This RSS feed URL is deprecated

दिल्ली समेत देश के 9 राज्यों के 29 शहरों में है भूकंप का सबसे ज्यादा खतरा! - Zee News हिन्दी

चंडीगढ़, शिमला और दिल्ली समेत देश के 29 शहरों ऐसे हैं, जो भूकंप के सबसे संवेदनशील क्षेत्रों में आते हैं. इन शहरों में कभी भी भूकंप आ सकता है. भूकंप की ये जानकारी नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी ने दी. इन जगहों में से ज्यादातर हिमालय क्षेत्र की हैं. मालूम हो कि हिमालय क्षेत्र दुनिया में सबसे ज्यादा भूकंप के लिए संवेदनशील माना जाता है. इसके अनुसार, दिल्ली सहित पटना, श्रीनगर, कोहिमा, पुडुचेरी, गुवाहाटी, गंगटोक, शिमला, देहरादून, इंफाल, और चंडीगढ़ भूकंपीय जोन चार और पांच के अंतर्गत आते हैं. इन शहरों में कुल तीन करोड़ से अधिक आबादी रहती है. ज़ी न्यूज़ डेस्क ज़ी न्यूज़ डेस्क | Updated: Jul 31, 2017, 09:01 PM IST. कमेंट देखें |. दिल्ली समेत देश के 9 राज्यों के 29 शहरों में है ...और अधिक »

दिल्ली, चंडीगढ़ समेत देश के 29 शहरों में भूकंप का सबसे ज़्यादा ख़तरा - NDTV Khabar

राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (एनसीएस) के अनुसार दिल्ली और नौ राज्यों की राजधानियों सहित देश के 29 शहर और कस्बे गंभीर से बेहद गंभीर भूकंपीय क्षेत्रों में आते हैं. भाषा, Updated: 31 जुलाई, 2017 1:45 AM. 357 Shares. ईमेल करें. टिप्पणियां. दिल्ली, चंडीगढ़ समेत देश के 29 शहरों में भूकंप का सबसे ज़्यादा ख़तरा. दिल्ली सहित देश के 29 शहर और कस्बे गंभीर से बेहद गंभीर भूकंपीय क्षेत्रों में आते हैं. खास बातें. भूकंप की दृष्टि से क्षेत्र-5 सबसे ज्यादा सक्रिय होता है; गुजरात में कच्छ का रण, अंडमान-निकोबार क्षेत्र-5 में; दिल्ली, पटना,श्रीनगर, चंडीगढ़ भूकंपीय क्षेत्र 4 और 5 में. नई दिल्ली: राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (एनसीएस) के अनुसार दिल्ली और नौ राज्यों की राजधानियों सहित ...और अधिक »

भारत के इन 29 शहरों में भूकंप का सबसे ज़्यादा खतरा - Inext Live

भारत के 29 शहर भूकंप के साये में हैं। नेशनल सेंटर फोर सिसमोलॉजी (एनसीएस) के मुताबिक इन 29 शहरों पर भूकंप का गंभीर ख़तरा है। इन शहरों में दिल्ली समेत नौ राज्यों की राजधानियां भी हैं। ये ज़्यादातर शहर हिमालय ज़ोन से लगे हैं। हिमालय से लगे शहरों का दुनिया के उन शहरों में शुमार है जहां भूकंप का सबसे ज़्यादा ख़तरा रहता है। Related News. भूकंप की चेतावनी देंगे 50 अर्ली वार्निग सिस्टम · दिल्ली-NCR समेत पूरे उत्तर भारत में भूकंप के झटके, दोबारा भी आ सकते हैं ऐसे रहें एलर्ट · भूकंप से फिर थर्राया उत्तराखंड · अक्‍सर भूकंप के बाद आते हैं बार-बार झटके, ऐसे में इन 10 बातों का ध्‍यान जरूर रखें · भूकंप की निगरानी के लिए कुमाऊं में भी लगेंगे अर्थक्वेक सेंसर. दिल्ली, पटना, श्रीनगर, कोहिमा ...और अधिक »

