दिल्ली समेत देश के 9 राज्यों के 29 शहरों में है भूकंप का सबसे ज्यादा खतरा! - Zee News हिन्दी

नई दिल्ली: चंडीगढ़, शिमला और दिल्ली समेत देश के 29 शहरों ऐसे हैं, जो भूकंप के सबसे संवेदनशील क्षेत्रों में आते हैं. इन शहरों में कभी भी भूकंप आ सकता है. भूकंप की ये जानकारी नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी ने दी. इन जगहों में से ज्यादातर हिमालय क्षेत्र की हैं. मालूम हो कि हिमालय क्षेत्र दुनिया में सबसे ज्यादा भूकंप के लिए संवेदनशील माना जाता है. इसके अनुसार, दिल्ली सहित पटना, श्रीनगर, कोहिमा, पुडुचेरी, गुवाहाटी, गंगटोक, शिमला, देहरादून, इंफाल, और चंडीगढ़ भूकंपीय जोन चार और पांच के अंतर्गत आते हैं. इन शहरों में कुल तीन करोड़ से अधिक आबादी रहती है. एनसीएस के निदेशक विनीत ...

29 भारतीय शहरों पर जबरदस्त खतरा, दुश्मन एक; निशाने पर करोड़ों लोग - दैनिक जागरण

टेक्टोनिक प्लेटों में जबरदस्त तनाव है। तनाव का असर ये होता है कि जब धरती के अंदर से ऊर्जा बाहर निकलती है,तो वो धरती के सतह पर जबरदस्त तांडव करती है। नई दिल्ली [स्पेशल डेस्क] । धरती के अंदर थोड़ी सी हलचल का असर ये होता है कि हम सभी दहशत में आ जाते हैं। अपने घरों से लोग बाहर निकल कर सुरक्षित जगहों की तलाश करते हैं। धरती में हुए कंपन की जबरदस्त चर्चा होती है। लोग अपने परिचितों की खोज खबर में लग जाते हैं, और कुछ समय के बाद सबकुछ सामान्य हो जाता है। लेकिन हकीकत ये है कि हम हर पल एक मौत के मुहाने पर हैं। ये पता नहीं होता है कि जलजला रूपी वो दुश्मन कितने परिवारों को तबाह करने की फिराक ...

भारत के इन 29 शहरों में भूकंप का सबसे ज़्यादा खतरा - Inext Live

भारत के 29 शहर भूकंप के साये में हैं। नेशनल सेंटर फोर सिसमोलॉजी (एनसीएस) के मुताबिक इन 29 शहरों पर भूकंप का गंभीर ख़तरा है। इन शहरों में दिल्ली समेत नौ राज्यों की राजधानियां भी हैं। ये ज़्यादातर शहर हिमालय ज़ोन से लगे हैं। हिमालय से लगे शहरों का दुनिया के उन शहरों में शुमार है जहां भूकंप का सबसे ज़्यादा ख़तरा रहता है। Related News. भारत के इन 29 शहरों में भूकंप का सबसे ज़्यादा खतरा · चमोली, रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी में भूकंप से सहमे लोग · उत्तरकाशी में भूकंप के झटके · रुद्रप्रयाग में लगेगा भूकंप मापक यंत्र · संसद में पीएम मोदी ने बताया क्‍यों आया था 'भूकंप'. दिल्ली, पटना ...

राजधानी दिल्ली समेत देश की इन 29 जगहों पर मंडरा रहा है भूकंप का खतरा - First India News

राजधानी दिल्ली दिल्ली और 9 राज्यों की राजधानियों समेत देश के 29 शहर और कस्बे गंभीर से बेहद गंभीर भूकंपीय क्षेत्रों में आते हैं। इनमें से ज्यादातर जगहें हिमालय क्षेत्र में हैं, जो दुनिया में भूकंप की दृष्टि से सर्वाधिक सक्रिय क्षेत्रों में से एक है। यह जानकारी राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (एनसीएस) ने दी। खबरों के मुताबिक दिल्ली, पटना (बिहार), श्रीनगर (जम्मू-कश्मीर), कोहिमा (नगालैंड), पुडुचेरी, गुवाहाटी (असम), गंगटोक (सिक्किम), शिमला (हिमाचल प्रदेश), देहरादून (उत्तराखंड), इंफाल (मणिपुर) तथा चंडीगढ़ भूकंपीय क्षेत्र 4 और 5 में आते हैं| इन शहरों की कुल आबादी 3 करोड़ से ...

