जेईई: सुप्रीम कोर्ट ने ग्रेस मार्क्स देने पर केंद्र से जवाब तलब किया - दैनिक भास्कर

नई दिल्ली | जेईईमें अब तक के सबसे ज्यादा 18 ग्रेस मार्क्स देने को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई है। कोर्ट ने इस पर... नई दिल्ली | जेईईमें अब तक के सबसे ज्यादा 18 ग्रेस मार्क्स देने को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई है। कोर्ट ने इस पर मानव संसाधन विकास मंत्रालय और आईआईटी मद्रास को नोटिस जारी कर जवाब मांगा। हालांकि, बेंच ने काउंसिलिंग पर रोक लगाने से इनकार कर दिया। अगली सुनवाई 7 जुलाई को होगी। आईआईटी मद्रास द्वारा आयोजित परीक्षा में बैठे सभी स्टूडेंट्स को कुछ गलत सवालों के बदले ग्रेस मार्क्स दिए गए थे। तमिलनाडु के एक छात्र ने याचिका में कहा कि उन छात्रों को भी ग्रेस ...

IIT-JEE एग्जाम में क्यों दिए ग्रेस नंबर : SC - नवभारत टाइम्स

सुप्रीम कोर्ट ने पूछा है कि आईआईटी के पेपर देने वाले सभी छात्रों को ग्रेस नंबर क्यों दिए गए। उल्लेखनीय है कि ग्रेस नंबर के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की गई थी जिसमें कहा गया है कि IIT ने उन छात्रों को भी ग्रेस अंक दिए हैं, जिन्होंने गलत सवालों को हल करने का प्रयास ही नहीं किया, जबकि ग्रेस अंक सिर्फ उन छात्रों को मिलने चाहिए, जिन्होंने इन गलत सवालों को छोड़ने की जगह हल करने की कोशिश की। याचिका में कहा गया कि इन ग्रेस अंकों से मेरिट लिस्ट प्रभावित हुई है और बहुत छात्रों पर असर पड़ा है। इसलिए दोबारा से मेरिट लिस्ट तैयार की जाए। गौरतलब है कि आईआईटी ने ...

आईआईटी के ग्रेस मार्क्स देने पर छात्र ने दायर की सुप्रीम कोर्ट में याचिका - News18 इंडिया

आईआईटी के गलत सवाल पर सभी छात्रों को ग्रेस मार्क्स देने के फैसले को एक छात्र से सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है. तमिलनाडु के वेल्लोर इलाके के एक छात्र ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करके दोबारा मैरिट लिस्ट तैयार करने की मांग की है. छात्र का कहना है कि आईआईटी ने उन छात्रों को भी गलत सवाल पर ग्रेस मार्क्स दिए हैं जिन्होंने सवाल को हल करने की कोशिश ही नहीं की. छात्र के अनुसार आईआईटी द्वारा दिए गए इस ग्रेस मार्क्स से मैरिट लिस्ट प्रभावित हुई है. गौरतलब है कि प्रवेश परीक्षा देने वाले सभी छात्रों को आईआईटी ने सात नंबर ज्यादा दिए थे. सवालों में गलती की वजह से 3 ...

न्यायालय ने आईआईटी जेईई रैंक सूची निरस्त करने के अनुरोध पर केन्द्र से जवाब मांगा - नवभारत टाइम्स

(यह आर्टिकल एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड हुआ है। इसे नवभारतटाइम्स.कॉम की टीम ने एडिट नहीं किया है।) भाषा | Updated: Jun 30, 2017, 07:35PM IST. नयी दिल्ली, 30 जून : भाषा : उच्चतम न्यायालय ने आज आईआईटी संयुक्त प्रवेश परीक्षा 2017 रैंक सूची निरस्त करने की मांग वाली याचिका पर केन्द्र का जवाब मांगा। मानव संसाधन विकास मंत्रालय और भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान :मद्रास: को भी नोटिस जारी करने वाली न्यायमूर्त िए एम सप्रे और न्यायमूर्त िएस के कौल की अवकाशपीठ ने कल से शुरू हुई काउंसलिंग पर रोक नहीं लगाई। आईआईटी मद्रास ने इस साल आईआईटी जेईई परीक्षा का आयोजन किया था। शीर्ष अदालत ने ...