29 भारतीय शहरों पर जबरदस्त खतरा, दुश्मन एक; निशाने पर करोड़ों लोग - दैनिक जागरण

29 भारतीय शहरों पर जबरदस्त खतरा, दुश्मन एक; निशाने पर करोड़ों लोग टेक्टोनिक प्लेटों में जबरदस्त तनाव है। तनाव का असर ये होता है कि जब धरती के अंदर से ऊर्जा बाहर निकलती है,तो वो धरती के सतह पर जबरदस्त तांडव करती है। नई दिल्ली [स्पेशल डेस्क] । धरती के अंदर थोड़ी सी हलचल का असर ये होता है कि हम सभी दहशत में आ जाते हैं। अपने घरों से लोग बाहर निकल कर सुरक्षित जगहों की तलाश करते हैं। धरती में हुए कंपन की जबरदस्त चर्चा होती है। लोग अपने परिचितों की खोज खबर में लग जाते हैं, और कुछ समय के बाद सबकुछ सामान्य हो जाता है। लेकिन हकीकत ये है कि हम हर पल एक मौत के मुहाने पर हैं। ये पता नहीं होता है कि जलजला रूपी वो दुश्मन कितने परिवारों को तबाह करने की फिराक में है। खतरे में ...और अधिक »

चेतावनी: देश के 29 शहर भूंकप की जद में, हिमाचल सबसे ज्यादा संवेदनशील - Hindustan हिंदी

नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी ने देश के 29 शहरों में भूंकप की चेतावनी जारी की है। एनसीएस की रिपोर्ट के मुताबिक भूंकप के लिहाज से देश के 29 शहर बहुत ही संवेदनशील हैं। इन शहरों में अधिकतर हिमाचल में है। इनमें दिल्ली समेत 9 राज्यों की राजधानी है। रिपोर्ट में कई शहर और कस्बों को गंभीर और बेहद गंभीर भूंकपीय क्षेत्रों में रखा गया है। दिल्ली, पटना, श्रीनगर (जम्मू-कश्मीर), कोहिमा (नागालैंड), पुडुचेरी, गुवाहाटी (असम), गैंगटोक (सिक्किम), शिमला (हिमाचल प्रदेश), देहरादून (उत्तराखंड), इंफाल (मणिपुर) और चंडीगढ़ भूकंपीय क्षेत्र 4 और 5 में आते हैं। इन शहरों की आबादी घनी है। एनसीएस के निदेशक विनीत गहलोत ने बताया कि भारतीय मानक ब्यूरो (बीआईएस) ने भूकंप के रिकॉर्ड, टेक्टॉनिक ...और अधिक »

राजधानी दिल्ली समेत देश की इन 29 जगहों पर मंडरा रहा है भूकंप का खतरा - First India News

राजधानी दिल्ली दिल्ली और 9 राज्यों की राजधानियों समेत देश के 29 शहर और कस्बे गंभीर से बेहद गंभीर भूकंपीय क्षेत्रों में आते हैं। इनमें से ज्यादातर जगहें हिमालय क्षेत्र में हैं, जो दुनिया में भूकंप की दृष्टि से सर्वाधिक सक्रिय क्षेत्रों में से एक है। यह जानकारी राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (एनसीएस) ने दी। खबरों के मुताबिक दिल्ली, पटना (बिहार), श्रीनगर (जम्मू-कश्मीर), कोहिमा (नगालैंड), पुडुचेरी, गुवाहाटी (असम), गंगटोक (सिक्किम), शिमला (हिमाचल प्रदेश), देहरादून (उत्तराखंड), इंफाल (मणिपुर) तथा चंडीगढ़ भूकंपीय क्षेत्र 4 और 5 में आते हैं| इन शहरों की कुल आबादी 3 करोड़ से ज्यादा है। एनसीएस के निदेशक विनीत गहलोत ने बताया कि भारतीय मानक ब्यूरो (बीआईएस) ने भूकंप के ...और अधिक »

भारत के इन शहरों में बना रहता है भूकंप का डर - दैनिक जागरण

भारत के इन शहरों में बना रहता है भूकंप का डर राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (एनसीएस) के अनुसार भूकंप के लिहाज से ये शहर 'गंभीर' से 'अति गंभीर' की श्रेणी में आते हैं। नई दिल्ली, प्रेट्र। भारत के 29 शहर भूकंप के लिहाज से अति संवेदनशील हैं। इसमें देश की राजधानी दिल्ली तथा 9 राज्यों की राजधानियां भी शामिल हैं। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (एनसीएस) के अनुसार भूकंप के लिहाज से ये शहर 'गंभीर' से 'अति गंभीर' की श्रेणी में आते हैं। दिल्ली, पटना, श्रीनगर, कोहिमा, पुडुचेरी, गुवाहाटी, गंगटोक, शिमला, देहरादून, इम्फाल और चंडीगढ़ ये सभी सिस्मिक जोन 4 और 5 के तहत आते हैं। इन शहरों की जनसंख्या तीन करोड़ से अधिक की है। एनसीएस के निदेशक विनीत गौहलात के अनुसार भूकंप के रिकार्ड ...और अधिक »