सावधान! दिल्ली समेत देश के इन 29 शहरों में भूकंप के सबसे ज्यादा खतरे - Zee News हिन्दी

नई दिल्ली: राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (एनसीएस) के अनुसार दिल्ली और 9 राज्यों की राजधानियों सहित देश के 29 शहर और कस्बे गंभीर से बेहद गंभीर भूकंपीय क्षेत्रों में आते हैं. इनमें से अधिकतर जगहें हिमालय क्षेत्र में हैं, जो दुनिया में भूकंप की दृष्टि से सर्वाधिक सक्रिय क्षेत्रों में से एक है. दिल्ली, पटना (बिहार), श्रीनगर (जम्मू-कश्मीर), कोहिमा (नगालैंड), पुडुचेरी, गुवाहाटी (असम), गंगटोक (सिक्किम), शिमला (हिमाचल प्रदेश), देहरादून (उत्तराखंड), इंफाल (मणिपुर) और चंडीगढ़ भूकंपीय क्षेत्र 4 और 5 में आते हैं. इन शहरों की कुल आबादी 3 करोड़ से अधिक है. एनसीएस के निदेशक विनीत गहलोत ...

भूकंप से तबाह हो सकता है देहरादून, NCS की चेतावनी - EenaduIndia Hindi

देहरादून। नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी ने देश में भूकंप की दृष्टि से संवेदनशील 29 शहरों की लिस्ट जारी की है। संवेदनशील शहरों की लिस्ट में दिल्ली, देहरादून, शिमला सहित कुल 9 राज्यों की राजधानियां भी शामिल हैं। भारतीय मानक ब्यूरो ने भूकंप से होने वाली तबाही को ध्यान में रखते लिस्ट के 29 शहरों को 2 से 5 के जोन में विभाजित किया है। जिसमें 2 की जोन में आने वाले क्षेत्र कम संवेदनशील इलाकों में शामिल हैं तो वहीं 5 जोन वाले इलाकों में भूकंप का खतरा सबसे अधिक है। एनसीएस के 5 जोन में मुख्यतः उत्तराखंड, हिमाचल और बिहार के शहर शामिल हैं। इन शहरों को है सबसे ज्यादा खतरा

दिल्ली सहित इन शहरों में हल्का भूकंप भी ला सकता है भारी तबाही - Khabar NonStop

नई दिल्ली। दिल्ली सहित देश के 29 शहर भूकंप संवेदनशील हैं। ऐसे में अगर इन शहरों में भूकंप आता है तो यहां भयंकर तबाही मच सकती है। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केन्द्र ने इस बात की पुष्टि की है। राष्ट्रीय भूकंप केन्द्र का कहना है कि हिमालयी क्षेत्र के अधिकतकर शहर इस लिस्ट में हैं, क्योंकि हिमालयी क्षेत्र भूकंप की दृष्टि से सर्वाधिक सक्रिय क्षेत्रों में से एक है। कौन कौन से शहर शामिल. राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केन्द्र के मुताबिक दिल्ली, पटना, श्रीनगर, कोहिमा, पुडुचेरी, गुवाहटी, गंगटोक, शिमला, देहरादून, इंफाल और चंडीगढ़ भूकंपीय क्षेत्र 4 और 5 में आते हैं। बता दें कि राष्ट्रीय भूकंप ...

रहें सावधान! दिल्ली, चंडीगढ़ समेत इन 29 शहरों में कभी भी आ सकता है भूकंप - पंजाब केसरी

चंडीगढ़ : चंडीगढ़, शिमला और दिल्ली समेत देश के 29 शहरों ऐसे हैं, जो भूकंप के सबसे संवेदनशील क्षेत्रों में आते हैं। इन शहरों में कभी भी भूकंप आ सकता है। भूकंप की ये जानकारी केंद्रीय राष्ट्रीय केन्द्र ने दी। इन जगहों में से ज्यादातर हिमालय क्षेत्र की हैं। मालूम हो कि हिमालय क्षेत्र दुनिया में सबसे ज्यादा भूकंप के लिए संवेदनशील माना जाता है। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के मुताबिक दिल्ली, पटना, श्रीनगर, कोहिमा, गुवाहाटी, गंगटोक, शिमला, देहरादून चंडीगढ़ सिस्मिक जोन 4-5 में आते हैं। भूकंप की संवेदनशीलता की दृष्टि से शहरों का वर्गीकरण करने वाला एनसीएस 'भारतीय मौसम ...

