाएगी। कार्यक्रम आयोजन के लिए मंदिर समिति ने तैयारी पूरी कर दी है। बदरीनाथ धाम में प्रतिवर्ष विजय दशमी को कपाट बंद करने की तिथि घोषित होती है। इसके लिए मुख्य पुजारी ईश्वर प्रसाद नंबूदरी के नेतृत्व में धर्माधिकारी व वेदपाठ दिन निकालते हैं, जिन्हें अंतिम रूप मुख्य पुजारी देते हैं। धर्माधिकारी भुवन चंद्र उनियाल ने बताया कि सुबह आठ बजे से धार्मिक कार्यक्रम शुरू हो जाएगा। इस दिन 2018 के लिए मेहता, भंडारी व कम्दी थोक के चार लोगों को बारीदार हकहकूकधारियों की जिम्मेदारी तय होगी ...और अधिक »

बाबा केदार के द्वार 21 अक्टूबर और बद्रीनाथ के 19 नव. को होंगे बंद - Samay Live

द्वादश ज्योतिर्लिग भगवान केदारनाथ, तृतीय केदार तुंगनाथ व द्वितीय केदार भगवान मद्महेर धाम के कपाट बंद होने की तिथि विजयदशमी पर्व पर शीतकालीन गद्दीस्थलों में पंचाग गणना के अनुसार घोषित कर दी गई है. भगवान केदारनाथ के कपाट 21 अक्टूबर को सुबह आठ बजे वृष लग्न में शीतकाल के लिए बन्द कर दिए जाएंगे. केदारनाथ के कपाट बन्द होने के बाद चल विग्रह डोली धाम से रवाना होकर विभिन्न यात्रा पड़ावों पर श्रद्धालुओं को आशीष देते हुए 23 अक्टूबर को शीतकालीन गद्दीस्थल ओंकारेर मन्दिर ऊखीमठ में विराजमान होगी. तृतीय केदार के नाम से विख्यात भगवान तुंगनाथ के कपाट 27 अक्टूबर सुबह 10 बजकर 30 मिनट पर वृष लग्न में शीतकाल के लिए बन्द कर दिए जाएंगे. कपाट बन्द होने के बाद भगवान तुंगनाथ की चल ...और अधिक »

बदरीनाथ धाम के कपाट 19 नवंबर को होंगे बंद - Nai Dunia

गढ़वाल। विजयदशमी के पावन पर्व पर बदरीनाथ, केदारनाथ और यमुनोत्री धाम के कपाट बंद करने के शुभ मुहूर्त निकाले गए। इसके तहत बदरीनाथ धाम के कपाट शीतकाल के लिए 19 नवंबर को शाम 7.28 मिनट पर बंद किए जाएंगे। इसके अलावा केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट बंद करने की तिथि पहले ही घोषित की जा चुकी है। इसके तहत केदारनाथ और यमुनोत्री धाम के कपाट 21 अक्टूबर, जबकि गंगोत्री धाम के कपाट 20 अक्टूबर को बंद किए जाएंगे। शनिवार को बदरीनाथ के रावल ईश्वरी प्रसाद नंबूदरी की अध्यक्षता में मंदिर परिक्रमा परिसर में धर्म अधिकारी भुवन चंद्र उनियाल और वेदपाठियों ने पंचांग गणना के बाद तिथि और मुहूर्त की घोषणा की। दूसरी ओर, रुद्रप्र्रयाग जिले में ऊखीमठ स्थित केदारनाथ के शीतकालीन ...और अधिक »

बदरीनाथ के कपाट बंद होने की तिथि विजया दशमी के दिन होगी घोषित - Hindi Khabar

बदरीनाथ। चार धाम में से एक श्री बदरीनाथ धाम के कपाट बंद होने की तिथि विजया दशमी पर तय होगी। हर साल इसी दिन यानी विजयादशमी के दिन ही बदरीनाथ के कपाट बंद होने की तिथि घोषित की जाती है। तिथि की घोषणा के चलते मंदिर में कार्यक्रम का आयोजन भी किया जाएगा। इसके लिए मंदिर समिति ने पूरी तैयारी कर ली है। मुख्य पुजारी ईश्वर प्रसाद नंबूदरी के नेतृत्व में धर्माधिकारी व वेदपाठ दिन निकालते हैं, जिन्हें अंतिम रूप मुख्य पुजारी देते हैं। मंदिर से जुड़े धर्माधिकारी भुवन चंद्र उनियाल ने जानकारी देते हुए कहा कि धार्मिक कार्यक्रम का शुभारंभ सुबह आठ बजे से शुरु हो जाएगा। इस दिन 2018 के लिए मेहता, भंडारी व कम्दी थोक के चार लोगों को बारीदार हकहकूकधारियों की ...और अधिक »