NCS रिपोर्ट से बड़ा खुलासा! दिल्ली समेत देश के इन 29 शहरों में भूकंप का खतरा - Navodaya Times

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी (NCS) की रिपोर्ट के मुताबिक, देश के 29 शहर और कस्बे भूकंप के लिहाज से बेहत गंभीर हैं। इनमें दिल्ली समेत 9 राज्यों की राजधानी शामिल हैं। इनमें से अधिकतर जगहें हिमालय क्षेत्र में हैं, जो दुनिया में भूकंप की दृष्टि से सर्वाधिक सक्रिय क्षेत्रों में से एक है। अब शाहिद अब्बासी बनेंगे पाकिस्तान के अंतरिम प्रधानमंत्री , चलाएंगे सरकार. दिल्ली, पटना (बिहार), श्रीनगर (जम्मू-कश्मीर), कोहिमा (नगालैंड), पुडुचेरी, गुवाहाटी (असम), गंगटोक (सिक्किम), शिमला (हिमाचल प्रदेश), देहरादून (उत्तराखंड), इंफाल (मणिपुर) और चंडीगढ़ भूकंपीय क्षेत्र 4 और 5 में आते हैं। इन शहरों की कुल आबादी तीन करोड़ से अधिक है। एनसीएस के निदेशक विनीत गहलोत ...और अधिक »

दिल्ली समेत देश के 29 शहरों में भूकंप का ज्यादा खतरा - Patrika

देश की राजधानी दिल्ली तथा 9 राज्यों की राजधानियों सहित भारत के 29 शहर भूकंप के लिहाज से काफी संवेदनशील हैं। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के अनुसार ये सभी शहर 'गंभीर' से 'अति गंभीर' के तहत आते हैं. नई दिल्ली. देश की राजधानी दिल्ली तथा 9 राज्यों की राजधानियों सहित भारत के 29 शहर भूकंप के लिहाज से काफी संवेदनशील हैं। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के अनुसार ये सभी शहर 'गंभीर' से 'अति गंभीर' के तहत आते हैं। इनमें समूचा पूर्वोत्तर, जम्मू-कश्मीर के कुछ हिस्से, हिमाचल, उत्तराखंड, गुजरात में कच्छ का रण, उ. बिहार व अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह क्षेत्र 5 में आते हैं। बिहार के पटना पर है खतरा ज्यादा दिल्ली, पटना, श्रीनगर, कोहिमा, पुडुचेरी, गुवाहाटी, गंगटोक, शिमला ...और अधिक »

भूकंप के लिहाज से दिल्ली समेत 9 राज्यों के 29 शहर-कस्बे अति संवेदनशील: रिपोर्ट - दैनिक भास्कर

नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी की रिपोर्ट के मुताबिक भूकंप के लिहाज से देश के 29 शहर और कस्बे अति संवेदनशील हैं। Replay. Prev; |; View Again. भूकंप के लिहाज से दिल्ली समेत 9 राज्यों के 29 शहर-कस्बे अति संवेदनशील: +1और स्लाइड देखें. NCS की रिपोर्ट में देश के 29 शहरों और कस्बों को गंभीर से बहुत गंभीर भूकंपीय क्षेत्रों (seismic zones) में रखा गया है। - फाइल. नई दिल्ली. नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी (NCS) की रिपोर्ट के मुताबिक देश के 29 शहर और कस्बे भूकंप के लिहाज से अति संवेदनशील हैं। इनमें दिल्ली और 9 राज्यों की कैपिटल भी शामिल हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि ये शहर और कस्बे गंभीर से बहुत गंभीर भूकंपीय क्षेत्रों (seismic zones) में आते हैं। ज्यादातर शहर हिमालय क्षेत्र के हैं ...और अधिक »