भूकंप के मामले में देश के 29 शहर अति संवेदनशील - News Track

नई दिल्ली : देश के लिए यह खबर चिंताजनक है कि भूकंप को लेकर 9 राज्यों के 29 शहर ज्यादा संवेदनशील है.इसमें देश की राजधानी दिल्ली भी शामिल है. यह खुलासा नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी (एनसीएस) की रिपोर्ट में हुआ है . उल्लेखनीय है कि एनसीएस की रिपोर्ट के अनुसार ये शहर और कस्बे गंभीर से अति गंभीर भूकंपीय क्षेत्रों में शामिल हैं. रिपोर्ट के अनुसार, इन 29 स्थानों में से अधिकांश हिमालय में हैं, जो भूकंप की दृष्टि से दुनिया में सबसे ज्यादा सक्रिय क्षेत्र हैं. रिपोर्ट में दिल्ली, पटना (बिहार), श्रीनगर (जम्मू-कश्मीर), कोहिमा (नगालैंड), पुड्डुचेरी, गुवाहाटी (असम), गंगटोक (सिक्किम), ...

बिहार की राजधानी पटना सहित देश के इन 29 शहरों में है भूकंप का सबसे अधिक खतरा - प्रभात खबर

नयी दिल्ली : नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी ने एक लिस्ट जारी की है जिसमें भूकंप के लिहाज से अतिसंवेदनशील 29 शहरों के नाम हैं. लिस्ट में हिमाचल प्रदेश को सबसे ज्यादा संवेदनशील बताया गया है. इस लिस्ट के यदि अन्य शहरों की बात करें तो देश की राजधानी दिल्ली तथा 9 राज्यों की राजधानियां भी इसमें शामिल हैं. तेज भूकंप से हिला उत्तर भारत, घर छोड़ खुले मैदान की ओर भागे लोग. राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (एनसीएस) के अनुसार भूकंप के लिहाज से ये शहर 'गंभीर' से 'अति गंभीर' की श्रेणी में शमिल हैं. दिल्ली, पटना, श्रीनगर, कोहिमा, पुडुचेरी, गुवाहाटी, गंगटोक, शिमला, देहरादून, इम्फाल और ...

दिल्ली समेत देश के 29 शहर भूकंप की दृष्टि से अतिसंवेदनशील, हिमाचल में सबसे ज्यादा खतरा - Medhaj News

नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी देश के 29 शहरों की लिस्ट जारी की है, ये 29 शहर भूकंप के लिहाज से अतिसंवेदनशील हैं। इन शहरों की लिस्ट में हिमाचल प्रदेश सबसे ज्यादा संवेदनशील है। रिपोर्ट के अनुसार ये शहर व कस्बे गंभीर से भी बहुत गंभीर भूकंपीय क्षेत्रों में आते हैं। ज्यादातक जगह हिमालय की है, जहां भूकंप का अधिक खतरा है। दिल्ली, पटना, श्रीनगर, कोहिमा, पुडुचेरी, गुहावटी, गंगटोक, शिमला. देहरादून, इम्फालऔर चंडीगढ़ सिस्मिक जोन यानी भूकंपीय क्षेत्रों 4 और 5 श्रेणी में रखा गया है। इन सभी शहरों की कुल जनसंख्या 3 करोड़ से ज्यादा है। जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है अगर इन क्षेत्रों ...