IIT-JEE में अतिरिक्त मार्क्स देने पर SC ने एचआरडी से मांगा जवाब - News State

सुप्रीम कोर्ट ने एडवांस कोर्स के लिए आईआईटी-संयुक्त प्रवेश परीक्षा (IIT-JEE) में बैठने वाले छात्रों को अतिरिक्त सात अंक दिए जाने को चुनौती देने वाली याचिका पर शुक्रवार को केंद्र से जवाब मांगा। ये अतिरिक्त अंक हिंदी भाषा के प्रश्न-पत्र में प्रिंटिंग गड़बड़ी के लिए दिए गए थे। इस मामले में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय को नोटिस जारी करते हुए सुप्रीम कोर्ट के जज अभय मनोहर सप्रे और जज संजय किशन कौल की अवकाश पीठ ने शुरू हुई काउंसलिंग में दखल देने से इनकार कर दिया। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में आईआईटी-मद्रास को भी नोटिस जारी किया, जिसने 2017 के लिए परीक्षा का ...

उठा IIT की ग्रेस मार्किंग पर सवाल, परीक्षा रद्द करने की मांग - EenaduIndia Hindi

नई दिल्ली। इंजीनियरिंग में प्रवेश के लिए इस बार आयोजित संयुक्त प्रवेश परीक्षा की रैंकिंग को रद्द करवाने के लिए दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने मानव संसाधन विकास मंत्रायल और संयुक्त प्रवेश परीक्षा आयोजन समिति को नोटिस जारी किया है। तमिलनाडु के वेल्लोर इलाके के एक छात्र ने आईआईटी मद्रास के उस फैसले को चुनौती दी है जिसमें रसायन शास्त्र के एक गलत सवाल के लिए तीन ग्रेस अंक जबकि गणित के एक गलत सवाल के लिए चार ग्रेस अंक दिए गए हैं। याचिका में कहा गया है कि आईआईटी ग्रेस नंबर को खत्म कर मेरिट लिस्ट को दोबारा जारी करें, क्योंकि इस फैसले से उन छात्रों ...

एचआरडी मंत्रालय और जेईई आयोजन समिति को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस - Bharat Khabar

नई दिल्ली। इंजीनियरिंग में प्रवेश के लिए इस बार आयोजित संयुक्त प्रवेश परीक्षा की रैंकिंग को रद्द करवाने के लिए दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने मानव संसाधन विकास मंत्रालय और संयुक्त प्रवेश परीक्षा आयोजन समिति को नोटिस जारी किया है। याचिका में एक छात्र ने आईआईटी के उस फैसले को चुनौती दी गई है जिसमें दो गलत सवाल के लिए सभी छात्रों को सात ग्रेस अंक देने का फैसला किया गया है। याचिका में कहा गया है कि आईआईटी ग्रेस नंबर को खत्म कर मेरिट लिस्ट को दोबारा जारी करें क्योंकि इस फैसले से उन छात्रों को भी लाभ मिलेगा, जिन्होंने उन दो गलत सवालों को हल ...

IIT ने गलत सवालों पर दिए ग्रेस नंबर, याचिका में फिर से मेरिट लिस्‍ट जारी करने की मांग - NDTV Khabar

इस पर तमिलनाडु के वेल्लोर इलाके के एक छात्र ने सुप्रीम कोर्ट में ग्रेस अंक को चुनौती दी है और मांग की है कि मेरिट लिस्ट फिर से तैयार की जाए. आशीष कुमार भार्गव की रिपोर्ट, अंतिम अपडेट: शुक्रवार जून 30, 2017 12:06 PM IST. Share. ईमेल करें. टिप्पणियां. IIT ने गलत सवालों पर दिए ग्रेस नंबर, याचिका में फिर से मेरिट लिस्‍ट जारी. इस मामले की अगली सुनवाई सात जुलाई को होगी. खास बातें. IIT में दाखिले के लिए JEE परीक्षा का मामला; तमिलनाडु के वेल्लोर इलाके के छात्र ने कोर्ट में ग्रेस अंक को चुनौती दी; फिर से मेरिट लिस्ट तैयार करने की मांग. नई दिल्ली: IIT ने कैमिस्ट्री के एक गलत सवाल के लिए 3 ...