दिल्ली समेत देश के इन 29 शहरों में है भूकंप का सबसे ज्यादा खतरा - Nai Dunia

नई दिल्ली। नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी ने देश में भूकंप के लिहाज से अतिसंवेदनशील 29 शहरों की लिस्ट जारी की है। इस लिस्ट में हिमाचल प्रदेश सबसे ज्यादा संवेदनशील बताया गया है। जारी की गई लिस्ट में देश की राजधानी दिल्ली तथा 9 राज्यों की राजधानियां भी शामिल हैं। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (एनसीएस) के अनुसार भूकंप के लिहाज से ये शहर 'गंभीर' से 'अति गंभीर' की श्रेणी में आते हैं। दिल्ली, पटना, श्रीनगर, कोहिमा, पुडुचेरी, गुवाहाटी, गंगटोक, शिमला, देहरादून, इम्फाल और चंडीगढ़ ये सभी सिस्मिक जोन 4 और 5 के तहत आते हैं। इन शहरों की जनसंख्या तीन करोड़ से अधिक की है। एनसीएस ...

दिल्ली समेत देश के 29 शहरों में भूकंप का ज्यादा खतरा - Patrika

राजधानी दिल्ली तथा 9 राज्यों की राजधानियों सहित भारत के 29 शहर भूकंप के लिहाज से अति संवेदनशील क्षेत्र में शामिल है। नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली तथा 9 राज्यों की राजधानियों सहित भारत के 29 शहर भूकंप के लिहाज से काफी संवेदनशील हैं। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के अनुसार ये सभी शहर गंभीर से अति गंभीर के तहत आते हैं। इनमें समूचा पूर्वोत्तर, जम्मू-कश्मीर के कुछ हिस्से, हिमाचल, उत्तराखंड, गुजरात में कच्छ का रण, उ. बिहार व अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह क्षेत्र 5 में आते हैं। बिहार के पटना पर है खतरा ज्यादा. दिल्ली, पटना, श्रीनगर, कोहिमा, पुडुचेरी, गुवाहाटी, गंगटोक, ...

दिल्ली सहित देश के 29 शहरों में भूकंप का खतरा - Sanjeevni Today

नई दिल्ली। दिल्ली सहित देश के 29 शहर और कस्बे ऐसे हैं जिन पर भूकंप बड़ा खतरा मंडरा रहा है। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के अनुसार ये शहर और क़स्बे भूकंपीय क्षेत्रों में आते हैं। इनमें से ज्यादातर जगहें हिमालय क्षेत्र में हैं जो विश्व में भूकंप की दृष्टि से सबसे ज्यादा सक्रिय क्षेत्रों में से एक है। भूकंपीय क्षेत्र 4 और 5 में दिल्ली, पटना (बिहार), श्रीनगर (जम्मू-कश्मीर), कोहिमा (नगालैंड), पुडुचेरी, गुवाहाटी (असम), गंगटोक (सिक्किम), शिमला (हिमाचल प्रदेश), देहरादून (उत्तराखंड), इंफाल (मणिपुर) और चंडीगढ़ आते हैं, जिनकी कुल आबादी तीन करोड़ से ज़्यादा है। यह भी पढ़े: पाक सेना ने ...

चेतावनी: देश के 29 शहर भूंकप की जद में, हिमाचल सबसे ज्यादा संवेदनशील - Hindustan हिंदी

नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी ने देश के 29 शहरों में भूंकप की चेतावनी जारी की है। एनसीएस की रिपोर्ट के मुताबिक भूंकप के लिहाज से देश के 29 शहर बहुत ही संवेदनशील हैं। इन शहरों में अधिकतर हिमाचल में है। इनमें दिल्ली समेत 9 राज्यों की राजधानी है। रिपोर्ट में कई शहर और कस्बों को गंभीर और बेहद गंभीर भूंकपीय क्षेत्रों में रखा गया है। दिल्ली, पटना, श्रीनगर (जम्मू-कश्मीर), कोहिमा (नागालैंड), पुडुचेरी, गुवाहाटी (असम), गैंगटोक (सिक्किम), शिमला (हिमाचल प्रदेश), देहरादून (उत्तराखंड), इंफाल (मणिपुर) और चंडीगढ़ भूकंपीय क्षेत्र 4 और 5 में आते हैं। इन शहरों की आबादी घनी है। एनसीएस के ...

NCS रिपोर्ट से बड़ा खुलासा! दिल्ली समेत देश के इन 29 शहरों में भूकंप का खतरा - Navodaya Times

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी (NCS) की रिपोर्ट के मुताबिक, देश के 29 शहर और कस्बे भूकंप के लिहाज से बेहत गंभीर हैं। इनमें दिल्ली समेत 9 राज्यों की राजधानी शामिल हैं। इनमें से अधिकतर जगहें हिमालय क्षेत्र में हैं, जो दुनिया में भूकंप की दृष्टि से सर्वाधिक सक्रिय क्षेत्रों में से एक है। अब शाहिद अब्बासी बनेंगे पाकिस्तान के अंतरिम प्रधानमंत्री , चलाएंगे सरकार. दिल्ली, पटना (बिहार), श्रीनगर (जम्मू-कश्मीर), कोहिमा (नगालैंड), पुडुचेरी, गुवाहाटी (असम), गंगटोक (सिक्किम), शिमला (हिमाचल प्रदेश), देहरादून (उत्तराखंड), इंफाल (मणिपुर) और चंडीगढ़ भूकंपीय क्षेत्र ...

दिल्ली सहित देश के 29 शहरों पर मंडरा रहा है भूकंप का बड़ा ख़तरा - Khabar IndiaTV

दिल्ली सहित देश के 29 शहर और कस्बे ऐसे हैं जो कभी भी बड़े भूकंप में ज़द में आ सकते हैं। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के अनुसार ये शहर और क़स्बे ''गंभीर'' से ''बेहद गंभीर'' भूकंपीय क्षेत्रों में आते हैं। Written by: India TV News Desk [Published on:31 Jul 2017, 6:52 AM IST]. दिल्ली सहित देश के 29 शहरों पर मंडरा रहा है भूकंप का बड़ा ख़तरा - India. ×. दिल्ली सहित देश के 29 शहर और कस्बे ऐसे हैं जो कभी भी बड़े भूकंप में ज़द में आ सकते हैं। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के अनुसार ये शहर और क़स्बे ''गंभीर'' से ''बेहद गंभीर'' भूकंपीय क्षेत्रों में आते हैं। इनमें से अधिकतर जगहें हिमालय क्षेत्र में हैं जो विश्व ...

भूकंप के लिहाज से दिल्ली समेत 9 राज्यों के 29 सिटी ज्यादा सेंसेटिव - दैनिक भास्कर

इन 29 जगहों में से ज्यादातर हिमालय में हैं, जो भूकंप के लिहाज से दुनिया में सबसे ज्यादा सक्रिय क्षेत्र हैं। भूकंप के लिहाज से दिल्ली समेत 9 राज्यों के 29 सिटी ज्यादा सेंसेटिव. नई दिल्ली. नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी (एनसीएस) की रिपोर्ट के मुताबिक देश के 29 शहर और कस्बे भूकंप के लिहाज से अति संवेदनशील हैं। इनमें दिल्ली और 9 राज्यों की राजधानी भी शामिल हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि ये शहर और कस्बे गंभीर से बहुत गंभीर भूकंपीय क्षेत्रों में आते हैं। रिपोर्ट के अनुसार, इन 29 जगहों में से ज्यादातर हिमालय में हैं, जो भूकंप के लिहाज से दुनिया में सबसे ज्यादा सक्रिय ...

भारत के 29 शहर भूकंप के लिहाज से सर्वाधिक खतरनाक - News State

नेशनल सेंटर फॉर सेस्मोलॉजी (एनसीएस) ने भारत की राजधानी दिल्ली समेत देश के 29 शहरों को भूकंप आने की सबसे ज्यादा संभावना वाले शहर के रूप में घोषित किया है। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (एनसीएस) के अनुसार भूकंप के लिहाज से ये शहर 'गंभीर' से 'अति गंभीर' की श्रेणी में आते हैं। दिल्ली, पटना, श्रीनगर, कोहिमा, पुडुचेरी, गुवाहाटी, गंगटोक, शिमला, देहरादून, इम्फाल और चंडीगढ़ सिस्मिक जोन 4 और 5 के तहत आते हैं। इन शहरों की जनसंख्या तीन करोड़ से अधिक है। और पढ़े: आतंकी फंडिंग मामले में NIA ने फिर मारा कश्मीर में छापा, 7 नेताओं की पहले हो चुकी है गिरफ्तारी. एनसीएस के निदेशक ...